कैंपस

कश्मीर से जुड़ी पोस्ट शेयर करने को लेकर एएमयू की प्रोफेसर समेत दो पर केस दर्ज

हिंदू महासभा के नेता द्वारा दर्ज कराई गई शिकायत के आधार पर अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय की असिस्टेंट प्रोफेसर और उनके पति के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई हैं.

Aligarh Muslim University India Visit Online 1

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी.

आगराः कश्मीर की स्थिति पर कथित तौर पर आपत्तिजनक फेसबुक पोस्ट साझा करने के लिए अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (एएमयू) की असिस्टेंट प्रोफेसर और उनके पति पर मुकदमा दर्ज किया गया.

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, हिंदू महासभा के नेता अशोक पांडेय द्वारा दर्ज कराई गई शिकायत के आधार पर एफआईआर दर्ज की गई. हिंदू महासभा के नेता का कहना है कि दंपति की पोस्ट बहुत अनुचित थी.

वहीं, अलीगढ़ पुलिस का कहना है कि वे मामले की जांच कर रहे हैं और आरोपों में दम होने पर ही वे चार्जशीट दाखिल करेंगे. असिस्टेंट प्रोफेसर हुमा प्रवीण (34) और उनके पति नईम शौकत के खिलाफ आईपीसी की धारा 153ए और 505 के तहत मामला दर्ज किया गया है.

शिकायतकर्ता अशोक पांडेय ने 14 नवंबर को दर्ज कराई गई अपनी शिकायत में  हुमा प्रवीण और शौकत की पोस्ट का उल्लेख किया.

शिकायत में हुमा प्रवीण की फेसबुक पोस्ट का उल्लेख किया गया. पोस्ट में कहा गया था, ‘सच में संपर्क टूट जाना कितना खतरनाक और दुखद होता है? चाहे चंद्रयान हो या कश्मीर.’

वहीं, शौकत की फेसबुक पोस्ट में कहा गया, ‘आपके दिमाग में शौचालय और कश्मीर मुठभेड़ स्थल बना हुआ है.’

एफआईआर में कहा गया है कि ये पोस्ट कश्मीर में आतंकवाद को बढ़ावा दे रही हैं और वहां तैनात सैन्यकर्मियों का मनोबल तोड़ रही है.

शिकायत में कहा गया कि ये पोस्ट देश की एकता और अखंडता के लिए चुनौती हैं. हुमा प्रवीण ने बताया कि वह एफआईआर दर्ज होने को लेकर हैरान हैं.

उन्होंने कहा, ‘मेरा दिल पसीज गया था क्योंकि मैं घाटी में बंदी के दौरान अपने पति से संपर्क नहीं कर पाई थी. मैंने कुछ अनुचित नहीं लिखा. मैंने सिर्फ दूसरों द्वारा लिखी पोस्ट ही शेयर की थी. मेरी एक छोटी बेटी है और अपने परिवार से संपर्क नहीं हो पाने की भावना को शब्दों में बयान नहीं किया जा सकता.’

अलीगढ़ के एसएसपी आकाश कुल्हाड़ी ने कहा, ‘एक स्थानीय निवासी की शिकायत के आधार पर एफआईआर दर्ज की गई और विस्तृत जांच के बाद ही चार्जशीट दाखिल की जाएगी.’