दुनिया

ईरान में यूक्रेन एयरलाइन का विमान क्रैश, 176 लोगों की मौत

ईरान रिवोल्यूशनरी गार्ड के शीर्ष कमांडर जनरल क़ासिम सुलेमानी को अमेरिका द्वारा मारे जाने पर बदले की कार्रवाई के रूप में ईरान द्वारा इराक़ में अमेरिकी सेना के दो बेस को मिसाइल द्वारा निशाना बनाए जाने के कुछ घंटों बाद यह विमान दुर्घटनाग्रस्त हुआ.

उक्रेन एयरलाइन का विमान ईरान में परंद और शहरयार के पास दुर्घटनाग्रस्त हुआ. (फोटो साभार: ट्विटर)

यूक्रेन एयरलाइन का विमान ईरान में परंद और शहरयार के पास दुर्घटनाग्रस्त हुआ. (फोटो साभार: ट्विटर)

तेहरान: ईरान की राजधानी तेहरान से बुधवार को उड़ान भरने के थोड़ी देर बाद ही दुर्घटनाग्रस्त हुए यूक्रेन के विमान में सवार सभी यात्रियों की मौत हो गई.

इसमें चालक दल के सदस्यों के साथ 176 लोग सवार थे. यूक्रेन बोइंग 737 के विमान (फ्लाइट पीएस 752) ने तेहरान से कीव के लिए उड़ान भरी थी.

ईरान सड़क और परिवहन प्राधिकरण के प्रवक्ता कासिम बिनिआज़ ने बताया कि यह विमान यूक्रेन इंटरनेशनल एयरलाइंस का था, जो तेहरान के इमाम खुमेनी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से उड़ान भरने के कुछ ही देर बाद क्रैश हो गया. उन्होंने बताया कि पायलट ने विमान से नियंत्रण खो दिया था, जिसके बाद विमान जमीन पर आ गिरा.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, राजधानी कीव से यूक्रेन के विदेश मंत्रालय के अधिकारियों ने एयरलाइन की ओर से मिली जानकारी के आधार पर बताया है कि सभी 167 यात्रियों और चालक दल के नौ सदस्यों की मौत हो गई है.

यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमियर ज़ेलेंस्कीय ने शोक संवेदना व्यक्त करते हुए कहा है कि यह जानने की कोशिश की जा रही है कि विमान किन परिस्थितियों में क्रैश हुआ.

ईरान के नागरिक उड्डयन प्रवक्ता रेज़ा जफ़रज़ादेह ने बताया कि विमान परंद और शहरयार के पास दुर्घटनाग्रस्त हुआ. उन्होंने कहा है कि खबर मिलने के बाद राष्ट्रीय उड्डयन विभाग की जांच एजेंसी दुर्घटनास्थल पर भेजी गई है.

ईरान के नागरिक उड्डयन प्रवक्ता रेज़ा जफ़रज़ादेह ने बताया कि विमान तेहरान के पास परंद और शहरयार के पास दुर्घटनाग्रस्त हुआ. उन्होंने कहा है कि खबर मिलने के बाद राष्ट्रीय उड्डयन विभाग की जांच एजेंसी दुर्घटनास्थल पर भेजी गई है.

ईरान रिवोल्यूशनरी गार्ड के शीर्ष कमांडर जनरल कासिम सुलेमानी के अमेरिकी हवाई हमले में मारे जाने पर बदले की कार्रवाई के रूप में ईरान द्वारा इराक में अमेरिकी सेना के दो बेस को मिसाइल द्वारा निशाना बनाए जाने के कुछ घंटों बाद यह विमान दुर्घटनाग्रस्त हुआ.