समाज

लॉकडाउन: रामायण के बाद दूरदर्शन पर महाभारत, ब्योमकेश बक्शी और सर्कस जैसे सीरियलों की वापसी

दूरदर्शन पर पहली बार पौराणिक धारावाहिक महाभारत का प्रसारण साल 1988, शाहरुख़ ख़ान अभिनीत सर्कस का प्रसारण 1989 और जासूसी धारावाहिक ब्योमकेश बक्शी का प्रसारण साल 1993 में किया गया था.

ब्योमकेश बक्शी, महाभारत और सर्कस धारावाहिक के पोस्टर.

ब्योमकेश बक्शी, महाभारत और सर्कस धारावाहिक के पोस्टर.

नई दिल्ली: पौराणिक धारावाहिक रामायण की दूरदर्शन पर वापसी के बाद महाभारत, ब्योमकेश बक्शी और सर्कस जैसे धारावाहिकों को भी प्रसारण किया जाएगा.

रामायण का प्रसारण डीडी नेशनल पर होगा जबकि महाभारत का प्रसारण डीडी भारती पर होगा. केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने शुक्रवार को यह जानकारी दी.

शनिवार को एक ट्वीट में उन्होंने कहा है, ‘आज सुबह 9:00 बजे और रात 9:00 बजे दूरदर्शन पर रामायण देखना न भूलें. आज दोपहर 12:00 बजे और शाम 7:00 बजे डीडी भारती पर महाभारत देखना न भूलें.’

उन्होंने कहा है, ‘अगर आपके यहां यह दोनों चैनल नहीं आते हैं तो अपने केबल ऑपरेटर से संपर्क करें. केबल ऑपरेटर को यह दोनों चैनल देना अनिवार्य है.’

शुक्रवार को एक अन्य ट्वीट में केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री ने लिखा, ‘यह घोषणा करते हुए खुशी हो रही है कि जनता की मांग पर हम कल यानी शनिवार 28 मार्च से डीडी नेशनल पर रामायण का प्रसारण शुरू कर रहे हैं, एक कड़ी सुबह नौ से 10 बजे और दूसरी रात नौ से 10 बजे प्रसारित होगी.’

जावड़ेकर ने अपने इस ट्वीट के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, पीआईबी इंडिया और डीडी नेशनल को भी टैग किया.

बाद में उन्होंने ट्वीट किया कि डीडी भारती शनिवार से ही महाभारत का प्रसारण करेगा. उन्होंने कहा कि लोकप्रिय धारावाहिक महाभारत का दोपहर बारह बजे और शाम में सात बजे रोजाना प्रसारण होगा.

प्रसार भारती के सीईओ शशि शेखर ने एक के बाद एक ट्वीट कर जावड़ेकर और सागर परिवार का शुक्रिया अदा किया.

उन्होंने कहा, ‘डीडी अधिकारियों की कार्यनिष्ठ टीम ने इसे संभव करने के लिए कल पूरे दिन और रात काम किया जबकि वे अपने घर और परिवारों से दूर रहे. पूरी टीम की तारीफ करनी चाहिए जिन्होंने इन्हें देखने की दर्शकों की मांग पर प्रतिक्रिया देते हुए युद्धस्तर पर काम किया.’

एक अन्य ट्वीट में सीईओ ने कहा, ‘इस वक्त में राष्ट्र की इस सेवा के लिए सागर परिवार का तहे दिल से शुक्रिया जिसने मुंबई में डीडी नेशनल की टीम के लिए कंटेंट उपलब्ध कराने में तथा अपने संसाधन जुटाने के लिए काफी प्रयास किए.’

उन्होंने यह ट्वीट भी किया कि दूरदर्शन पर कुछ और पुराने चर्चित कार्यक्रमों का पुन:प्रसारण होगा.

प्रसार भारती के एक ट्वीट में कहा गया है कि डीडी नेशनल पर और डीडी भारती पर 21 दिनों के लॉकडाउन के दौरान प्रख्यात टीवी शो देंगे. इस ट्वीट में हैशटैग के साथ रामायण, महाभारत, सर्कस, ब्योमकेश बक्शी आदि सीरियलों के नाम लिखे गए हैं.

दूरदर्शन ने एक ट्वीट कर कहा है कि रजित कपूर को उस रोल में जरूर देखें, जिसके साथ वो हमेशा जुड़े रहेंगे. इस ट्वीट में जासूसी शो ब्योमकेश बक्शी के सुबह 11 बजे से डीडी नेशनल पर प्रसारित होने की जानकारी दी गई थी.

शरदिंदु बंदोपाध्याय द्वारा लिखे गए काल्पनिक जासूस ब्योमकेश बक्शी पर आधारित इसी नाम के धारावाहिक का दूरदर्शन पर पहली बार प्रसारण 1993 में किया गया था.

दूरदर्शन की ओर से एक अन्य ट्वीट में कहा गया है, ‘शेखरन दूरदर्शन पर वापस लौट आया है. दोस्तों घर पर रहें और अपने पसंदीदा शाहरुख खान को सर्कस टीवी शो में रात आठ बजे से देखें.’

अजीज मिर्जा और कुंदन शाह के निर्देशन में बना धारावाहिक सर्कस 1989 में दूरदर्शन पर पहली बार प्रसारित किया गया था. इसमें बॉलीवुड के किंग खान में शेखरन राय की भूमिका निभाई थी.

प्रसार भारती के सीईओ शशि शेखर ने कहा कि बंद के दौरान घरों में रहते हुए अगले कुछ दिनों में लोग दूरदर्शन के और चर्चित कार्यक्रमों को देख सकेंगे और अपने पुरानी यादों को फिर से ताजा कर सकेंगे.

रामायण का प्रसारण दूरदर्शन पर 1987 में शुरू हुआ था और इसे अपार कामयाबी मिली थी. महाभारत का प्रसारण 1988 में शुरू हुआ था और इसने भी लोकप्रियता के नए कीर्तिमान स्थापित किए थे.

मालूम हो कोरोना वायरस से सुरक्षा के मद्देनजर पूरे देश में 21 दिनों का लॉकडाउन लागू किया गया है. ऐसे समय में लोग घरों में कैद हैं, तब सोशल मीडिया पर पुराने धारावाहिकों को एक बार फिर से प्रसारित किए जाने की मांग कुछ लोगों ने की थी.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)