भारत

उत्तर प्रदेश: मिर्ज़ापुर में मिड डे मील के गर्म भगौने में गिरी तीन साल की बच्ची, मौत

मिर्ज़ापुर के जिलाधिकारी ने बताया कि बीते सोमवार को दोपहर में खाना तैयार होने के बाद रसोईये किसी काम से बाहर थे, जब खाना लेने के लिए जमा बच्चों की धक्का-मुक्की में एक बच्ची गर्म सब्ज़ी में गिर गई. स्कूल के प्रिंसिपल को निलंबित कर दिया गया है और रसोइयों के ख़िलाफ़ मामला दर्ज हुआ है.

Mirzapur map

मिर्जापुर: उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर जिले के रामपुर अत्ररी गांव स्थित प्राथमिक विद्यालय में सोमवार को मिड डे मील के लिए बनी सब्जी के भगौने में गिरने से तीन वर्षीय एक बालिका की मौत हो गई.

जिलाधिकारी सुशील कुमार पटेल के आदेश पर विद्यालय के प्रधानाध्यापक को निलंबित कर रसोइयों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करा दी गई है. बच्ची स्कूल की छात्रा नहीं थी.

पटेल ने बताया, ‘रामपुर गांव में प्राथमिक विद्यालय चलाया जाता है, उसके साथ ही पूर्व माध्यमिक विद्यालय भी उसी भवन में चलता है. विद्यालय में रामपुर अत्ररी गांव निवासी भागीरथ कोल का बेटा गणेश दूसरी कक्षा में और पांच वर्षीय हिमांशु पहली कक्षा में पढ़ता है. भाइयों के साथ उनकी तीन वर्षीय बहन आंचल भी स्कूल जाती थी.’

उन्होंने बताया कि आंचल का स्कूल में नामांकन नहीं था, न ही वह आंगनबाड़ी की छात्रा थी, वह ऐसे ही स्कूल आ जाया करती थी.

पटेल ने बताया, ‘सोमवार दोपहर लगभग बारह बजे मिड डे मील बनकर तैयार हो गया. रसोईये किसी कार्य से बाहर चले गए, इसी बीच बच्चे मिड डे मील के लिए जमा हो गए. धक्का-मुक्की में आंचल गर्म सब्जी में गिर गई, उसे निकालने के लिए बच्चों ने रसोइयों को बुलाया. उन्हें आने में देर हुई तो विद्यालय के अध्यापक नवनीत कुमार वर्मा ने बच्ची को बाहर निकाला. इतनी देर में बच्ची 80 फीसदी तक झुलस गई. बच्ची को तुरंत एक निजी अस्पताल ले जाया गया जहां से उसे मंडलीय अस्पताल भेज दिया गया. सोमवार शाम सात बजे उसकी मौत हो गई.’

विद्यालय में कुल 172 छात्र पढ़ते हैं. यहां पर छह रसोईए लीलावती देवी, कमलावती देवी, सोना देवी, रीता देवी और नगीना देवी हैं. बच्ची के परिजनों ने आरोप लगाया है कि रसोइयों की अनदेखी के चलते यह हादसा हुआ.

एनडीटीवी के अनुसार, बच्ची के परिवार का कहना है कि बावर्ची फोन पर बात करने में व्यस्त थीं, उन्होंने नहीं देखा कि बच्ची भगौने में गिर गयी है.

बेसिक शिक्षा अधिकारी वीरेन्द्र कुमार सिंह ने बताया कि प्रधानाध्यापक संतोष कुमार यादव को जिलाधिकारी के आदेश पर निलंबित कर विभागीय जांच की जा रही है.

उन्होंने बताया, ‘छह रसोइयों के खिलाफ लालगंज थाने में प्राथमिकी दर्ज करा दी गई है और तीन सदस्यीय जांच कमेटी का गठन कर दिया गया है जिसे दो दिन में रिपोर्ट देने को कहा गया है.’

इंडियन एक्सप्रेस के अनुसार, अधिकारियों ने बताया कि चार शिक्षा मित्रों और एक सहायक अध्यापक को जिला प्रशासन ने कारण बताओ नोटिस जारी किया है और फरवरी महीने का उनका वेतन रोक दिया गया है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)