भारत

तेलंगाना: दो यात्री ट्रेनों की आपस में टक्कर, कम से कम 30 लोग घायल

हैदराबाद के काचेगुडा रेलवे स्टेशन पर दो ट्रेनों के बीच यह टक्कर तब हुई जब प्लेटफॉर्म नंबर पांच पर आने वाली हुंड्री एक्सप्रेस प्लेटफॉर्म नंबर दो पर आ गई, जिस पर एमएमटीएस ट्रेन खड़ी थी.

Hyderabad: Onlookers gather at the accident site where a Multi-Modal Transport System (MMTS) train collided with a passenger train between Kacheguda and Malakpet stations, in Hyderabad, Monday, Nov. 11, 2019. (PTI Photo) (PTI11_11_2019_000029B)

हैदराबाद के काचेगुडा रेलवे स्टेशन पर ट्रेनों की टक्कर के बाद का दृश्य. (फोटो: पीटीआई)

नई दिल्ली: हैदराबाद के काचेगुडा रेलवे स्टेशन पर सोमवार सुबह दो यात्री ट्रेनों की टक्कर में कम से कम 30 लोग घायल हो गए. यह टक्कर काचेगुड़ा और मलाकपेट स्टेशनों के बीच सुबह लगभग 10.30 बजे हुई.

यह टक्कर उस वक्त हुई जब एमएमटीएस ट्रेन को प्लेटफॉर्म नंबर दो से रवाना हो रही थी और हुंड्री एक्सप्रेस ट्रेन भी उसी प्लेटफॉर्म पर आ गई जबकि उसे प्लेटफॉर्म नंबर पांच पर आना था.

इंडियन एक्सप्रेस के अनुसार, लिंगामपल्ली की ओर जाने वाली फलकनुमा एमएमटीएस और सिकंदराबाद जाने वाली हुंड्री एक्सप्रेस के बीच हुई टक्कर से लिंगामपल्ली-फलकनुमा एमएमटीएस यात्री ट्रेन के तीन डिब्बे पलट गए, जिसमें कम से कम 30 लोग घायल हो गए.

दरअसल, एमएमटीएस का लोको पायलट चंद्रशेखर इंजन में फंस गया था. घायल लोको पायलट को बचाने के लिए आपात राहत और एनडीआरएफ की टीमें मौके पर पहुंची.

प्राथमिक जांच से पता लाने की कोशिश की जा रही है कि कहीं यह कोई तकनीकी गड़बड़ी तो नहीं थी. घायलों को ओसमानिया जनरल अस्पताल ले जाया गया.

इंडिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक, इस दुर्घटना में एमएमटीएस  के छह कोच और हुंड्री एक्सप्रेस के तीन कोच पटरी से उतर गए.

अधिकारियों का कहना है कि सिग्नल सिस्टम में कुछ दिक्कत आ गई थी. इसकी वजह से लोकल ट्रेन का ट्रैक बदल गया और वह स्टेशन पर खड़ी ट्रेन से टकरा गई. ट्रेन की स्पीड धीमी होने की वजह से ज्यादा नुकसान नहीं हुआ.

प्राथमिक जांच से पता चला है कि एमएमटीएस ट्रेन का ड्राइवर सिग्नल का पता नहीं लगा पाया. एमएमटीएस ट्रेन का ड्राइवर अभी भी फंसा हुआ है और उसे बाहर निकालने के प्रयास किए जा रहे हैं.

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने ट्वीट कर कहा, ‘हैदराबाद में ट्रेन दुर्घटना की दुखद खबर मिली. राहत एवं बचाव अभियान के लिए प्रशासन को त्वरित निर्देश दिए गए. रेलवे प्रशासन सहायता उपलब्ध करा रहा है और घायलों के इलाज के इंतजाम किए गए हैं.’

साउथ सेंट्रल रेलवे ने घटना की जांच के आदेश दे दिए हैं.