दुनिया

कोरोना वायरस: अमेरिका में 35 हज़ार से अधिक की जान गई, भारत में 480 लोगों की मौत

भारत में कोरोना वायरस के संक्रमण के मामले बढ़कर 14,378 हुए. संशोधन के बाद चीन में मृतक संख्या 4,632 हुई. अफ्रीका में तकरीबन 1,000 लोगों की मौत. युद्धग्रस्त सीरिया के कुर्दिश इलाके में पहली मौत. पाकिस्तान में तबलीग़ी जमात के फैसलाबाद प्रमुख की मौत.

Health workers wearing protective face masks react during a tribute for their co-worker Esteban, a male nurse that died of the coronavirus disease, amid the coronavirus disease (COVID-19) outbreak, outside the Severo Ochoa Hospital in Leganes, Spain, April 13, 2020., Image: 513767317, License: Rights-managed, Restrictions: , Model Release: no, Credit line: SUSANA VERA / Reuters / Forum

(फोटो: रॉयटर्स)

नई दिल्ली/वॉशिंगटन/बीजिंग: भारत में कोरोना वायरस (कोविड-19) से मरने वालों की संख्या शनिवार को बढ़कर 480 हो गई जबकि संक्रमण के मामले बढ़ कर 14,378 हो गए.

वहीं इस महामारी से सबसे बुरी तरह से प्रभावित देश अमेरिका में संक्रमण के मामले सात लाख से ज्यादा हो चुके हैं और यहां 35 हजार से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि अभी भारत में कोविड-19 से 11,906 लोग संक्रमित हैं, जबकि 1,991 लोग उपचार के बाद ठीक हो गए हैं. उन्हें अस्पतालों से छुट्टी दी जा चुकी है. एक व्यक्ति विदेश चला गया है.

इन मामलों में 76 विदेशी नागरिक भी शामिल हैं.

शुक्रवार शाम से अब तक देश में 28 लोगों की मौत हो चुकी है. इनमें मध्य प्रदेश के 12, महाराष्ट्र के सात, दिल्ली के चार, गुजरात के तीन और जम्मू कश्मीर और बिहार का एक-एक व्यक्ति शामिल हैं.

संक्रमण के कारण देश में हुई कुल 480 मौतों में महाराष्ट्र में सर्वाधिक 201 लोगों की मौत हुई. उसके बाद मध्य प्रदेश में 69, दिल्ली में 42, गुजरात में 41 पर और तेलंगाना में 18 लोगों की जान गई.

संक्रमण से तमिलनाडु में 15 मौतें हुई हैं जबकि आंध्र प्रदेश और उत्तर प्रदेश में 14-14 लोगों की मौत हुई है. पंजाब और कर्नाटक में 13-13 लोगों की, राजस्थान में 11 और पश्चिम बंगाल में 10 लोगों की मौत हुई है.

जम्मू कश्मीर में पांच लोगों की जान चली गई जबकि केरल और हरियाणा में तीन-तीन मौतें हुई हैं. झारखंड और बिहार में दो-दो मौतें हुई हैं.

स्वास्थ्य मंत्रालय के सुबह अद्यतन हुए आंकड़ों के अनुसार, मेघालय, हिमाचल प्रदेश, ओडिशा और असम में एक-एक व्यक्ति की मौत इस संक्रमण से हुई है.

देश में संक्रमण के सबसे अधिक पुष्ट मामले महाराष्ट्र में 3,323, उसके बाद दिल्ली में 1,707, तमिलनाडु में 1,323 , मध्य प्रदेश में 1,310 हैं. राजस्थान में 1,229, गुजरात में 1,099 और उत्तर प्रदेश में 849 मामले हैं.

कोरोना वायरस के तेलंगाना में 766 मामले हैं, आंध्र प्रदेश में 572 और केरल में 396 मामले हैं.

कर्नाटक में कोरोना वायरस के 359, जम्मू कश्मीर में 328, पश्चिम बंगाल में 287, हरियाणा में 225 और पंजाब में 202 मामले हैं.

बिहार में संक्रमण के 83 और ओडिशा में 60 मामले सामने आए हैं. उत्तराखंड में 40 लोग वायरस से संक्रमित हैं, जबकि छत्तीसगढ़ और हिमाचल प्रदेश में 36-36 लोग संक्रमित हैं. असम में अब तक 35 मामले सामने आए हैं.

कोरोना वायरस संक्रमण के झारखंड में 33 मामले, चंडीगढ़ में 21 और लद्दाख में 18 मामले हैं. अंडमान-निकोबार द्वीप समूह में 12 मामले सामने आए हैं.

इनके अलावा मेघालय में नौ मामले, जबकि गोवा और पुदुचेरी में सात-सात, मणिपुर और त्रिपुरा में दो-दो मामले हैं, मिजोरम और अरुणाचल प्रदेश में एक-एक मामला सामने आया है.

वेबसाइट में यह भी कहा गया है कि नगालैंड के एक संक्रमित व्यक्ति को असम भेजा गया है.

अमेरिका के जॉन्स हॉप्किन्स विश्वविद्यालय के अनुसार, पिछले साल नवंबर में चीन में पैदा हुए कोरोना वायरस से 154,350 से अधिक लोग जान गंवा चुके हैं और 2,256,844 लोग इससे संक्रमित हुए.

इस महामारी से सर्वाधिक प्रभावित देशों में से एक इटली में 22,745 लोगों, और स्पेन में 20,002 लोगों की मौत हो चुकी है. स्पेन में संक्रमण के 190,839 मामले, इटली में 172,434 मामले सामने आ चुके हैं.

अमेरिका में मामले सात लाख के पार, 35 हज़ार से अधिक की मौत

कोरोना वायरस का प्रकोप झेल रहे अमेरिका में संक्रमण के मामले शुक्रवार को 7,00,000 का आंकड़ा पार कर गए है, जबकि 35,000 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है. बाल्टीमोर स्थित जॉन्स हॉप्किन्स विश्वविद्यालय ने यह जानकारी दी है.

(फोटो: रॉयटर्स)

(फोटो: रॉयटर्स)

इस महामारी का केंद्र बनकर उभरे न्यूयॉर्क में 14,000 से अधिक लोगों की मौत हो गई और अभी तक 200,000 लोग संक्रमित पाए गए हैं. पड़ोसी शहर न्यूजर्सी में 78,000 से अधिक मामले सामने आए और 3,800 लोगों को जान गंवानी पड़ी.

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने शुक्रवार को पत्रकारों को बताया कि अभी तक अमेरिका ने 37.8 लाख से अधिक लोगों की जांच की है जो किसी भी देश में जांच की सबसे अधिक संख्या है.

ट्रंप ने कहा कि इस युद्ध में अंतिम जीत अमेरिका की वैज्ञानिक प्रतिभा से ही संभव होगी. उन्होंने कहा कि पिछले कुछ महीने देश के इतिहास में सबसे अधिक चुनौतीपूर्ण रहे हैं.

वर्जीनिया का किशोर हिरासत केंद्र वायरस का नया सर्वाधिक प्रभावित क्षेत्र

बोन एयर: अमेरिका में वर्जीनिया का किशोर सुधार केंद्र कोरोना वायरस का नया हॉटस्पॉट बन गया है जहां 25 बच्चों में संक्रमण की पुष्टि हुई है.

अधिकारियों ने शुक्रवार को बताया कि देश भर में युवा केंद्रों से सामने आए कुल मामलों में से एक चौथाई मामले इसी केंद्र के हैं.

बाल अधिकार वकीलों और स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने गवर्नर राल्फ नोर्थम से अपील की है कि वह रिचमोंड के बाहर स्थित नव प्रभावित बोन एयर किशोर सुधार केंद्र समेत अन्य केंद्रों से जल्द से जल्द बच्चों को सुरक्षित निकाल लें.

वॉशिंगटन स्थित गैर लाभकारी संगठन यूथ फर्स्ट इनिशिएटिव के प्रमुख लिज रयान ने कहा, ‘यह साफ है कि जन स्वास्थ्य विशेषज्ञों को न सुनने ने हमारे युवाओं एवं समुदायों को अत्यंत जोखिम में डाल दिया है.’

अब तक देश में 97 बच्चों में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि हुई है जिनमें से आधे से ज्यादा वर्जीनिया और लुसियाना में हैं. इस किशोर सुधार केंद्र में 11 साल से 20 साल के 280 बच्चे हैं. अमेरिका में किसी भी अन्य देश के मुकाबले ज्यादा लोग हिरासत में हैं.

न्यूयॉर्क में चेहरा ढंकने का नियम लागू, घर में रहने के आदेश की अवधि बढ़ी

अमेरिका के न्यूयॉर्क में सार्वजनिक स्थल पर लोगों के चेहरा ढकने का नियम शुक्रवार से प्रभावी हो गया. इसके साथ ही कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए सामाजिक दूरी के नियम की अवधि भी एक और महीने के लिए बढ़ा दी गई है.

(फोटो: रॉयटर्स)

(फोटो: रॉयटर्स)

दिशा निर्देश के मुताबिक, हालांकि दो साल से कम उम्र के बच्चों और चिकित्सा वजहों से मास्क नहीं पहनने वालों को नियमों में छूट दी गई है.

गवर्नर एंड्रयू कुओमो ने बृहस्पतिवार को कहा कि राज्य के लोगों को घर पर रहने संबंधी आदेश जो 22 मार्च को जारी किया गया था, की अवधि 15 मई तक बढ़ाई जाती है.

ब्रिटेन में मृतकों की संख्या बढ़ने के बीच टीका बनाने के लिए नया कार्यबल गठित

लंदन: ब्रिटेन ने कोरोना वायरस के टीके की तत्काल खोज और इसके विकसित होने के बाद उद्योगों को इसके व्यापक पैमाने पर निर्माण के लिए तैयार करने के संबंध में कार्यबल गठित किया है.

देश में कोविड-19 से 847 और लोगों की मौत होने के बाद कुल मृतकों की संख्या 14,576 पर पहुंचने के बाद यह फैसला किया गया है. देश में अब तक संक्रमण के 109,769 मामले आ चुके हैं.

नियमित डाउनिंग स्ट्रीट प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए ब्रिटेन के व्यापार मंत्री आलोक शर्मा ने शुक्रवार को कहा कि सरकार के मुख्य वैज्ञानिक सलाहकार सर पैट्रिक वेलेंस के नेतृत्व में नया ‘वैक्सीन टास्क फोर्स’ कारोबार, उद्योग और शोध-शिक्षण क्षेत्र के बीच सहयोग है.

उन्होंने कहा कि इसका लक्ष्य टीका विकसित करने, उद्योगों और शोध संस्थानों तक संसाधन एवं सहयोग पहुंचाने और इसके निर्माण में आ रही किसी बाधा को हटाने के लिए नियमों की समीक्षा के प्रयासों के बीच समन्वय बिठाना है.

इसके अलावा ऑक्सफर्ड यूनिवर्सिटी के नेतृत्व में एक अनुसंधान के तहत मलेरिया रोधी दवा पर परीक्षण किया जा रहा है ताकि यह पता लगाया जा सके कि यह उच्च जोखिम वाले समूहों में लोगों पर कोविड-19 के प्रभावों को कम कर सकता है या नहीं.

चीन में संशोधित मृतक आंकड़ा हुआ 4,632

चीन में बाहर से आए कोरोना वायरस संक्रमित मामलों की संख्या बढ़कर 1,566 हो गई है, जबकि मृतकों की संख्या 4,632 हो गई है. स्वास्थ्य अधिकारियों ने शनिवार को कहा कि मृतकों में से 50 फीसद मामले इस संक्रमण का केंद्र रहे वुहान शहर से हैं.

People wearing face masks wait for a subway train on the first day the city's subway services resumed following the novel coronavirus disease (COVID-19) outbreak, in Wuhan of Hubei province, the epicentre of China's coronavirus outbreak, March 28, 2020. The Chinese characters REUTERS/Aly Song

(फोटो: रॉयटर्स)

देश के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग (एनएचसी) ने वुहान में नए आंकड़े सामने आने के बाद कोरोना वायरस के संशोधित राष्ट्रीय आंकड़े जारी किए हैं.

नए आंकड़ों के मुताबिक शुक्रवार को कुल संक्रमित मामलों का आंकड़ा 82,719 था जिनमें से 4,632 लोगों की मौत हुई है. देश में 1058 मरीजों का अब भी इलाज चल रहा है जबकि 77,029 को अस्पताल से छुट्टी दी जा चुकी है.

वुहान के अधिकारियों ने शुक्रवार को घोषणा की कि 16 अप्रैल तक कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों की संख्या 325 नए मामलों के आने से बढ़कर 50,333 हो गई, जबकि मृतकों की संख्या 1290 और लोगों की मौत के साथ ही बढ़कर 3,896 हो गई है.

कोविड-19 के कारण शुक्रवार को किसी की मौत की खबर नहीं है.

अमेरिका, ब्रिटेन और अन्य देशों द्वारा कोरोना वायरस मामलों की संख्या कथित तौर पर कम दिखाने, पारदर्शिता की कमी और इसकी उत्पत्ति को लेकर लीपापोती करने के आरोपों के बीच चीन की तरफ से यह संशोधित आंकड़े जारी किए गए हैं.

इस वायरस का मामला सबसे पहले पिछले साल दिसंबर में वुहान के स्थानीय हुआनान सी-फूड बाजार में सामने आया था.

चीन ने इस बात से इनकार किया है कि उसने कोविड-19 के मामलों की स्थिति के बारे में कुछ भी छिपाया है.

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता झाओ लीजियान ने कहा कि वायरस के तेजी से हुए प्रसार के कारण गणना में कमी रही जिसकी वजह से चीन को मृतकों की संख्या बढ़ानी पड़ी.

उन्होंने शनिवार को इस बात पर जोर दिया कि कभी भी कुछ छिपाया नहीं गया और न ही हम कुछ भी छिपाने की इजाजत देंगे.

एनएचसी ने कहा कि कोविड-19 के 27 नए मामले सामने आए हैं जिनमें से 17 आयातित मामले हैं. 10 अन्य मामले घरेलू संक्रमण के हैं.

हांगकांग में शुक्रवार तक 1,021 संक्रमण के मामले सामने आए थे, जिनमें से चार लोगों की मौत हो चुकी है. मकाउ में संक्रमण के 45 मामले मिले हैं. ताइवान में छह लोगों की इस वायरस से मौत हो चुकी है जबकि संक्रमण के कुल 395 मामले सामने आए हैं.

अफ्रीका में कोरोना वायरस से 1,000 लोगों की मौत

जोहानिसबर्ग: अफ्रीका में कोरोना वायरस महामारी के कारण 1,000 लोगों की मौत हो चुकी है.

आधिकारिक आंकड़ों के आधार पर समाचार एजेंसी एएफपी की गणना के अनुसार, अफ्रीका में कोरोना वायरस से अल्जीरिया देश में सर्वाधिक 364 लोगों की मौत हुई है. इसके बाद मिस्र में 205, मोरक्को में 135 और दक्षिण अफ्रीका में 50 लोग इस संक्रमण से मारे गए हैं.

आंकड़ों के अनुसार, चीन में पिछले साल दिसंबर में यह संक्रमण फैलने के बाद से अफ्रीकी देशों में संक्रमण के कुल 19,334 मामले सामने आए हैं.

(फोटो: रॉयटर्स)

(फोटो: रॉयटर्स)

आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, अन्य क्षेत्रों की तुलना में अफ्रीका इस संक्रमण से कम प्रभावित हुआ है, लेकिन कई देशों में सीमित जांच के कारण अफ्रीकी अधिकारियों को सटीक तस्वीर नहीं मिल पा रही है.

उत्तरी सीरिया के कुर्दिश इलाके में पहली मौत

बेरूत: युद्धग्रस्त सीरिया के कुर्द बहुल उत्तरी हिस्से में किसी व्यक्ति की कोरोना वायरस से मौत का पहला मामला सामने आया है.

इस अर्द्धस्वायत्त कुर्दिश क्षेत्र के प्रशासन ने विश्व स्वास्थ्य संगठन पर उसके अधिकारियों को तत्काल सूचना न देने का आरोप लगाते हुए कहा कि विषाणु के प्रसार के लिए संयुक्त राष्ट्र एजेंसी और सीरियाई अधिकारियों को जिम्मेदार ठहराया जाएगा.

संयुक्त राष्ट्र की मानवाधिकार एजेंसी ‘ओसीएचए’ ने बताया कि उसे मौत के बारे में डब्ल्यूएचओ से बृहस्पतिवार को नोटिस मिला.

ओसीएचए ने शुक्रवार को टि्वटर पर कहा कि डब्ल्यूएचओ द्वारा मुहैया कराई जानकारी के अनुसार, उत्तर-पूर्वी सीरिया में कामिशली नेशनल अस्पताल में दो अप्रैल को मरने वाला शख्स कोविड-19 से संक्रमित पाया गया था. मृतक व्यक्ति की आयु 53 वर्ष बताई जा रही है.

सीरिया में कोरोना वायरस के 38 आधिकारिक मामले सामने आए हैं और दो लोगों की मौत हो चुकी है.

जापान में संक्रमण के बढ़ते मामलों के कारण चिकित्सा व्यवस्था चरमराई

टोक्यो: जापान में कोरोना वायरस संक्रमण के तेजी से बढ़ते मामलों के कारण उसकी आपात चिकित्सा प्रणाली बुरी तरह चरमरा गई है, जिसकी वजह से अस्पताल बीमार लोगों का इलाज नहीं कर पा रहे हैं और उनकी जांच करने या उन्हें भर्ती करने से इनकार कर रहे हैं.

‘जापानीज एसोसिएशन फॉर एक्यूट मेडिसिन’ और ‘जापान सोसाइटी फॉर इमरजेंसी मेडिसिन’ ने कहा कि कई अस्पतालों के आपात कक्ष हृदयाघात और बाहरी चोट से जूझ रहे मरीजों का भी उपचार करने से इनकार कर रहे हैं.

जापान के अस्पतालों में पर्याप्त बिस्तरों, चिकित्सा कर्मियों एवं उपकरणों का अभाव है. संक्रमण के मामूली लक्षण वाले लोगों को भी अस्पताल में भर्ती होने की अनिवार्यता ने अस्पतालों में भीड़ बढ़ा दी है और चिकित्साकर्मियों की कमी हो गई है.

ओसाका विश्वविद्यालय के चिकित्सक ताकेशी शिमाजु ने कहा, ‘हम सामान्य आपात चिकित्सा मुहैया नहीं करा पा रहे.’

टोक्यो अग्निशमन विभाग ने बताया कि जापान में एंबुलेंस को पांच से अधिक अस्पतालों द्वारा लौटाए जाने या उनके आपात कक्ष तक पहुंचने के लिए 20 मिनट तक घूमते रहने के मार्च में 931 मामले सामने आए.

अमेरिका स्थित जॉन्स हॉप्किन्स विश्वविद्यालय के अनुसार जापान में कोरोना वायरस संक्रमण के 9,787 मामले सामने आए हैं और 190 लोगों की मौत हो गई है.

पाकिस्तान में तबलीगी जमात के फैसलाबाद प्रमुख की मौत

लाहौर/कराची: पाकिस्तान में तबलीगी जमात के फैसलाबाद प्रमुख की कोरोना वायरस से संक्रमित होने के बाद मौत हो गई. इसके साथ ही पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में कोरोना वायरस से संक्रमित जमात के सदस्यों की संख्या 1,100 के पार हो गई.

(फोटो: रॉयटर्स)

(फोटो: रॉयटर्स)

फैसलाबाद में तबलीगी जमात के प्रमुख मौलाना सुहैब रूमी (69) की कोरोना वायरस से संक्रमित होने के बाद बृहस्पतिवार को मौत हो गई.

फैसलाबाद के उपायुक्त मोहम्मद अली ने कहा, ‘मौलाना पिछले महीने लाहौर के रायविंड में तबलीगी जमात के एक कार्यक्रम में शामिल हुए थे. दो नाती-पोते सहित उनके परिवार के पांच सदस्य कोरोना वायरस से संक्रमित हैं.’

पाकिस्तान के अलावा भारत, मलेशिया और ब्रुनेई में भी जमात के कई सदस्य कोरोना वायरस के संभावित प्रमुख स्रोत बनकर उभरे हैं.

आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, देश में संक्रमित लोगों की संख्या 7,481 और मारे गए लोगों की संख्या 143 है.

इधर, पाकिस्तान के सिंध प्रांत में तबलीगी जमात संगठन के 429 सदस्य कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए.

सिंध के मुख्यमंत्री सैयद मुराद अली शाह ने बताया कि पंजाब प्रांत के रायविंड में तबलीगी जमात के वार्षिक कार्यक्रम में हिस्सा लेने वाले 429 सदस्यों के संक्रमित होने की पुष्टि हुई है.

बांग्लादेश सरकार ने पूरे देश को ख़तरे की ज़द में बताया

ढाका: बांग्लादेश सरकार ने घोषणा की है कि पूरा देश कोविड-19 के खतरे से जूझ रहा है क्योंकि महामारी देश के अनेक हिस्सों तक फैल गई है.

बांग्लादेश में शुक्रवार को एक दिन में मौत के सर्वाधिक मामले सामने आए और 15 लोगों की मौत के साथ मृतक संख्या 75 पहुंच गई है.

स्वास्थ्य सेवा महानिदेशालय द्वारा बृहस्पतिवार को जारी आदेश के अनुसार पूरे बांग्लादेश को देश के संक्रामक रोग (रोकथाम, नियंत्रण और उन्मूलन) अधिनियम, 2018 के तहत कोविड-19 संक्रमण के लिए जोखिम पूर्ण क्षेत्र घोषित किया गया है.

इस आदेश से पहले स्वास्थ्य मंत्री जाहिद मलिक ने शुक्रवार को मीडिया ब्रीफिंग में कहा कि पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस संक्रमण के कारण 15 और लोगों की मौत हो गयी जो एक दिन में मौत के सर्वाधिक मामले हैं. इसी दिन संक्रमण के 266 मामले सामने आए.

उन्होंने कहा कि महज एक सप्ताह पहले 10 अप्रैल को कोविड-19 से मरने वालों की संख्या छह थी और संक्रमण के 94 मामले सामने आए.

सिंगापुर में 623 नए मामले सामने आ

सिंगापुर: सिंगापुर में शुक्रवार को कोरोना वायरस के 623 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 5,050 हो गई है.

(फोटो: रॉयटर्स)

(फोटो: रॉयटर्स)

स्वास्थ्य मंत्रालय (एमओएच) ने यहां जारी प्रारभिंक आंकड़ों में कहा कि नए मामलों में ज्यादातर आवास गृहों में विदेशी कर्मचारियों के है.

ज्यादातर मामले उन आवास गृहों से है जहां विदेशी कर्मचारी रहते हैं और जहां मामलों की संख्या बृहस्पतिवार तक 70 गुना बढ़कर 2,689 हो गई है. तीन अप्रैल से पहले तक केवल 38 मामले सामने आए थे.

चैनल न्यूज एशिया की एक खबर के अनुसार, ऐसा माना जा रहा है कि भारतीय मूल के मेगा स्टोर मुस्तफा सेंटर ने विदेशी कर्मचारियों के बीच मामलों को बढ़ाने में अहम भूमिका निभाई है.

मुस्तफा सेंटर संक्रमण मुक्त किये जाने के बाद पिछले सप्ताह से बंद है. यह सेंटर भारतीय वस्तुओं और उत्पादों के लिए स्थानीय लोगों और पर्यटकों के बीच काफी लोकप्रिय है. सिंगापुर में विदेशी कर्मचारियों में से ज्यादातर भारतीय नागरिक हैं और वे इससे जबरदस्त प्रभावित है.

नेपाल में सामने आए 14 नए मरीज, इनमें 12 भारतीय

काठमांडू: नेपाल में शुक्रवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 14 नए मामले सामने आए. इन संक्रमितों में 12 भारतीय हैं. इसके साथ ही देश में संक्रमितों की संख्या लगभग दोगुनी हो गई.

स्वास्थ्य और जनसंख्या मंत्रालय के मुताबिक, देश में संक्रमण के 14 नए मामले सामने के साथ ही संक्रमितों की संख्या बढ़कर 30 तक पहुंच गई. इससे पहले नेपाल में संक्रमितों की संख्या 16 थी.

मंत्रालय की ओर से जारी बयान के मुताबिक, पूर्वी नेपाल के उदयपुर और दक्षिणी नेपाल के चितवन जिले में कुल 14 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई.

उदयपुर के मुख्य जिला अधिकारी दीपक पहाड़ी के मुताबिक, उदयपुर जिले में संक्रमित पाए गए सभी 12 लोग भारतीय हैं और इन्हें कुछ समय के लिए पृथकवास में भेजा गया है. ये सभी एक स्थानीय मस्जिद में रहे रहे थे लेकिन स्थानीय लोगों की सूचना के बाद इन्हें एक विद्यालय में पृथक रखा गया था.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)