दुनिया

कोरोना वायरस: देश में 13,387 लोग संक्रमित, मृतकों की संख्या 437 पहुंची

आलोचना के बाद चीन ने मृतक संख्या में संशोधन किया है. वायरस के केंद्र चीन के वुहान शहर में आंकड़ों में 1,290 का इज़ाफ़ा किया गया, जिसके बाद इस देश में मरने वालों की संख्या 4,632 हो गई है. दुनिया में सर्वाधिक अमेरिका में 32 हज़ार से अधिक की मौत. विश्व में अब तक 146,201 लोगों की जान जा चुकी है.

(फोटो: रॉयटर्स)

(फोटो: रॉयटर्स)

नई दिल्ली/वॉशिंगटन/बीजिंग/वुहान: केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि देश में 13,387 व्यक्ति कोरोना वायरस से संक्रमित हैं और मृतकों की संख्या 437 तक पहुंच गई है.

मंत्रालय ने कहा कि सक्रिय कोरोना वायरस के मामले देश में 11,201 हैं और 1,748 व्यक्ति इससे स्वस्थ हो चुके हैं और उन्हें अस्पताल से छुट्टी मिल चुकी है. एक व्यक्ति देश से बाहर जा चुका है.

कुल संक्रमित लोगों में से 76 विदेशी नागरिक हैं.

बृहस्पतिवार शाम से 17 मौतें हुई हैं, जिनमें से सात महाराष्ट्र में, छह दिल्ली में, तीन पश्चिम बंगाल में और एक तमिलनाडु में हुईं.

देश में कोरोना वायरस संक्रमण से सबसे ज्यादा 194 मौतें महाराष्ट्र में हुई हैं. इसके बाद मध्य प्रदेश में 53, दिल्ली में 38, गुजरात में 36 और तेलंगाना में 18 मौतें हुई हैं.

तमिलनाडु में 15 मौतें हुई हैं, जबकि आंध्र प्रदेश में 14 लोगों की मौत हुई. इसके अलावा पंजाब, उत्तर प्रदेश और कर्नाटक में 13-13 मौतें हुई हैं.

स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, पश्चिम बंगाल में 10 और जम्मू-कश्मीर में चार मौतें हुई हैं. केरल, हरियाणा और राजस्थान में तीन-तीन लोगों की मौत हुई है. इसके अलावा झारखंड में दो लोगों की मौत हुई है. वहीं मेघालय, बिहार, हिमाचल प्रदेश, ओडिशा और असम में एक-एक मौत हुई हैं.

महाराष्ट्र में कोरोना वायरस संक्रमण के 34 और मामले सामने आने के बाद शुक्रवार को संक्रमितों की कुल संख्या 3,236 पहुंच गई है. यह भारत में इस महामारी से सर्वाधिक प्रभावित राज्य है.

राजस्थान में कोविड-19 के मामले 1,131 हो गए हैं, जबकि मध्य प्रदेश में 1,120, गुजरात में 930 और उत्तर प्रदेश में 805 मामले हैं. तेलंगाना में 700 मामले, जबकि आंध्र प्रदेश में 554 और केरल में 395 मामले हैं.

कर्नाटक में कोरोना वायरस के मामलों की संख्या बढ़कर 315 हो गई है, जम्मू कश्मीर में 314, पश्चिम बंगाल में 255 और हरियाणा में 205 है. पंजाब में अब तक 186 संक्रमण के मामले सामने आए हैं.

बिहार में कोरोना वायरस के 80 मामले सामने आए हैं, जबकि ओडिशा में 60 मामले हैं. उत्तराखंड में 37 लोग वायरस से संक्रमित हैं, जबकि हिमाचल प्रदेश और असम में 35-35 मामले हैं. छत्तीसगढ़ में 33 मामले हैं.

झारखंड में 28 मामले, चंडीगढ़ में 21 मामले और लद्दाख में 18 मामले दर्ज किए गए हैं.

अंडमान एवं निकोबार द्वीप समूह से 11 मामले सामने आए हैं.

मेघालय, गोवा और पुदुचेरी से कोविड-19 के सात-सात मामले सामने आये हैं. मणिपुर और त्रिपुरा में दो-दो मामले हैं, जबकि मिजोरम और अरुणाचल प्रदेश में एक-एक मामला दर्ज किया गया है.

मंत्रालय की वेबसाइट पर यह भी कहा गया कि नगालैंड के एक कोविड-19 मरीज को असम में स्थानांतरित कर दिया गया है.

अमेरिका की जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के अध्ययन के अनुसार, विश्व में इस महामारी से अब तक 146,201 लोगों की मौत हो चुकी है और संक्रमण के 2,172,031 मामले सामने आ चुके हैं.

इस महामारी से सर्वाधिक प्रभावित देशों में से एक इटली में 22,170 लोगों, स्पेन में 19,315 लोगों, फ्रांस में 17,920 और ईरान में 4,958 लोगों की मौत हो चुकी है.

स्पेन में संक्रमण के 184,948 मामले, इटली में 168,981 मामले, फ्रांस में 147,113 और ईरान में 79,494 मामले सामने आ चुके हैं.

अमेरिका में कोरोना वायरस के कारण 32,000 से अधिक लोगों की मौत

कोरोना वायरस से बुरी तरह जूझ रहे अमेरिका में इस महामारी के कारण मरने वाले लोगों की संख्या बृहस्पतिवार को 32,917 पर पहुंच गई. कोविड-19 के कारण दुनिया में सर्वाधिक लोगों की मौत अमेरिका में हुई है.

Health workers wearing protective face masks react during a tribute for their co-worker Esteban, a male nurse that died of the coronavirus disease, amid the coronavirus disease (COVID-19) outbreak, outside the Severo Ochoa Hospital in Leganes, Spain, April 13, 2020., Image: 513767317, License: Rights-managed, Restrictions: , Model Release: no, Credit line: SUSANA VERA / Reuters / Forum

(फोटो: रॉयटर्स)

यहां के जॉन्स हॉपकिन्स विश्वविद्यालय से प्राप्त आंकड़ों के मुताबिक बीते 24 घंटों में संक्रमण के कारण 4,491 लोगों की मौत हुई जो वैश्विक महामारी के कारण एक दिन में मौत का सर्वाधिक आंकड़ा है.

मौत के इन आंकड़ों में वे मामले शामिल हैं, जिनमें मौत की वजह कोविड-19 के होने का संदेह है. इन मामलों को पहले के आंकड़ों में शामिल नहीं किया गया था.

इस हफ्ते न्यूयार्क सिटी ने घोषणा की थी कि मृतक संख्या में 3,778 लोगों की मौत के ऐसे मामलों को शामिल किया जाएगा जिनमें व्यक्ति की मौत की संभावित वजह यह वैश्विक महामारी है.

अमेरिका में संक्रमण के 6,67,800 से अधिक मामले सामने आए और न्यूयॉर्क के बाद न्यूजर्सी सबसे प्रभावित राज्य है.

अमेरिका के एक अस्पताल से बरामद शवों के संबंध कोरोना वायरस से भी जुड़े

न्यूयॉर्क: अमेरिका में बृहस्पतिवार को मीडिया में आई खबरों के मुताबिक न्यूजर्सी राज्य के एक अस्पताल के शवगृह में 17 शव पड़े मिले है.

यह घटना इस बात को रेखांकित करती है कि कोरोना वायरस के प्रकोप की वजह से अमेरिका में दीर्घकालिक स्वास्थ्य सेवाएं प्रभावित हो रही हैं.

न्यूयॉर्क सिटी से करीब 80 किलोमीटर दूर छोटे से कस्बे एंदोवर में पुलिस अधिकारियों को अज्ञात सूत्र से इस संबंध में जानकारी मिली थी जिसके बाद उन्होंने शव बरामद किए.

ये शव एंदोवर सबएक्यूट और रिहेबिलिटेशन यूनिट से मिले हैं, जो कि न्यूजर्सी के बड़े अस्पतालों में से एक है. न्यूजर्सी बुरी तरह से कोरोना वायरस प्रकोप से प्रभावित है.

टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक अब इन 17 लोगों की मौत की वजह की पुष्टि नहीं हुई है, लेकिन हाल ही में 68 लोगों की मौत अस्पताल में हुई थी जिनमें से 26 कोरोना वायरस से संक्रमित थे.

हालांकि पुलिस ने अभी पुष्टि नहीं की है कि उन्होंने कितने शव बरामद किए हैं.

एंदोवर पुलिस के फेसुबक पेज पर नर्सिंग होम के एक मालिक चेम सिनबाउन ने बयान में कहा कि शवगृह में सामान्य तौर पर चार शव ही रहते हैं और इतने कभी नहीं रहे.

एंदोवर पुलिस प्रमुख एरिक डेनियल्सन ने सीएनएन को बताया कि स्पष्ट तौर पर कर्मचारियों के पास बेहद काम आ गया है और संभवत: कर्मचारियों की संख्या कम थी.

न्यूजर्सी के गवर्नर फिल मर्फी ने कहा कि इस घटना से वह गुस्से में हैं कि शव के ढेर लगने दिए गए. उन्होंने जांच के आदेश दिए हैं.

चीन ने मृतक संख्या में किया संशोधन, मरने वालों की संख्या 4,632 हुई

बीजिंग/वुहान: कोविड-19 मामलों के आंकड़े छिपाने को लेकर हो रही अंतरराष्ट्रीय आलोचना के बीच चीन ने मृतकों की संख्या में शुक्रवार को संशोधन किया. चीन ने कोरोना वायरस के उत्पत्ति केंद्र वुहान शहर में मृतकों की संख्या में 1,290 का इजाफा किया, जिससे चीन में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या 4,632 हो गई.

समाचार एजेंसी शिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, वुहान नगरपालिका मुख्यालय ने शुक्रवार को कोविड-19 के पुष्ट किए गए मामलों और बीमारी के कारण होने वाली मौतों की संख्या को संशोधित किया.

वुहान में 16 अप्रैल तक कोरोना वायरस के पुष्ट किए गए कुल मामलों में 325 की वृद्धि की गई, जो बढ़कर 50,333 हो गए और मृतकों की संख्या 1,290 की वृद्धि की गई. इस तरह कोरोना वायरस से मौतों की पुष्टि के बाद मृतक संख्या 3,869 हो गई.

संशोधित आंकड़े के मुताबिक चीन में कोविड-19 से हुई मौतों की कुल संख्या बढ़कर 4,632 हो गई है. कुल मामलों की संख्या भी बढ़कर 82,692 हो गई.

Visitors wearing masks walk past Shanghai Disney Resort, China, on Friday. The resort was closed during the Chinese Lunar New Year holiday on Saturday following the outbreak of a new coronavirus. Reuters

(फोटो: रॉयटर्स)

वुहान नगरपालिका मुख्यालय ने एक अधिसूचना में कहा कि संशोधन संबंधित कानूनों और नियमों और इतिहास, लोगों और मृतकों के प्रति जिम्मेदार होने के सिद्धांत के अनुसार किए गए हैं.

कोरोना वायरस के मामलों की संख्या और इसकी गंभीरता को कथित तौर पर छिपाने को लेकर अमेरिका और अन्य राष्ट्रों द्वारा चीन की तीखी आलोचना के बीच आंकड़ों में यह संशोधन किया गया है.

पिछले दिसंबर में वुहान शहर से कोरोना वायरस का संक्रमण फैलना शुरू हुआ था. ऐसा कहा जा रहा है कि यह वुहान के स्थानीय हुनान सी फूड मार्केट से फैला. चीन में तबाही मचाने के बाद अब यह संक्रमण दुनियाभर में फैल चुका है.

चीन ने स्वीकार किया कि कई मामलों में मौत का कारण जानने में गलती हुई या कई मामलों का पता ही नहीं चल पाया.

चीन राष्ट्रीय आयोग (एनएचसी) के आंकड़ों के अनुसार, गुरुवार तक कोरोना वायरस के कुल मामले 82,367 थे, जिनमें 3,342 मौतें शामिल थीं.

आयोग ने बताया कि 1,081 मरीजों का इलाज चल रहा है और 77,944 लोगों को ठीक होने के बाद छुट्टी दे दी गई है.

एनएचसी ने कहा कि गुरुवार को कोविड-19 के 26 नए मामले सामने आए, जिनमें से 15 विदेश से आये हुए नागरिक शामिल हैं, जबकि अन्य 11 नए मामलें स्थानीय संक्रमण के हैं.

इस बीच चीन की पुलिस ने चेहरे पर मास्क बनाने के लिए इस्तेमाल की जाने वाली कपड़ा सामग्री की कीमत बढ़ाने और अवैध रूप से घटिया सामग्री का उत्पादन करने के आरोप में 42 लोगों को गिरफ्तार किया है.

जन सुरक्षा मंत्रालय ने शुक्रवार को एक बयान में कहा कि मास्क के उत्पादन से संबंधित अपराधों पर नकेल कसने के लिए एक राष्ट्रव्यापी कार्य बल का गठन किया गया है.

कोरोना वायरस के प्रकोप संबंधी कभी कोई बात नहीं छिपाई: चीन

चीन ने शुक्रवार को कहा कि उसने कभी यह बात नहीं छिपाई की कोरोना वायरस का देश पर कितना असर पड़ा है.

अमेरिका के नेतृत्व में पश्चिमी ताकतों द्वारा उठाए जा रहे सवालों का जवाब देते हुए चीन ने यह बात कही.

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने वायरस के तेजी से फैलने के कारण मामलों की गिनती में खामी के चलते चीन मृतक संख्या बढ़ाने की बात स्वीकार की लेकिन साथ ही कहा, ‘कभी कुछ छिपाया नहीं गया और हम कभी कुछ छिपाने भी नहीं देंगे.’

बेल्जियम में मरने वालों की संख्या पांच हजार के पार

ब्रसेल्स: यूरोपीय देश बेल्जियम में कोरोना वायरस संक्रमण से मरने वालों की संख्या पांच हजार के पार हो गई है. अधिकारियों ने शुक्रवार को यह जानकारी दी.

(फोटो: रॉयटर्स)

(फोटो: रॉयटर्स)

उल्लेखनीय है कि अधिकतर यूरोपीय देशों के मुकाबले बेल्जियम में संक्रमण के मुकाबले मृत्युदर का अनुपात अधिक है.

दैनिक संवाददाता सम्मेलन में प्रशासन ने बताया कि गत 24 घंटों में रिकॉर्ड 313 लोगों की मौत के साथ कोविड-19 से देश में मरने वालों की संख्या 5,163 हो गई है. यहां इस महामारी से संक्रमित होने के 36,138 मामले सामने आ चुके हैं.

प्रशासन के मुताबिक 1.15 करोड़ आबादी वाले देश में आधी मौतें वृद्धाश्रम में और आधी मौतें अस्पतालों में हुई हैं.

अफ्रीका में कोरोना वायरस से इस साल तीन लाख लोगों की जान जाने की आशंका

जोहानिसबर्ग: अफ्रीका के लिए संयुक्त राष्ट्र आर्थिक आयोग की एक रिपोर्ट में अफ्रीका में कोरोना वायरस संक्रमण से तीन लाख लोगों की मौत होने की आशंका जताई गई है.

यह आंकड़ा जारी करते हुए रिपोर्ट में बताया गया है कि सामान्य स्थिति में तीन लाख लोगों की मौत हो सकती है और अगर हालात खराब हुए और वायरस को रोकने के लिए हस्तक्षेप नहीं किया गया तो अफ्रीका में 33 लाख लोगों की जान जा सकती है तथा 120 करोड़ लोग संक्रमित हो सकते हैं.

इम्पेरियल कॉलेज लंदन के मॉडल के आधार पर गणना करते हुए रिपोर्ट में बताया गया है कि इस महाद्वीप पर अगर सामाजिक दूरी का पालन अच्छी तरह किया जाए और हालात ठीक रहते हैं तो भी 12.2 करोड़ से ज्यादा लोग लोग संक्रमित हो सकते हैं.

विशेषज्ञों ने कहा कि अफ्रीका की कमजोर स्वास्थ्य प्रणाली के लिए यह काफी मुश्किल होगा. अफ्रीका में 18,000 से ज्यादा लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हैं, लेकिन विशेषज्ञों का कहना है कि अफ्रीका में यूरोप के कई सप्ताह बाद संक्रमण के मामले आए हैं और संख्या में बढ़ोतरी भी उसी स्तर पर है.

कतर में तीन और कामगार संक्रमित, अब तक सात लोगों की मौत

दोहा: कतर में 2022 में होने वाले विश्व कप फुटबाल के लिए तैयार किए जा रहे स्टेडियमों में काम कर रहे तीन अन्य कामगारों को कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया है.

कतर में अभी तक कोविड-19 से सात लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 4103 लोग संक्रमित हैं. विश्व कप स्थलों पर काम करने वाले कुल आठ कामगार अब तक संक्रमित हो चुके हैं.

महामारी के कारण विश्व भर में लॉकडाउन के बावजूद फीफा विश्व कप 2022 की तैयारियों का काम नहीं रोका गया है.

कतर में भी मस्जिदें, पार्क और रेस्टोरेंट बंद हैं.

फीफा विश्व कप नवंबर-दिसंबर 2022 में आयोजित किया जाएगा. कोरोना वायरस के कारण टोक्यो ओलंपिक और यूरोपीय फुटबाल चैंपियनशिप को एक साल के लिए टाल दिया गया है, लेकिन फुटबाल की शीर्ष प्रतियोगिता की तिथियों में कोई बदलाव नहीं किया गया है. 

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)