राजनीति

झारखंड विधानसभा: दूसरे चरण में शाम पांच बजे तक 62.40 प्रतिशत मतदान, एक व्यक्ति की मौत

झारखंड के गुमिया ज़िले के सिसई में सुरक्षा बलों और ग्रामीणों की झड़प के दौरान गोलीबारी में एक ग्रामीण की मौत हो गई. दूसरे चरण के चुनाव में मुख्यमंत्री रघुबर दास समेत 260 प्रत्याशी चुनाव मैदान में हैं. जमशेदपुर पूर्वी सीट पर मुख्यमंत्री के ख़िलाफ़ उनकी ही सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे सरयू राय चुनाव लड़ रहे हैं.

Bundu: A security jawan guards as people wait in queues to cast their votes at a polling station during the second phase of Jharkhand Assembly elections at Bundu, 45 kms from Ranchi, Saturday, Dec. 7, 2019. (PTI Photo) (PTI12_7_2019_000029B)

झारखंड में रांची से 45 किलोमीटर दूर बुंदू में दूसरे चरण के मतदान के दौरान तैनात सुरक्षाकर्मी. (फोटो: पीटीआई)

रांची: झारखंड विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण में शनिवार को शाम पांच बजे मतदान संपन्न होने तक 62.40 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया. हिंसा की एक घटना को छोड़कर दूसरे चरण में सभी 20 सीटों के लिए लगभग शांतिपूर्ण ढंग से मतदान हुआ.

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी विनय कुमार चौबे ने इस बात की जानकारी देते हुए बताया कि दूरदराज के कुछ अन्य इलाकों से मतदान के आंकड़े प्राप्त होने के बाद मतदान प्रतिशत में और बढ़ोतरी हो सकती है.

दूसरे चरण के चुनाव में मुख्यमंत्री रघुबर दास समेत 260 प्रत्याशी चुनाव मैदान में हैं. इनमें 29 महिलाएं है और मतदाताओं की कुल संख्या 48,25,038 है. इस चरण में जमशेदपुर पूर्वी सीट पर सबकी नजरें टिकी हैं, जहां राज्य के मुख्यमंत्री रघुबर दास के खिलाफ उनकी ही सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे सरयू राय चुनाव लड़ रहे हैं.

दूसरे चरण में झारखंड की जुगसलाई, जमशेदपुर पूर्वी, जमशेदपुर पश्चिमी, बहरागोड़ा, घाटशिला, पोटका, जगरनाथपुर, मनोहरपुर, चक्रधरपुर, सरायकेला, खरसावां, चाईबासा, मझगांव, तोरपा, खूंटी, सिमडेगा, कोलेबिरा, तमाड़, सिसई और मांडर विधानसभा सीटों पर चुनाव हुए.

झारखंड की 81 सदस्यीय विधानसभा के लिए पांच चरणों में 20 दिसंबर तक मतदान होना है. पहले चरण में 13 सीटों पर 30 नवंबर को मतदान हुआ था. इन 13 सीटों पर कुल 62.87 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया था.

झारखंड में तीसरे चरण का चुनाव 12 दिसंबर, चौथे चरण का 16 दिसंबर को और पांचवें और आखिरी चरण के चुनाव 20 दिसंबर को होने हैं. पहले चरण में 13 जिलों और दूसरे चरण में 20 जिलों में चुनाव हो चुके हैं. इसी तरह तीसरे चरण में 17, चौथे चरण में 16 और आखिरी चरण में 15 जिलों में चुनाव होंगे.

पुलिस की गोली से सिसई में एक ग्रामीण की मौत, कई अन्य घायल हो गए

राज्य के गुमिया जिले के सिसई में सुरक्षा बलों और ग्रामीणों की झड़प में बल की ओर से की गई गोलीबारी में एक ग्रामीण की मौत हो गई और कई अन्य घायल हो गए.

अपर पुलिस महानिदेशक एवं झारखंड चुनाव में सुरक्षा मामलों के नोडल अधिकारी मुरारीलाल मीणा ने बताया कि सिसई में सुबह ग्रामीणों और सुरक्षाकर्मियों में किसी बात को लेकर झड़प हो गई, जिसका लाभ उठाकर कुछ असामाजिक तत्वों ने बूथ नंबर 36 पर आरपीएफ के जवानों से हथियार छीनने की कोशिश की. इसके बाद आरपीएफ की गोलीबारी में एक ग्रामीण की मौत हो गई और कई अन्य लोग घायल हो गए, जिनका अस्पताल में इलाज जारी है.

उन्होंने बताया कि घायलों की हालत खतरे से बाहर बताई गई है. एक घायल व्यक्ति जिसके पैर में गोली लगी है उसे इलाज के लिए रांची के ‘रिम्स’ लाया गया है. दूसरे घायल व्यक्ति के कंधे को छूते हुए गोली निकल गई, जिससे उसे हल्की चोट आई है.

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी विनय कुमार चौबे ने बताया कि सिसई के मतदान केंद्र संख्या 36 पर फिलहाल मतदान बाधित है और यहां पुनर्मतदान कराए जाने की संभावना है. संबद्ध विधानसभा क्षेत्र के जिला निर्वाचन पदाधिकारी की घटना के संबंध में जांच रिपोर्ट की प्रतीक्षा की जा रही है.

दैनिक भास्कर की रिपोर्ट के अनुसार, मृतक की पहचान बघनी निवासी 28 वर्षीय जिलानी अंसारी के रूप में की गई है.

रिपोर्ट के अनुसार, मतदान केंद्र संख्या 36 पर कुछ मतदाता बेतरतीब तरीके से लाइन में खड़े थे. गड़बड़ी की आशंका को देखते हुए वहां मौजूद सुरक्षाकर्मियों ने उन्हें लाइन में खड़े होने और व्यवस्थित तरीके से मतदान की बात कही.

इसी बात पर मतदाता भड़क गए और सुरक्षाकर्मियों पर पथराव करने लगे. इस दौरान सुरक्षाकर्मियों ने आत्मरक्षा के लिए हवाई फायरिंग की. इसके बाद भीड़ और ज्यादा उग्र हो गई. फिर सुरक्षाकर्मियों ने फायरिंग की, जिसमें युवक की मौत हो गई.

रिपोर्ट के अनुसार, भीड़ की ओर से पथराव में सिसई थाना प्रभारी बिशुनुदेव चौधरी और एक अखबार के पत्रकार भी घायल हैं. वहीं, 18 वर्षीय तबरेज अंसारी के दाहिने कंधे में चोट लगी है और असफाक अंसारी नाम के युवक के पैर में गोली लगी है. सिसई बीडीओ के ड्राइवर सीताराम सिंह, एक पुलिस के जवान अखिलेश यादव को आंशिक चोटें आई हैं.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)