भारत

कोरोना वायरस: अब तक देश में सात लोगों की मौत, एक दिन में तीन लोगों ने दम तोड़ा

महाराष्ट्र, बिहार और गुजरात में बीते रविवार को कोरोना वायरस के संक्रमण से तीन लोगों की मौत. बिहार में 38 वर्षीय एक व्यक्ति की मौत हुई, जो अब तक मरने वालों में सबसे युवा थे.

(फोटो: रॉयटर्स)

(फोटो: रॉयटर्स)

नई दिल्ली: बीते रविवार को जनता कर्फ्यू के दौरान तीन और लोगों की मौत के बाद देश में कोराना वायरस से मरने वालों की संख्या सात हो गई है.

ये तीनों मौतें बिहार, महाराष्ट्र और गुजरात में हुईं.

बिहार में रविवार को 38 वर्षीय एक व्यक्ति की मौत कोरोना वायरस की वजह हो गई. मुंगेर के रहने वाले ये व्यक्ति पटना स्थित एम्स में भर्ती थे और उन्हें गुर्दे संबंधी गंभीर समस्या भी थी.

20 फरवरी को कतर से लौटने के बाद कोरोना वायरस के लक्षण पाए जाने के बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था. बिहार में कोरोना वायरस से मौत का यह पहला मामला है. देश में कि अब तक जिनते लोगों की मौत कोरोना वायरस के संक्रमण से हुई, उनमें संभवत: यह व्यक्ति सबसे छोटे थे.

रविवार को दूसरी मौत महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई में दर्ज की गई. कोरोना वायरस से संक्रमित 63 वर्षीय एक व्यक्ति ने एक निजी अस्पताल में दम तोड़ दिया. उन्हें डायबिटीज, हाई ब्लड प्रेशर और हृदय संबंधी समस्या भी थी. सांस संबंधी गंभीर समस्या के बाद उनकी मौत हो गई.

मुंबई में कोरोना वायरस से होने वाली यह दूसरी मौत है.

वहीं गुजरात में रविवार को कोरोना वायरस से मौत की पहली घटना दर्ज की गई. यहां वायरस से संक्रमित 69 वर्षीय एक व्यक्ति ने सूरत के एक अस्पताल में दम तोड़ दिया.

इससे पहले बीते 19 मार्च को पंजाब के नवांशहर जिले के एक अस्पताल में कोरोना वायरस से संक्रमित 72 वर्षीय एक शख्स की मौत हो गई थी.

देश में कोराना वायरस से मौत का सबसे पहला मामला कर्नाटक में ही सामने आया है.

कर्नाटक में कलबुर्गी के रहने वाले 76 वर्षीय एक बुजुर्ग की मौत कोरोना वायरस के संक्रमण से बीते 10 मार्च की रात को हुई थी. यह व्यक्ति सउदी अरब से लौटे थे.

इसके अलावा राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में भी बीते 13 मार्च को 68 वर्षीय एक महिला की मौत हो गई थी. कोराना वायरस से संक्रमित होने के बाद उन्हें राम मनोहर लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया गया था.

इस बुजुर्ग महिला को अपने बेटे के संपर्क में आने से कोरोना का संक्रमण हुआ था. महिला का बेटा जापान, जिनेवा और इटली से होता हुआ दिल्ली लौटा था. उन्हें डायबिटीज और हाई ब्लड प्रेशर की भी समस्या थी.

इसके अलावा बीते 17 मार्च को कोरोना वायरस के संक्रमण से मुंबई में 63 वर्षीय एक व्यक्ति की मौत हो गई थी. उन्हें हाई ब्लड प्रेशर और हृदय संबंधी दिक्कतें थीं.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, कोरोना वायरस से सुरक्षा के मद्देनजर असाधारण कदम उठाते हुए पूरे देश के 22 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के 75 जिलों में लॉकडाउन की घोषणा की गई है.

इसके अलावा सभी पैसेंजर ट्रेनें, अंतरराज्यीय बसें और मेट्रों ट्रेन सेवा को भी 31 मार्च तक के लिए बंद कर दिया गया है. मुंबई की लोकल ट्रेनों को भी 31 मार्च तक बंद कर दिया गया है.

दिल्ली, झारखंड, पंजाब, और नगालैंड में राज्यस्तरीय लॉकडाउन की घोषणा की गई है. इसके अलावा कई शहरों में धारा 144 लागू कर दी गई है.