भारत

महाराष्ट्र की औद्योगिक इकाइयों को काम करने की अनुमति, गुजरात के सांणद में भी कुछ उद्योग शुरू

महाराष्ट्र में 13,448 औद्योगिक इकाइयों को अपना कामकाज बहाल करने की अनुमति मिली है, वहीं गुजरात के सांणद में वाहन उद्योगों ने फिर से काम करना शुरू कर दिया है. यहां 50 प्रतिशत क्षमता के साथ काम हो रहा है.

(प्रतीकात्मक फोटो: रॉयटर्स)

(प्रतीकात्मक फोटो: रॉयटर्स)

मुंबई/नई दिल्ली: महाराष्ट्र में 13,448 औद्योगिक इकाइयों को अपना कामकाज बहाल करने की अनुमति मिली है. वहीं, गुजरात के साणंद में कुछ उद्योगों में काम शुरू हो गया है.

उद्योग मंत्री सुभाष देसाई ने मंगलवार को बताया कि महाराष्ट्र में 13,448 औद्योगिक इकाइयों को अपना कामकाज बहाल करने की इज़ाजत मिली है.

केंद्र सरकार ने राज्यों को 20 अप्रैल से औद्योगिक गतिविधियां बहाल करने की इजाजत देने की सलाह दी थी, जो कोरोना वायरस के मद्देनजर लगाए गए लॉकडाउन के चलते थम गई थी.

इस मुद्दे पर मुख्यमंत्रियों के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सोमवार के वीडियो कांफ्रेंस में भी चर्चा हुई थी और मोदी ने राज्यों से नियमों में ढील देने पर अपनी नीतियां बनाने को कहा था.

देसाई ने कहा, ‘एमआईडीसी (महाराष्ट्र औद्योगिक विकास निगम) उद्योगों की स्वघोषित सूचनाओं के आधार पर इज़ाज़त जारी कर रहा है.’

उन्होंने कहा, ‘राज्य उद्योग विभाग को अब तक 25,000 से अधिक आवेदन मिले हैं और 13,448 इकाइयों को इजाजत गई है.’

कामकाज बहाल करने के साथ ही औद्योगिक इकाइयों को एक-दूसरे से दूरी सुनिश्चित करना, कर्मचारियों के रहने का अस्थायी प्रबंध करना एवं सैनेटाइजर उपलब्ध कराना होगा.

देसाई ने कहा, ‘श्रमिकों को कुछ काम मिलना चाहिए और औद्योगिक गतिविधि बहाल होने पर ठहराव की वर्तमान स्थिति में कुछ गतिशीलता आएगी.’

स्थानीय सूत्रों के अनुसार राज्य के उन क्षेत्रों में छोटी औद्योगिक इकाइयों ने कामकाज चालू कर दिया है जहां महामारी का असर नहीं है.

गुजरात के साणंद में कुछ उद्योगों में काम शुरू हो गया है: गृह मंत्रालय

गृह मंत्रालय की एक अधिकारी ने बताया कि अहमदाबाद भेजी गई अंतर-मंत्रालयी केंद्रीय टीम ने (आईएमसीटी) पाया है कि अहमदाबाद के साणंद औद्योगिक बेस में वाहन उद्योगों ने फिर से काम करना शुरू कर दिया है और 50 प्रतिशत क्षमता के साथ वहां काम हो रहा है.

गृह मंत्रालय में संयुक्त सचिव पुण्य सलिला श्रीवास्तव ने यहां संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि दो टीमें गुजरात में अहमदाबाद और सूरत भेजी गई थीं.

श्रीवास्तव ने रिपोर्ट का विवरण देते हुए कहा कि अहमदाबाद गई टीम ने पाया कि साणंद औद्योगिक बेस में दवा उद्योग में काम हो रहा है.

उन्होंने कहा कि बेस में वाहन औद्योगिक इकाइयों ने भी काम शुरू कर दिया है और 50 प्रतिशत क्षमता के साथ काम हो रहा है.

उन्होंने टीम के ब्योरे का हवाला देते हुए कहा कि कुल 50,000 श्रमिकों में से करीब 30,000 श्रमिक काम पर लौट चुके हैं.