राजनीति

शाहीन बाग़ के प्रदर्शनकारी घरों में घुस सकते हैं, बहन-बेटियों से रेप कर सकते हैं: भाजपा सांसद

भाजपा सांसद प्रवेश वर्मा ने कहा कि आज समय है, आज अगर दिल्ली के लोग जाग जाएंगे तो अच्छा रहेगा. वो तब तक सुरक्षित महसूस करेंगे जब तक देश के प्रधानमंत्री मोदी जी हैं. इससे पहले गृह मंत्री अमित शाह ने कहा था कि बटन इतने गुस्से से दबाना कि करंट शाहीन बाग़ में लगे.

भाजपा सांसद प्रवेश वर्मा. (फोटो साभार: फेसबुक)

भाजपा सांसद प्रवेश वर्मा. (फोटो साभार: फेसबुक)

नई दिल्ली: पश्चिमी दिल्ली से भाजपा सांसद प्रवेश वर्मा ने कहा है कि अगर शाहीन बाग में नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) और एनआरसी के खिलाफ प्रदर्शन जारी रहा तो प्रदर्शनकारी आपके घरों में घुस सकते हैं और आपकी बहन-बेटियों को बलात्कार कर सकते हैं.

समाचार एजेंसी एएनआई से बातचीत में भाजपा सांसद प्रवेश वर्मा ने कहा, ‘अरविंद केजरीवाल भी ये कहते हैं कि मैं (वे) शाहीन बाग के साथ हैं. और दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया भी ये कहते हैं कि मैं (वे) शाहीन बाग के साथ हैं. दिल्ली की जनता जानती है कि जो आग आज से कुछ साल पहले कश्मीर में लगी थी. वहां पर जो कश्मीरी पंडित हैं, उनकी बहन-बेटियों के साथ रेप हुआ था.’

वे आगे कहते हैं, ‘उसके बाद वो आग यूपी में लगती रही… हैदराबाद में लगती रही… केरल में लगती रही… आज वो आग दिल्ली के एक कोने में लग गई है. वहां पर लाखों लोग इकट्ठा हो जाते हैं और वो आग कभी भी दिल्ली के घरों तक पहुंच सकती है, हमारे घर में पहुंच सकती है.’

प्रवेश वर्मा का कहना है, ‘ये दिल्ली वालों को सोच समझकर फैसला लेना पड़ेगा. ये लोग आपके घरों में घुसेंगे, आपकी बहन बेटियों को उठाएंगे, उनको रेप करेंगे… उनको मारेंगे… इसलिए आज समय है, कल मोदी जी नहीं आएंगे बचाने. कल अमित शाह जी नहीं आएंगे बचाने.’

भाजपा सांसद ने कहा, ‘आज समय है, आज अगर दिल्ली के लोग जाग जाएंगे तो अच्छा रहेगा. वो अपने आपको सुरक्षित आज भी महसूस करते हैं और वो तब तक सुरक्षित महसूस करेंगे जब तक देश के प्रधानमंत्री मोदी जी हैं. अगर कोई और प्रधानमंत्री बन गया देश का तो देश की जनता अपने आपको सुरक्षित महसूस नहीं करेगी.’

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक भाजपा सांसद प्रवेश वर्मा ने कहा, ‘देश की जनता तब तक ही सुरक्षित है जब तक मोदी प्रधानमंत्री हैं. मैं दिल्ली की जनता से कहता हूं कि आप वोट विकास पर ही दें. पांच साल कुछ नहीं किया और आखिरी के तीन महीनों में सब फ्री करना ये विकास नहीं है.’

मालूम हो नागरिकता संशोधन कानून और एनआरसी को लेकर शाहीन बाग में बीते एक महीने से ज्यादा समय से प्रदर्शन चल रहा है और प्रदर्शनकारियों में अधिकांश महिलाएं शामिल हैं.

इससे पहले बीते सोमवार को भाजपा सांसद ने कहा था, ‘जब दिल्ली में मेरी सरकार बन गई तब 11 फरवरी के बाद एक महीने में मेरी लोकसभा में जितनी मस्जिद सरकारी जमीन पर बनी हुई है, उनमें से एक मस्जिद नहीं छोड़ूंगा. सारी मस्जिद हटा दूंगा.’

बता दें कि प्रवेश वर्मा के ये बयान केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के उस बयान के कुछ दिन बाद आया है, जिसमें उन्होंने कहा था कि दिल्ली में अगर भाजपा सत्ता में आती है तो शाहीन बाग में कोई भी प्रदर्शनकारी नजर नहीं आएगा.

बीते दिनों नई दिल्ली में एक कार्यक्रम के दौरान अमित शाह ने कहा था, ‘आठ फरवरी की सुबह परिवार के साथ 10 बजे से पहले कमल के निशान पर बटन दबाएंगे? और मित्रों, इतनी जोर से दबाना है कि करंट से ही शाम को वो शाहीन बाग वाले उठकर चले जाएं.’

शाह ने बीते 26 जनवरी को दिल्ली के बाबरपुर विधानसभा क्षेत्र में आयोजित की गई एक रैली में कहा था, ‘इस बार कमल के निशान पर बटन दबाओ तो इतने गुस्से के साथ दबाना कि बटन बाबरपुर में दबे, करंट वहां शाहीन बाग में लगे.’