भारत

ज्योतिरादित्य सिंधिया का इस्तीफा, कांग्रेस ने कहा- पार्टी विरोधी काम के लिए निष्कासित किया गया

ज्योतिरादित्य सिंधिया मध्य प्रदेश की कांग्रेस सरकार में दरकिनार किए जाने से काफी नाराज चल रहे थे.

New Delhi: Senior Congress leader Jyotiraditya Scindia addresses a press conference, in New Delhi, on Sunday, June 03, 2018. (PTI Photo/Atul Yadav) (PTI6_3_2018_000066B)

ज्योतिरादित्य सिंधिया. (फाइल फोटो: पीटीआई)

नई दिल्ली: पिछले कुछ दिनों से मध्य प्रदेश कांग्रेस में काफी उठापटक चल रहा है. इस बीच कांग्रेस के बड़े नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया है. सिंधिया राज्य की कांग्रेस सरकार में दरकिनार किए जाने से काफी नाराज चल रहे थे.

हालांकि कांग्रेस का दावा है कि उन्हें पार्टी विरोधी गतिविधियों के चलते पार्टी से निष्कासित किया गया है. कांग्रेस के महासचिव केसी वेणुगोपाल ने एक बयान जारी कर कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष ने पार्टी विरोधी गतिविधियों के चलते ज्योतिरादित्य सिंधिया का निष्कासन स्वीकार कर लिया है.

ये कयास लगाए जा रहे थे कि कांग्रेस में बड़ा पद देकर ज्योतिरादित्य सिंधिया से समझौता किया जा सकता है. हालांकि आज सिंधिया ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को अपना इस्तीफा सौंप दिया. हालांकि अभी ये खबर नहीं आई है कि सिंधिया का इस्तीफा स्वीकार किया गया है या नहीं.

सोनिया गांधी को लिखे पत्र में उन्होंने कहा, ‘पिछले 18 सालों से कांग्रेस पार्टी का प्रमुख सदस्य रहने के बाद अब मेरे लिए यहां से आगे बढ़ने का समय आ गया है. मैं भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे रहा हूं.’

इससे पहले ज्योतिरादित्य सिंधिया ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की. कयास लगाए जा रहे हैं कि सिंधिया या तो भाजपा में शामिल हो सकते हैं या फिर नई पार्टी बनाकर भाजपा को समर्थन दे सकते हैं.