भारत

ये भारत माता की जीत है, ये नई किस्म की राजनीति है: अरविंद केजरीवाल

केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में ‘काम की राजनीति’ का जन्म हुआ और आप की जीत समूचे देश की जीत है.

New Delhi: Delhi CM and AAP convenor Arvind Kejriwal (C) addreses supporters after party's victory in the State Assembly polls, at AAP office in New Delhi, Tuesday, Feb. 11, 2020. Kejriwal's wife Sunita, daughter Harshita, son Pulkit and party leaders Gopal Rai, Raghav Chadha are also seen. (PTI Photo/Ravi Choudhary)(PTI2_11_2020_000140B)

(फोटो: पीटीआई)

नई दिल्ली: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आप की शानदार जीत को भारत की जीत बताते हुए कहा कि दिल्ली विधानसभा चुनाव से एक नई तरह की राजनीति का उभार हुआ है. स्कूल, अस्पताल बनाने वाली और लगातार सस्ती बिजली देने वाली पार्टी को लोगों ने इनाम दिया है.

राष्ट्रीय राजधानी में आप मुख्यालय में जश्न में डूबे समर्थकों और पार्टी के कार्यकर्ताओं को संक्षिप्त संबोधन में केजरीवाल ने कहा, ‘दिल्लीवालों गजब कर दिया आपने. आई लव यू’

चुनाव आयोग के ताजा आंकड़ों के मुताबिक दिल्ली में 70 विधानसभा सीटों में आम आदमी पार्टी 26 सीटें और भाजपा दो सीटें चुकी है. वहीं आप 37 सीटों पर बढ़त बनाए हुए है जबकि भाजपा पांच निर्वाचन क्षेत्रों में आगे है.

केजरीवाल ने लोगों का शुक्रिया करते हुए कहा, ‘ये जीत मेरी जीत नहीं है. ये सभी दिल्लीवासियों की जीत है. ये दिल्ली के हर उस परिवार की जीत है जिन्होंने मुझे अपना बेटा मानकर हमें जबरदस्त समर्थन दिया.’

उन्होंने आगे कहा, ‘ये हर उस परिवार की जीत है जिसे 24 घंटे बिजली मिली है. ये हर उस परिवार की जीत है जिनके बच्चों को अच्छी शिक्षा मिलने लगी है. ये हर उस परिवार की जीत है जिनके परिवार के लोगों को अच्छा इलाज मिलने लगा है.’

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली के लोगों ने आज एक नई किस्म की राजनीति को जन्म दिया है, जिसका नाम है काम की राजनीति. दिल्ली के लोगों ने अब संदेश दे दिया कि वोट उसी को जो स्कूल बनावाएंगा, वोट उसी को जो मोहल्ला क्लीनिक बनवाएगा. वोट उसी को जो 24 घंटे बिजली देगा. वोट उसी को जो सस्ती बिजली देगा, घर-घर को पानी देगा, मोहल्ले में सड़क बनवाएगा.

उन्होंने कहा, ‘ये एक नई किस्म की राजनीति है. ये देश के लिए शुभ संदेश है. यही राजनीति देश को 21वीं सदी में ले जाएगी. ये भारत माता की जीत है.’

वहीं आम आदमी पार्टी के प्रमुख चेहरे मनीष सिसोदिया ने पटपड़गंज सीट से जीत हासिल करने के बाद कहा कि दिल्ली के लोगों ने अपने जनादेश के जरिए राष्ट्रवाद का सही अर्थ समझाया है.

तीसरी बार अपनी सीट बरकरार रखने वाले सिसोदिया ने कहा कि भाजपा ने ‘नफरत की राजनीति’ की लेकिन लोगों ने खुद को बांटे जाने से इनकार कर दिया.

उन्होंने संवाददाताओं से कहा, ‘मैं पटपड़गंज सीट दोबारा जीत कर खुश हूं. भाजपा ने नफरत की राजनीति की लेकिन मैं पटपड़गंज के लोगों को धन्यवाद देता हूं. आज, दिल्ली के लोगों ने ऐसी सरकार को चुना जो उनके लिए काम करती है और उन्होंने अपने जनादेश के जरिए राष्ट्रवाद का सही अर्थ समझाया.’

उपमुख्यमंत्री एवं सरकार के शिक्षा सुधार एजेंडे का नेतृत्व करने वाले सिसोदिया ने रवींद्र सिंह नेगी को 3,000 से अधिक मतों के अंतर से हराया.

शुरुआती रुझान में कभी सिसोदिया आगे तो कभी नेगी आगे बढ़ते हुए दिख रहे थे. सिसोदिया को 2013 में 11,000 मतों और 2015 में 28,000 मतों के अंतर से जीत मिली थी.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)