भारत

कोरोना वायरस: क्वारंटाइन किए गए परिवारों के बारे में लिखने पर महाराष्ट्र में पत्रकार को पीटा

महाराष्ट्र के अहमदनगर का मामला. पुलिस ने बताया कि हमला करने, दंगा करने के साथ पृथकवास में रहने संबंधी नियम का उल्लंघन करने के लिए 12 लोगों के ख़िलाफ़ मामला दर्ज किया है.

Kolkata: A notice put up on the wall of  studio para after it was closed in wake of the deadly coronavirus pandemic, in Kolkata, Wednesday, March 18, 2020. (PTI Photo/Swapan Mahapatra)(PTI18-03-2020_000156B)

(फोटो: पीटीआई)

अहमदनगर: कोरोना वायरस से बचने के लिए घर में पृथक रह रहे कुछ परिवारों के बारे में एक खबर का प्रकाशन करने के लिए महाराष्ट्र के अहमदनगर जिले में एक पत्रकार पर हमला किया गया.

सोनई पुलिस थाने के एक अधिकारी ने गुरुवार को यह जानकारी देते हुए बताया कि जिले में नयासे के पास पनेगांव में बुधवार को बालासाहेब नवगिरे (35) पर 12 लोगों के एक समूह ने हमला किया. हमला करने वाले लोगों में ज्यादातर महिलाएं शामिल थीं.

उन्होंने बताया कि नवगिरे ने कोरोना वायरस के संदेह में घर में पृथक किए गए लगभग 17 परिवारों के बारे में एक स्थानीय समाचार पत्र में खबर लिखी थी.

आरोपियों का कथित तौर पर यह मानना था कि इस खबर के कारण उनके नियोक्ताओं ने उन्हें काम करने की अनुमति नहीं दी.

लगभग 12 लोगों का एक समूह बुधवार को नवगिरे के घर पहुंचा और उनकी पिटाई की.

पुलिस अधिकारी ने बताया कि हमला करने, दंगा करने के साथ पृथक-वास में रहने संबंधी नियम का उल्लंघन करने के लिए इन लोगों के खिलाफ एक मामला दर्ज कर लिया गया है.

हालांकि अभी तक इस संबंध में किसी को गिरफ्तार नहीं किया गया है.