भारत

नागरिकता कानून विरोधी प्रदर्शन: राजीव चौक सहित 20 मेट्रो स्टेशन बंद

राजधानी दिल्ली में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ विरोध प्रदर्शन हो रहा है. इन प्रदर्शनों को रोकने के लिए दिल्ली के कई इलाकों में धारा 144 लागू करने के साथ इंटरनेट सेवाओं पर भी पाबंदी लगाई गई है.

दिल्ली मेट्रो (फोटो: पीटीआई)

दिल्ली मेट्रो (फोटो: पीटीआई)

नई दिल्ली: नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ हो रहे विरोध प्रदर्शन के दौरान राजधानी दिल्ली में गुरुवार को लाल किला और मंडी हाउस पर होने वाले विरोध प्रदर्शनों को देखते हुए राजीव चौक सहित 20 मेट्रो स्टेशनों को बंद कर दिया गया.

इसके साथ ही दिल्ली के कुछ इलाकों में सुबह 9 से ही इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गईं. इंटरनेट की ये सेवाएं उत्तरी और मध्य जिले के साथ मंडी हाउस, सीलमपुर, जाफराबाद और मुस्तफाबाद, जामिया नगर, शाहीन बाग और बवाना इलाकों में बंद की गईं. वहीं, कई रूटों को बदल दिया गया जिसके कारण भारी ट्रैफिक जमा देखने को मिल रहा है.

इंडियन एक्सप्रेस के अनुसार, दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (डीएमआरसी) ने घोषणा की कि ट्रेनें, लाल किला, जामा मस्जिद, चांदनी चौक और विश्वविद्यालय स्टेशनों पर नहीं रुकेंगी. वहीं, केंद्रीय सचिवालय मेट्रो स्टेशन से प्रवेश और निकासी बंद कर दी गई है. हालांकि, इस स्टेशन से ट्रेन बदलने की सुविधा चालू है.

बाराखम्बा, राजीव चौक, पटेल चौक, लोक कल्याण मार्ग, उद्योग भवन, आईटीओ, प्रगति मैदान, जनपथ और खान मार्केट, वसंत विहार और मंडी हाउस भी आज बंद रहेंगे. मंडी हाउस स्टेशन पर ट्रेन बदलने की सुविधा उपलब्ध रहेगी.

जामिया मिलिया इस्लामिया, जसोला विहार, शाहीन बाग और मुनिरका भी बंद रहेंगे. इन स्टेशनों पर ट्रेनें नहीं रुकेंगी.

दिल्ली अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डा लिमिटेड के अनुसार, एनएच-8 पर ट्रैफिक जाम के कारण 16 विमानें देर हो गईं. क्रू मेंबर्स के ट्रैफिक जाम में फंसने और अन्य मुद्दों के कारण इंडिगो ने अपनी 19 विमानें रद्द कर दीं.

दिल्ली पुलिस द्वारा विरोध प्रदर्शनों से पहले वाहनों की जांच के लिए बैरिकेड्स स्थापित करने के बाद राष्ट्रीय राजमार्ग 48 से गुड़गांव से दिल्ली की ओर जाने वाले यात्री सिरहोल टोल प्लाजा पर भारी ट्रैफिक जाम में फंस गए.

दिल्ली ट्रैफिक पुलिस और गुड़गांव ट्रैफिक पुलिस ने ट्वीट कर यात्रियों को अन्य रास्तों का इस्तेमाल करने की सलाह दी.