भारत

कोरोना: 31 मार्च तक सभी यात्री ट्रेनें और मेट्रो बंद, केंद्र ने 75 जिलों को लॉकडाउन करने को कहा

इस दौरान मालगाड़ियां चलती रहेंगी. 31 मार्च 2020 तक सभी गैर-जरूरी अंतरराज्यीय आवागमन को रोकने का भी फैसला लिया गया है.

Mumbai: Workers sanitize Mumbai Metro in the wake of coronavirus pandemic in Mumbai, Thursday, March 19, 2020. (PTI Photo)(PTI19-03-2020_000204B)

(फोटो: पीटीआई)

नई दिल्ली: केंद्र सरकार ने कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की पुष्टि करने वाले देश के 75 जिलों में लॉकडाउन घोषित करने को कहा है. इन जिलों में सिर्फ बेहद जरूरी सेवाओं की ही इजाजत दी जाएगी.

इसके अलावा 31 मार्च तक सभी यात्री ट्रेनें और सभी मेट्रो रेल सेवाओं को बंद कर दिया गया है. रविवार को राज्यों के मुख्य सचिवों के साथ कैबिनेट सचिव की अध्यक्षता में हुई उच्च स्तरीय बैठक में ये फैसला लिया गया है. इस बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रमुख सचिव भी मौजूद थे.

बैठक में सभी मुख्य सचिवों ने बताया कि हर जगह जनता कर्फ्यू को काफी अच्छा समर्थन मिल रहा है. सरकार द्वारा जारी विज्ञप्ति के मुताबिक, कोविड-19 के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए 31 मार्च 2020 तक सभी गैर-जरूरी अंतरराज्यीय आवागमन को रोकने का फैसला लिया गया है.

इसके अलावा विस्तृत चर्चा के बाद राज्य सरकारों को सलाह दिया गया कि वे उन 75 जिलों में केवल जरूरी सेवाओं के संचालन के लिए उपयुक्त आदेश जारी करें जहां पर कोरोना के मामले सामने आए हैं. राज्य सरकारें जरूरत के मुताबिक सेवाओं पर रोक लगा सकते हैं.

कुछ राज्यों ने पहले से ही इन जिलों में अलग-अलग तरह के प्रतिबंध लगा दिया है. साथ सभी यात्री ट्रेनों पर रोक लगा दी गई है. हालांकि मालगाड़ियां चलती रहेंगी.

बता दें कि कोरोना वायरस से अब तक भारत में छह लोगों की मौत हो गई है और कुल 341 संक्रमित मामलों की पुष्टि हुई है.