भारत

महाराष्ट्र: एनसीपी-शिवसेना ने कहा- सरकार बनाने के लिए भाजपा के पास संख्याबल नहीं

मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस पर हमला बोलते हुए शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने कहा कि मुझे लगता है कि अब से चुनावों की घोषणा नहीं होनी चाहिए और ‘मैं वापस लौटूंगा’ कहने कि बजाय कुछ लोगों को फेविकोल का इस्तेमाल करके कुर्सी से चिपक जाना चाहिए.

संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस में शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे और एनसीपी प्रमुख शरद पवार. (फोटो: पीटीआई)

संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस में शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे और एनसीपी प्रमुख शरद पवार. (फोटो: पीटीआई)

मुंबई: राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के प्रमुख शरद पवार ने शनिवार को भाजपा के साथ गठबंधन करने के अपने भतीजे अजीत पवार के फैसले को अनुशासनहीनता बताया और कहा कि देवेंद्र फडणवीस सरकार विधानसभा में विश्वासमत नहीं हासिल कर पाएगी.

हिंदुस्तान टाइम्स के अनुसार, पवार ने कहा कि 10 से 11 एनसीपी विधायक अजीत पवार के साथ गए हैं, जिन्हें उपमुख्यमंत्री के रूप में शपथ दिलाई गई थी, लेकिन इससे विश्वास मत में मदद नहीं मिलेगी.

शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के साथ संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए शरद पवार ने कहा, ‘अजीत पवार का फैसला पार्टी लाइन के खिलाफ है और अनुशासनहीनता है. कोई एनसीपी नेता या कार्यकर्ता एक एनसीपी-भाजपा सरकार के पक्ष में नहीं है… हमें विश्वास है कि वे फ्लोर टेस्ट में बहुमत साबित नहीं कर पाएंगे. उनके पास नंबर नहीं हैं.’

बता दें कि, महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के बाद 30 अक्टूबर को नवनिर्वाचित विधायकों की बैठक में अजीत पवार को एकमत से विधायक दल का नेता चुना गया था.

पवार ने कहा, ‘नए विधायक दल के नेता के साथ हमने अन्य मुद्दों पर चर्चा के लिए 4 बजे विधायकों की बैठक बुलाई है.’

वहीं, उद्धव ठाकरे ने इस पूरे घटनाक्रम को सर्जिकल स्ट्राइक बताते हुए कहा कि इसकी कीमत चुकानी होगी. ठाकरे ने कहा, ‘यह एक सर्जिकल स्ट्राइक है जो रात को महाराष्ट्र में हुई है और राज्य के लोग इसका बदला लेंगे.’

इसके साथ ही शिवसेना के विधायकों को तोड़ने के खिलाफ भाजपा को चेतावनी देते हुए उन्होंने कहा, ‘वे कोशिश करके देख सकते हैं. आज रात महाराष्ट्र सोने नहीं वाला है. इस लड़ाई में हम पवार साहब के साथ हैं.’

वहीं, मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा, ‘मुझे लगता है कि अब से चुनावों की घोषणा नहीं होनी चाहिए और ‘मैं वापस लौटूंगा’ कहने कि बजाय कुछ लोगों को फेविकोल का इस्तेमाल करके कुर्सी से चिपक जाना चाहिए.’