दुनिया

कोरोना वायरस: भारत में संक्रमण में रिकॉर्ड बढ़ोतरी, मामले 40 हज़ार हुए और 1300 से अधिक की मौत

विभिन्न देशों में कोरोना वायरस के चलते लागू लॉकडाउन से छूट मिलने पर घरों से निकले लोग. दुनिया भर में मरने वालों की संख्या 2.43 लाख से ज़्यादा हुई. सिंगापुर ने कहा कि वायरस को लेकर सोशल मीडिया पर भारतीयों का अपमान करने वाले के ख़िलाफ़ कार्रवाई होगी. ईरान में 10 मार्च के बाद पहली बार संक्रमण के मामलों में कमी आई.

A policeman gives hand sanitiser to a child as a group of migrant labourers are made to stay under a flyover on the Hapur Road by the administration for their safety, in Ghaziabad. Photograph: Arun Sharma/PTI Photo

(फोटो: पीटीआई)

नई दिल्ली/न्यूयॉर्क/बीजिंग: भारत में कोरोना वायरस यानी कोविड-19 के कारण जान गंवाने वालों की संख्या रविवार को 1,301 हो गई और संक्रमित लोगों की कुल संख्या बढ़कर 39,980 तक पहुंच गई.

इतना ही नहीं भारत में पिछले 24 घंटे के दौरान संक्रमण के मामले में रिकॉर्ड बढ़ोतरी की है. पिछले 24 घंटे में संक्रमण के मामले 2,644 नए मामले सामने आए हैं और 83 लोगों की मौत दर्ज की गई है.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक 28,046 लोग अब भी संक्रमित हैं, जबकि 10,632 लोग स्वस्थ होकर घर जा चुके हैं और एक मरीज विदेश चला गया है.

संक्रमण के कुल मामलों में 111 विदेशी नागरिक भी शामिल हैं.

देश में घातक विषाणु के चलते हुईं कुल 1,301 मौतों में से सर्वाधिक 521 लोगों की जान महाराष्ट्र में गई है. इसके बाद 262 लोगों की गुजरात में, 151 की मध्य प्रदेश में, राजस्थान में 65, दिल्ली में 64, उत्तर प्रदेश में 43 और पश्चिम बंगाल तथा आंध्र प्रदेश में 33-33 लोगों की मौत हुई है.

तमिलनाडु में मृतक संख्या 29, तेलंगाना में 28 जबकि कर्नाटक में मरनेवालों की संख्या 25 हो गई है.

पंजाब में इस घातक बीमारी से 20 लोगों की जान गई है जबकि जम्मू-कश्मीर में आठ, केरल, बिहार और हरियाणा में चार-चार लोगों ने अपनी जान गंवाई है. झारखंड में कोविड-19 से तीन लोगों की मौत हुई है.

मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक मेघालय, हिमाचल प्रदेश, ओडिशा और असम में एक-एक व्यक्ति की मौत हुई है.

राजधानी दिल्ली में शनिवार को 24 घंटे के दौरान 384 मामले सामने आए और यहां कुल मामलों की संख्या बढ़कर 4,122 हो गई. इसी तरह उत्तर प्रदेश में 159 मामले सामने आए और कुल संख्या 2,487 पहुंच गई.

कोरोना वायरस से सर्वाधिक प्रभावित महाराष्ट्र में शनिवार को 790 नए मामले सामने आए और 36 लोगों की मौत दर्ज की गई. यहां संक्रमण के कुल मामले 12,296 हो चुके हैं.

गुजरात में 5054 मामले, मध्य प्रदेश में 2846, राजस्थान में 2770 और तमिलनाडु में संक्रमण के अब तक 2757 मामले सामने आ चुके हैं.

लॉकडाउन से छूट मिलने पर दुनियाभर में घरों से बाहर निकल रहे हैं लोग

ग्रेटना (अमेरिका)/बार्सिलोना: अमेरिका से लेकर यूरोप और एशिया तक दुनिया के कई हिस्सों में लोग कोरोना वायरस के कारण लगाई पाबंदियों में छूट मिलने और गर्मी बढ़ने के कारण अपने घरों से बाहर निकल रहे हैं.

अमेरिका और यूरोप में वसंत ऋतु के आगमन के बाद हफ्तों तक घर में बंद रहे लोग शनिवार को बाहर निकले और खिली हुई धूप का आनंद लिया जबकि रूस और पाकिस्तान में कोरोना वायरस के अतिरिक्त हॉटस्पॉट सामने आए हैं.

संकट में स्थिरता आने के बीच कुछ यूरोपीय देशों और अमेरिका के राज्यों ने लॉकडाउन के प्रतिबंधों में कुछ ढील देनी शुरू कर दी है, ताकि 1930 जैसी महामंदी की चपेट में आने से अर्थव्यवस्था को बचाया जा सके.

ऐसे में फ्रांस, स्पेन, जर्मनी और अन्य सरकारों की योजना कंपनियों, उद्योगों, कार्यालयों और गिरजाघरों को धीरे-धीरे दोबारा खोलने की है. हालांकि इनके दोबारा खोले जाने के बीच सख्त नियंत्रण की बात भी कही जा रही है.

अमेरिका की न्यूयॉर्क सिटी के कृषि बाजार ने वसंत के फूल खरीदने की प्रतीक्षा कर रहे लोगों के बीच छह फुट (दो मीटर) की दूरी का नियम लागू किया है.

न्यूयॉर्क के गवर्नर एंड्र्यू क्योमो ने कहा कि लोगों को बाहर निकलने और गर्म मौसम का आनंद लेने की जरूरत है. क्योमो ने कहा, ‘चहलकदमी के लिए निकलें लेकिन भौतिक दूरी के नियम का सम्मान करें और मास्क पहनें.’

इस बीच अमेरिकी नौसेना ब्लू एंजेल्स और अमेरिकी वायुसेना थंडरबर्ड्स के लड़ाकू विमानों ने लोगों को घर से बाहर निकलने पर मजबूर कर दिया जिन्होंने स्वास्थ्य कर्मियों को सम्मानित करने के लिए अटलांटा, बाल्टीमोर और वॉशिंगटन के ऊपर उड़ान भरी.

(फोटो: रॉयटर्स)

(फोटो: रॉयटर्स)

अमेरिका के न्यू जर्सी राज्य ने पार्कों को फिर से खोल दिया. हालांकि कई पार्कों को 50 फीसदी तक पार्किंग भर जाने के कारण लोगों को लौटाना पड़ा.

लुसियाना में लोग फिर से रेस्तरां में भोजन कर सकते हैं, लेकिन उन्हें बाहर 10-10 फुट की दूरी पर मौजूद टेबलों पर बैठना होगा. उन्हें वेटर की सुविधा प्राप्त नहीं होगी. नेब्रास्का में एक मॉल प्लेक्सी कांच के बने अवरोधकों और हैंड सैनेटाइजिंग स्टेशनों के साथ फिर से खुला है.

कोलोराडो के ज्यादातर हिस्सों में लोग अपने बाल कटवा सकते हैं और स्टोर पर खरीदारी कर सकते हैं जबकि डेनवर और आस-पास के राज्यों में घरों में रहने के आदेश बरकरार हैं.

व्योमिंग में नाई की दुकानें, सैलून, जिम और पालनाघरों को फिर से खोलने की इजाजत दी गई है. माइने में गोल्फ कोर्स, हेयरड्रेसर और दांत के डॉक्टरों के क्लिनिक खुल गए हैं. दक्षिण कैरोलीना में बीच के पास स्थित होटल और राज्य के उद्यानों को फिर से खोल दिया गया है.

हालांकि अमेरिका लॉकडाउन को खत्म करने और न करने को लेकर दो धड़ों में बंट गया है.

रिपब्लिकन के बहुमत वाली सीनेट की सोमवार को बैठक होगी जबकि डेमोक्रेट के नियंत्रण वाली प्रतिनिधि सभा बंद रहेगी.

चीन में लोग पांच दिन की छुट्टियों के मद्देनजर घरेलू यात्रा पर पाबंदी में छूट मिलने के बाद पर्यटक स्थलों पर उमड़ रहे हैं.

चीन की मीडिया में आई खबरों के अनुसार, छुट्टी के पहले दो दिनों में करीब 17 लाख लोग बीजिंग के पार्कों में गए और शंघाई के मुख्य पर्यटक स्थल पर 10 लाख से अधिक लोग आए. कई स्थलों ने पर्यटकों की संख्या क्षमता से 30 प्रतिशत या उससे कम ही रखी ताकि भीड़ कम रहे.

स्पेन में दौड़ लगाने वालों से लेकर दक्षिणी अमेरिका के राज्यों में समुद्र तटों पर जाने वाले लोग मास्क पहने दिखाई दिए. स्पेन में 14 मार्च को लगे लॉकडाउन के बाद से पहली बार शनिवार को कई लोग घरों से बाहर निकले.

कोरोना वायरस संक्रमण की वजह से करीब सात हफ्तों से लॉकडाउन झेल रहे स्पेन में हजारों लोग शनिवार को सुबह जल्दी उठ गए और बाहर व्यायाम के लिए मिली छूट का फायदा सैर और कसरत कर उठाया.

सुबह करीब छह बजे सड़कों पर काफी लोग दौड़ते, साइकिल चलाते और तेज चाल से चलते दिखे. इस दौरान बहुत से लोग ऐहतियात बरतते भी नजर आए.

प्रधानमंत्री पेड्रो सांचेज ने नागरिकों से सतर्क रहने को कहा है. कोविड-19 से स्पेन में 25,100 से अधिक लोगों की मौत हुई है.

दुनिया के अन्य हिस्सों में वैश्विक महामारी का खतरा अब भी नजर आ रहा है. रूस और पाकिस्तान में एक दिन में संक्रमण के सबसे अधिक मामले सामने आए.

रूसी समाचार एजेंसियों ने खबर दी के देश के सुदूर उत्तर-पूर्वी क्षेत्र में एक बड़े प्राकृतिक गैस मैदान में कार्यरत 10,000 में से 3,000 कर्मचारी संक्रमित पाए गए हैं. वहीं, पाकिस्तान में भी वायरस के मामले बढ़ रहे हैं.

जन स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, रूस के कम से कम पांच प्रांतों में निमोनिया के मामलों में वृद्धि देखी गई है. वायरस से सबसे बुरी तरह प्रभावित मास्को में सांस संबंधी मामलों की वजह कोरोना वायरस ही माना जा रहा है.

(फोटो: रॉयटर्स)

(फोटो: रॉयटर्स)

अमेरिका के जॉन्स हॉप्किन्स विश्वविद्यालय के अनुसार, इस संक्रामक रोग से दुनियाभर में 243,922 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है, जिनमें से 66,000 से अधिक लोगों ने अमेरिका में जान गंवाई और इटली में 28,710, ब्रिटेन में 28,131, फ्रांस में 24,729 लोगों की मौत हुई.

पूरी दुनिया में संक्रमण के मामले बढ़कर 3,440,904 हो चुकी है.

स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने आगाह किया है कि अगर जांच का दायर नहीं बढ़ाया गया तो संक्रमण का दूसरा दौर शुरू हो सकता है.

सिंगापुर ने शनिवार को ऐलान किया कि वह 12 मई से चुनिंदा कारोबारों को फिर से खोलने की अनुमति देगा और श्रीलंका ने कहा कि सरकार तथा निजी क्षेत्र 11 मई से काम फिर से शुरू कर सकते हैं.

बांग्लादेश ने पिछले महीने कपड़ों के हजारों कारखानों को खोला था और वहां शनिवार को कोरोना वायरस के 552 नए मामलों की पुष्टि हुई.

ईरान में 10 मार्च के बाद पहली बार संक्रमण के मामलों में कमी आई

तेहरान: ईरान में कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में कमी आई है और शनिवार को 10 मार्च के बाद से सबसे कम 802 नए मामले सामने आए.

ईरान में फरवरी के मध्य में कोरोना वायरस संक्रमण फैलना शुरू हुआ था और तब से लेकर अब तक देश में संक्रमण के 96,448 मामले सामने आ चुके हैं.

ईरान के स्वास्थ्य मंत्रालय के प्रवक्ता किआनोउश जहांपोर ने सरकारी टेलीविजन मे कहा, ‘हाल के सप्ताहों की तुलना में संक्रमण के नए मामलों में कमी साफ दिखाई देती है.’

उन्होंने कहा कि 77,350 लोगों को इलाज के बाद छुट्टी दे दी गई. उन्होंने दावा किया कि यह विश्व में सबसे ज्यादा ठीक होने वाले लोगों के प्रतिशत में शामिल है.

उन्होंने बताया कि पिछले चौबीस घंटों में 65 लोगों की मौत हुई है और इसी के साथ संक्रमण से मरने वालों की संख्या 6,156 पर पहुंच गई है.

देश के स्वास्थ्य मंत्री इराज हरिर्ची ने आगाह किया है कि भले ही संक्रमण के मामले कम हुए हैं लेकिन यह संख्या तेजी से बदल भी सकती है. खुद संक्रमण से उबरे हरिर्ची ने कहा कि किसी भी तरह की लापरवाही गंभीर समस्याएं खड़ी कर सकती है.

चीन में कोरोना वायरस के 14 नए मामले सामने आए

चीन में कोविड-19 के 14 नए मामले आने के साथ ही देश में संक्रमितों की संख्या 82,877 हो गई है जबकि 4,630 लोग इस जानलेवा विषाणु से जान गंवा चुके हैं.

(फोटो: रॉयटर्स)

(फोटो: रॉयटर्स)

स्वास्थ्य अधिकारियों ने रविवार को बताया कि नए मामलों में 12 मरीजों में बीमारी के कोई लक्षण नहीं दिखे.

चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग (एनएचसी) ने बताया कि शनिवार को दो और लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि हुई थी जिसमें एक आयातित मामला तथा दूसरा स्थानीय मामला था.

उसने बताया कि मृतकों की संख्या 4,633 बनी हुई है, क्योंकि शनिवार को मौत का कोई नया मामला नहीं आया जबकि कुल संक्रमितों की संख्या 82,877 हो गई जिनमें से 531 का अब भी इलाज चल रहा है.

एनएचसी ने बताया कि चीन में अब तक कुल 1,672 आयातित मामलों की पुष्टि हुई है जिनमें से विदेश से आए 451 चीनी नागरिकों का अब भी इलाज चल रहा है और उनमें से छह की हालत गंभीर है.

साथ ही शनिवार को 12 नए ऐसे मामले आए, जिनमें बीमारी के कोई लक्षण नहीं देखे गए. अभी तक चीन में बिना लक्षण वाले मरीजों की संख्या 968 है जिनमें से 98 लोग विदेश से लौटे थे.

मध्य हुबेई प्रांत में शनिवार तक बिना लक्षण वाले 651 मामले सामने आए.

पाकिस्तान में संक्रमितों की संख्या 19,000 के पार, अब तक 440 की मौत

इस्लामाबाद: पाकिस्तान में रविवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 989 नए मामले सामने आने के साथ ही संक्रमितों की संख्या 19,000 के पार पहुंच गई.

राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवा मंत्रालय ने कहा कि पिछले 24 घंटे में 23 मरीजों की मौत होने से कुल मृतकों की संख्या 440 हो गई है. अब तक 4,817 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं.

देश के कुल 19,103 मामलों में से 7,106 पंजाब से, 7,102 सिंध से, 2,907 खैबर-पख्तूनख्वा से, 1,172 बलूचिस्तान से, 393 इस्लामाबाद से, 356 गिलगित-बाल्टिस्तान से जबकि पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर से 67 मरीज सामने आए हैं.

देश में अब तक 203,025 जांच की गई हैं, जिसमें पिछले 24 घंटे में की गई 8,716 नमूनों की जांच भी शामिल है.

बांग्लादेश में 175 लोगों की मौत हुई, लॉकडाउन बढ़ाने की योजना

ढाका: बांग्लादेश कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए लागू लॉकडाउन को 15 मई तक बढ़ाने की योजना बना रहा है.

इस बीच शनिवार को देश में कोविड-19 से गत 24 घंटे में पांच और लोगों की मौत हो गई जिससे कोरोना वायरस के संक्रमण से मरने वालों की संख्या 175 हो गई है.

(फोटो: रॉयटर्स)

(फोटो: रॉयटर्स)

बांग्लादेश के प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) ने शनिवार को बताया, ‘पीएमओ लॉकडाउन बढ़ाने के प्रस्ताव पर विचार कर रहा है.’

इससे पहले प्रधानमंत्री शेख हसीना ने देश में कोरोना वायरस के संक्रमण के बढ़ने मामलों को देखते हुए कोविड-19 के खिलाफ विस्तृत अभियान चलाने का आदेश दिया था.

सरकार ने शुरुआत में 26 मार्च को 10 दिनों के लिए आम छुट्टी की घोषणा की थी और क्रमवार तरीके से 25 अप्रैल तक इसका विस्तार किया. बाद में सरकार ने देश में लॉकडाउन की अवधि पांच मई तक बढ़ा दी.

इस बीच, स्वास्थ्य सेवा के महानिदेशालय ने बताया कि पिछले 24 घंटे में कोविड-19 के 552 नए मामले आने के साथ देश में कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 8,790 हो गई है.

उन्होंने बताया कि 24 घंटे में कोविड-19 के मरीजों की सबसे अधिक वृद्धि हुई है. स्वास्थ्य सेवा के महानिदेशालय के अतिरिक्त महानिदेशक प्रोफेसर नसीमा सुल्ताना ने बताया कि देश के 64 प्रशासनिक जिलों में से 63 जिलों में कोविड-19 के मामले सामने आए हैं. बांग्लादेश में कोविड-19 का पहला मामला 18 मार्च को सामने आया था.

सिंगापुर: सोशल मीडिया पर भारतीयों का अपमान करने वाले व्यक्ति पर कार्रवाई होगी

सिंगापुर: सिंगापुर के एक वरिष्ठ मंत्री ने शनिवार को कहा कि जानबूझ कर गुस्सा, नाराजगी और नस्ली तनाव पैदा करने के लिए सोशल मीडिया पर कथित तौर पर भारतीयों का अपमान करने वाले यहां के एक नागरिक के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

चैनल न्यूज एशिया की खबर के मुताबिक, ट्विटर पर एक व्यक्ति ने दक्षिण एशियाई मूल के लोगों का उल्लेख करने के लिए अपमानजनक शब्दों का इस्तेमाल किया. उसने ट्वीट किया कि कोविड-19 महामारी के बीच, एक दूसरे के करीब बैठने वाले लोग मलय, भारतीय या विदेशी हैं, न कि सच्चा सिंगापुरी. इससे सिंगापुर में रोष व्याप्त हो गया.

इस घटनाक्रम पर कानून एवं गृह मंत्री के. षणमुगम ने फेसबुक पोस्ट में लिखा कि पुलिस ने जांच की है और उसका पता लगा लिया है वह महिला नहीं है और चीन का रहने वाला भी नहीं है.

मंत्री ने कहा कि कुछ हफ्ते पहले इस व्यक्ति द्वारा किए गए पोस्ट में भारतीयों के बारे में एक अपमानजनक शब्द का इस्तेमाल किया गया था. इस शब्द को तमिल मूल के लोगों के लिये अपमानजनक माना जाता है.

मंत्री ने कहा, ‘यह टिप्पणी जानबूझ कर गुस्सा, नाराजगी, नस्ली तनाव पैदा करने के लिए की गई. कार्रवाई की जाएगी.’

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)