भारत

राजस्थान: छह साल की बच्ची के बलात्कार और हत्या मामले में एक गिरफ़्तार

राजस्थान के टोंक ज़िले का मामला. बच्ची शनिवार को एक स्कूली कार्यक्रम में हिस्सा लेने गई थी लेकिन वापस नहीं लौटी. बच्ची का शव अगले दिन पास के एक गांव से बरामद किया गया.

Tonk

जयपुर/नई दिल्ली: राजस्थान के टोंक जिले में छह साल की एक बच्ची से बलात्कार कर उसकी हत्या कर दी गई. इस मामले में पुलिस ने एक शख्स को गिरफ्तार किया है.

इंडिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस अतिरिक्त अधीक्षक विपिन शर्मा ने गिरफ्तारी की पुष्टि करते हुए कहा कि आरोपी शख्स की पहचान 38 साल के ट्रक ड्राइवर महेंद्र उर्फ धोल्या के रूप में की गई है. उसे टोंक की जिला पुलिस ने गिरफ्तार किया.

दैनिक भास्कर की रिपोर्ट के अनुसार, पुलिस ने इस संबंध में एक ट्रक ड्राइवर को गिरफ्तार किया है. एसपी आदर्श सिद्दू ने बताया कि शुरुआती पूछताछ में आरोपी महेंद्र मीणा ने अपना गुनाह कबूल लिया है. आरोपी ड्राइवर बच्ची के गांव में ही रहता है. स्निफर डॉग की मदद से पुलिस आरोपी तक पहुंची.

उन्होंने कहा कि घटनास्थल पर मिले साक्ष्यों के आधार पर उसे पकड़ा गया है.

ऐसा कहा जा रहा है कि आरोपी ने कथित तौर पर शराब के नशे में धुत होकर इस घटना को अंजाम दिया. पुलिस उससे पूछताछ कर रही है.

पुलिस अधिकारी ने बताया कि बच्ची शनिवार को स्कूल में खेल समारोह में हिस्सा लेने गई थी लेकिन वापस अपने घर नहीं लौटी.

खेल समारोह शनिवार दोपहर तीन बजे खत्म हो गया था. परिजनों ने तलाश शुरू की तो रविवार को छात्रा का शव स्कूल से लगभग 400 मीटर की दूरी पर खेडली गांव के पास सुनसान जगह पर मिला.

जानकारी के मुताबिक, बच्ची अपने नाना-नानी के साथ रहती थी. उसके मां-बाप काम के सिलसिले में मध्य प्रदेश के श्योपुर चले गए थे.

बच्ची के पोस्टमार्टम में बलात्कार की पुष्टि हो गई है.

टोंक के जिला पुलिस अधीक्षक आदर्श सिद्धू ने कहा, ‘बच्ची का बलात्कार किया गया. बच्ची के यूनीफार्म की बेल्ट से ही गला दबाकर उसकी हत्या कर दी गई थी.’

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने इस घटना की निंदा करते हुए इसे शर्मनाक बताया और कहा कि इस जघन्य अपराध के दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा.

उप-मुख्यमंत्री सचिन पायलट ने इसे भयावह और अस्वीकार्य बताते हुए ट्वीट कर कहा, ‘मामले की गंभीरतापूर्वक जांच और इस घिनौने अपराध को अंजाम देने वाले को पकड़ने के लिए मैंने पुलिस एवं प्रशासन के उच्च अधिकारियों को निर्देशित किया है. इस प्रकार के कृत्य पर सख्ती से कार्रवाई होगी.’

एनसीपीसीआर ने राजस्थान सरकार से मांगी रिपोर्ट

राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग (एनसीपीसीआर) ने टोंक जिले में छह साल की लड़की से बलात्कार और हत्या मामले में सात दिन के भीतर राजस्थान सरकार से कार्रवाई रिपोर्ट मांगी है.

एनसीपीसीआर के अध्यक्ष प्रियांक कानूनगो ने कहा कि सात दिन के भीतर राज्य सरकार से कार्रवाई रिपोर्ट मांगी गई है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)