राजनीति

सीएए पर बोले भाजपा विधायक- क़ानून का विरोध न करें, हिंदू 80 फ़ीसदी हैं और अल्पसंख्यक 18

कर्नाटक के बेल्लारी से भाजपा विधायक जी. सोमशेखर रेड्डी ने कहा कि अल्पसंख्यकों को भारत में अधिक सावधान रहना चाहिए कि वे यहां क्या कर रहे हैं. अगर हम लोग खड़े हो गए तो आप सोच लें कि आपका क्या होगा.

G Somasekhara Reddy BJP Karnataka FB Pge

भाजपा विधायक जी. सोमशेखर रेड्डी. ( फोटो साभार: फेसबुक/@GSReddyBJP)

कर्नाटक से भाजपा विधायक जी. सोमशेखर रेड्डी ने एक रैली के दौरान नागरिकता कानून (सीएए) का विरोध कर रहे अल्पसंख्यकों पर निशाना साधते हुए कहा कि देश में हिंदुओं की आबादी 80 फीसदी है जबकि अल्पसंख्यक 18 फीसदी हैं.

इंडिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक, भाजपा विधायक ने कहा कि अल्पसंख्यकों को भारत में अधिक सावधान रहना चाहिए कि वे यहां क्या कर रहे हैं. अगर हम लोग खड़े हो गए तो आप सोच लें कि आपका क्या होगा.

सोशल मीडिया पर वायरल एक वीडियो में सोमशेखर रेड्डी को अल्पसंख्यकों को चेतावनी देते हुए सुना जा सकता है.

रेड्डी ने कहा, ‘मैं सीएए का विरोध कर रहे लोगों को चेतावनी देना चाहता हूं. हमें सत्ता में आए सिर्फ पांच महीने ही हुए हैं और अगर आप बहुत अधिक नखरे करेंगे तो सोच लीजिए, हम आपके पीछे पड़े तो क्या हो सकता है.’

एनडीटीवी के मुताबिक, रेड्डी ने बेंगलुरू दक्षिण से भाजपा सांसद तेजस्वी सूर्या के बयान का समर्थन करते हुए कहा, ‘तेजस्वी सूर्या ने सही कहा था. सीएए का विरोध कर रहे अधिकतर प्रदर्शनकारी पंक्चर वाले और अशिक्षित हैं, उनसे जो कहा जा रहा है, उसे मान लेते हैं.’

उन्होंने दावा किया कि कांग्रेस उनके मन में जहर भर रही है. भाजपा विधायक ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि पार्टी (कांग्रेस) पागलों से भरी हुई है और लोगों को उनका विश्वास कर सड़कों पर नहीं निकलना चाहिए.

रेड्डी ने कहा, ‘कांग्रेस के लोग पागल हैं. आप उनका विश्वास कर सड़कों पर आ गए हैं? हम 80 फीसदी हैं और आप सिर्फ 18 फीसदी हैं. अगर हम आप पर हमला करेंगे तो आपका क्या होगा? आप इस देश में हो तो सावधान रहिए.’

भाजपा विधायक ने कहा, ‘यह हमारा देश है. उस देश (पाकिस्तान) के प्रधानमंत्री ने एक बार कहा था कि अगर आपको यहां रहना है, तो आपको हमारे नियमों के अनुरूप रहना होगा वरना हम आपको वापस भेज देंगे. भारत में अपने लिए ऐसी स्थिति मत लाइए.’

बेंगलुरू के बेल्लारी से विधायक रेड्डी ने कहा कि कर्नाटक में जिन प्रदर्शनकारियों ने सावर्जनिक संपत्ति नष्ट की है, उन्हें उसी तरह से सबक सिखाया जाएगा जैसा उत्तर प्रदेश में प्रदर्शनकारियों को सिखाया गया है.

एएनआई के अनुसार उन्होंने कहा, ‘हम भारतीय हैं और हम आपको ठीक उसी तरह से सबक सिखाएंगे, जैसे उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री वहां सार्वजनिक संपत्तियों को नष्ट कर रहे लोगों को सिखा रहे हैं. नागरिकता कानून का विरोध कर रहे जिन लोगों को गोलियां लग रही हैं, ठीक हो रहा है लेकिन घायल होने पर किसी हिंदू डॉक्टर के पास इलाज के लिए जरूर जाना, वह आपका इलाज करेगा.’

वहीं, बेंगलुरू में कांग्रेस के एक प्रतिनिधिमंडल ने भाजपा विधायक सोमशेखर रेड्डी के इस बयान पर पुलिस में एफआईआर भी दर्ज कराई है.

बता दें कि सोमशेखर रेड्डी खनन घोटाले के आरोपी जी. जनार्दन रेड्डी के बड़े भाई हैं. उन पर भी जंगल की जमीन पर अवैध खनन कराने का आरोप है. इसके साथ ही सोमशेखर पर अपने भाई की जमानत के लिए आंध्र प्रदेश के जज को रिश्वत देने की कोशिश करने का भी आरोप है.

मालूम हो कि नागरिकता कानून को लेकर कर्नाटक सहित देश के विभिन्न हिस्सों में विरोध प्रदर्शन चल रहे हैं.

बीते दिसंबर में संसद में पारित किए इस कानून के तहत अफगानिस्तान, बांग्लादेश और पाकिस्तान से भारत आए हिंदू, सिख, बौद्ध, जैन, पारसी और ईसाई समुदायों के लोगों को भारतीय नागरिकता देने का प्रावधान है. नागरिकता संशोधन कानून में उन मुसलमानों को नागरिकता देने के दायरे से बाहर रखा गया है जो भारत में शरण लेना चाहते हैं.