भारत

तेलंगाना: कथित भूमि विवाद के चलते महिला तहसीलदार की उनके ऑफिस में ज़िंदा जलाकर हत्या

तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद का मामला. महिला तहसीलदार को जलाने के दौरान कथित आरोपी भी जला. पुलिस ने आरोपी के खिलाफ केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है.

महिला तहसीलदार विजया रेड्डी. (फोटो साभार: फेसबुक)

महिला तहसीलदार विजया रेड्डी. (फोटो साभार: फेसबुक)

हैदराबाद: तेलंगाना में सोमवार को हैदराबाद के अब्दुल्लापुरमेट में एक महिला तहसीलदार को कथित तौर पर भूमि विवाद के चलते उनके कार्यालय में दिनदहाड़े एक अज्ञात व्यक्ति ने जिंदा जला दिया. पुलिस और राजस्व अधिकारियों ने यह जानकारी दी.

अब्दुल्लापुरमेट हैदराबाद के उपनगर हयातनगर का हिस्सा है.

राजस्व विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया विजया रेड्डी (30) की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि उन्हें बचाने की कोशिश में कार्यालय के दो अन्य कर्मचारी झुलस गए. साथ ही उन्होंने बताया कि हमलावर भी जल गया है.

घटना दोपहर करीब 1:30 बजे हुई, जब विजया अपने कार्यालय में अकेली थीं. के. सुरेश नाम के एक स्थानीय व्यक्ति ने कथित रूप से वहां प्रवेश किया और उनके ऊपर पेट्रोल डालकर आग लगा दी. अधिकारी ने बताया कि शुरुआती जांच में पता चला है कि घटना की वजह भूमि विवाद है.

राचकोंडा के पुलिस आयुक्त महेश एम. भागवत ने संवाददाताओं को बताया कि तीनों घायलों को पास के अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

उन्होंने बताया, ‘किसी सरकारी कार्यालय में ऐसी घटना पहली बार हुई है. जिस व्यक्ति ने इस वारदात को अंजाम दिया, वह भी जल गया है और अस्पताल में उसका इलाज चल रहा है. वह हमारी हिरासत में है. वह करीब 50-60 प्रतिशत जल गया है.’

शुरुआती जांच के आधार पर उन्होंने बताया, ‘ऐसा लगता है कि किसी जमीन विवाद के चलते हमला हुआ है. उसने ऐसा क्यों किया या किसी ने उसे ऐसा करने के लिए उकसाया, ये जांच के दौरान पता चलेगा.’

दिनदहाड़े हुई इस घटना से तहसीलदार कार्यालय में कोहराम मच गया. घटना के समय विजया अपने कार्यालय में अकेली थीं. एक चश्मदीद ने बताया कि उनके कार्यालय से चीखने की आवाज आई और एक कर्मचारी दौड़कर कार्यालय में गया और उन्हें आग की लपटों से घिरा पाया.

बाद में तहसील के कर्मचारियों ने घटना की जांच और न्याय के लिए विरोध प्रदर्शन किया जबकि तहसीलदार के शव को पोस्टमार्टन के लिए ले जाया गया.

तेलंगाना शिक्षा मंत्री पी. सविता इंद्रा रेड्डी और अन्य वरिष्ठ अधिकारी मौके पर पहुंचे. घटना की निंदा करते हुए मंत्री ने कहा कि घटना के कारणों का पता लगाया जा रहा है.

तेलंगाना टुडे से बातचीत में पुलिस आयुक्त महेश एम. भागवत ने कहा, ‘आरोपी के. सुरेश के खिलाफ हत्या और हत्या के प्रयास के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया गया है.’

उन्होंने बताया, ‘आरोपी ने दावा किया कि आउटर रिंग रोड पर स्थित बचाराम गांव में उसकी सात एकड़ जमीन है. इस भूमि को लेकर विवाद है और हाईकोर्ट में मामला चल रहा है. वह इसी संबंध में तहसीलदार कार्यालय गया था.’

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)