राजनीति

यूपी: मोदी की आलोचना करने वाले कथित ऑडियो को लेकर भाजपा के सीतापुर विधायक को नोटिस

सोशल मीडिया पर वायरल हुए इस कथित ऑडियो में विधायक राकेश राठौर ने कथित तौर पर कोरोना वायरस के संबंध में लोगों से ताली, घंटी और प्लेट बजाने को गलत बताते हुए आपत्तिजनक टिप्पणी की है.

राकेश राठौर. (फोटो साभार: फेसबुक)

राकेश राठौर. (फोटो साभार: फेसबुक)

लखनऊ: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना करने वाली एक कथित ऑडियो क्लिप सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद भारतीय जनता पार्टी ने अपने सीतापुर के विधायक को पार्टी विरोधी गतिविधियों में संलिप्तता के मामले में कारण बताओ नोटिस जारी किया है .

भाजपा की ओर से जारी विज्ञप्ति में बताया गया, ‘भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह के निर्देश पर प्रदेश महामंत्री विद्यासागर सोनकर ने सीतापुर सदर के विधायक राकेश राठौर को अनुशासनहीनता पर कारण बताओ नोटिस जारी किया है.’

विज्ञप्ति में कहा गया, ‘राठौर के खिलाफ पार्टी विरोधी कृत्य करने की शिकायतें मिल रही थीं, जिस पर संज्ञान लेते हुए यह कार्रवाई की गई है. राठौर को एक सप्ताह के भीतर अपना लिखित स्पष्टीकरण प्रस्तुत करना होगा.’

राठौर की बदायूं के भाजपा नेता जेपी साहू के साथ बातचीत का कथित ऑडियो सोशल मीडिया पर बृहस्पतिवार को वायरल हो गया, जिसमें उन्होंने प्रधानमंत्री के बारे में कथित रूप से आलोचनात्मक टिप्पणी की है.

ऑडियो विधायक राठौर ने कथित तौर पर कोरोना वायरस के संबंध में लोगों से ताली, घंटी और प्लेट बजाने को गलत बताया है.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, इस ऑडियो में कथित तौर पर यह कहते हुए उनकी आवाज सुनी जा सकती है, ‘क्या आप ताली बजाकर कोरोना वायरस भगा दोगे? आप मूर्खता के रिकॉर्ड तोड़ रहे हो. क्या कोरोना शंख बजाने से चला जाएगा. आपके जैसे लोग मूर्ख हैं. वे आपका रोजगार ले लेंगे.’

राठौर ने ऑडियो में अन्य आपत्तिजनक बातें भी कही हैं.

हालांकि इस बारे में राठौर की प्रतिक्रिया लेने का प्रयास किया गया लेकिन उनसे बात नहीं हो सकी.

मालूम हो कि 25 मार्च को पहले चरण के लॉकडाउन की घोषणा से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में लोगों से एकजुट होने के लिए 22 मार्च को सुबह सात बजे से लेकर रात नौ बजे तक घर से न निकलने की अपील की थी.

उन्होंने कहा था कि जनता कर्फ्यू मतलब जनता के लिए, जनता द्वारा खुद पर लगाया गया कर्फ्यू है.

उन्होंने कहा था, इस जनता कर्फ्यू के दरमियान कोई भी नागरिक घरों से बाहर न निकले. न सड़क पर जाएं, न मोहल्ले में या सोसाइटी में इकट्ठे हों, अपने घरों में ही रहें.

इसके साथ ही उन्होंने लोगों से शाम पांच बजे अपने घर की बालकनी में आकर कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे लोगों का धन्यवाद करने के लिए ताली, थाली और शंख बजाने का भी अनुरोध किया था.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)