भारत

कर्नाटकः ओवैसी की रैली में महिला ने पाकिस्तान जिंदाबाद का नारा लगाया, राजद्रोह का मामला दर्ज

ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने इस घटना की निंदा की है. उन्होंने कहा कि न तो मेरा और न ही मेरी पार्टी का इस महिला से कोई संबंध है. जब तक हम जिंदा हैं, हम भारत जिंदाबाद कहते रहेंगे.

बेंगलुरू में रैली के दौरान मंच से कथित तौर पर पाकिस्तान समर्थित नारेबाजी करती अमूल्या (फोटोः एएनआई)

बेंगलुरू में रैली के दौरान मंच से कथित तौर पर पाकिस्तान समर्थित नारेबाजी करती अमूल्या (फोटोः एएनआई)

बेंगलुरूः कर्नाटक के बेंगलुरू में नागरिकता कानून और एनआरसी के विरोध में एक रैली में महिला द्वारा कथित तौर पर पाकिस्तान जिंदाबाद का नारा लगाने पर राजद्रोह का मामला दर्ज किया गया है.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, महिला को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजा गया है.

गुरुवार को ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) की एक रैली में अमूल्या लियोना नाम की महिला ने कथित तौर पर मंच से पाकिस्तान के समर्थन में नारेबाजी की. इस दौरान मंच पर एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी मौजूद थे लेकिन उन्होंने महिला से इस तरह के नारे नहीं लगाने को कहा और माइक लेने की कोशिश की.

अमूल्या नाम की यह महिला बेंगलुरू के एक कॉलेज की छात्रा है. मंच से पाकिस्तान जिंदाबाद का नारा लगाने के बाद इस रैली के आयोजकों ने उनसे माइक छीन लिया.

कथित तौर पर नारेबाजी के बाद अमूल्या को हिरासत में ले लिया गया, जिसके बाद एआईएमआईएम प्रमुख ओवैसी ने रैली को संबोधित करते हुए कहा, ‘मेरे प्यारे दोस्तों यहां पर आज जिस तरह के शब्दों का प्रयोग किया गया, उससे हमारा कोई संबंध नहीं है. इससे ना मेरा, ना मेरी पार्टी का कोई संबंध है. जब तक हम जिंदा हैं, हम भारत जिंदाबाद कहते रहेंगे. हमारा पाकिस्तान से कोई संबंध नहीं है और न ही कभी होगा.’

वहीं, कर्नाटक भाजपा और कांग्रेस ने इस घटनाक्रम पर कानूनी कार्रवाई की मांग की है.

कर्नाटक भाजपा प्रमुख नलिन कुमार कटील ने जारी बयान में कहा, ‘आज बेंगलुरू में सीएए के विरोध में हुई एक रैली में अमूल्या लिओन नाम की महिला ने पाकिस्तान के समर्थन में नारेबाजी की. पुलिस को उसके खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए.’

कर्नाटक भाजपा ने ट्वीट कर कहा, ‘सीएए विरोधी कार्यकर्ता अमूल्या लिओना ने बेंगलुरू में एआईएमआईएम प्रमुख की मौजूदगी में पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाए. सच्चाई यह है कि सीएए के खिलाफ विरोध पाकिस्तान और कांग्रेस के नेतृत्व में देशविरोधी ताकतों की सांठगांठ है. जो लोग पाकिस्तान का समर्थन कर रहे हैं, उन्हें वहां चले जाना चाहिए.’

कर्नाटक भाजपा ने भी इस घटना की निंदा कर कानूनी कार्रवाई किए जाने की मांग की.

वहीं, सीएए के विरोध में हुई रैली में पाकिस्तान जिंदाबाद का नारा लगाने वाली महिला के पिता ने अपनी बेटी के बयान की आलोचना की है.

उन्होंने कहा कि अमूल्या ने जो कहा है वो गलत है. वह कुछ मुस्लिमों से जुड़ी हुई है और उसने मेरी बात नहीं सुनी.

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, अमूल्या के पिता ने कहा, ‘अमूल्या ने जो भी कहा है वो गलत है. वह कुछ मुस्लिमों से जुड़ी हुई थी और मेरी बात नहीं सुनती है.’