भारत

कोरोना संक्रमण के कारण लोकपाल के सदस्य जस्टिस एके त्रिपाठी का निधन

छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट के पूर्व मुख्य न्यायाधीश जस्टिस एके त्रिपाठी को दो अप्रैल को दिल्ली के एम्स अस्पताल में भर्ती किया गया था. वह 62 वर्ष के थे.

AK Tripathi

जस्टिस एके त्रिपाठी. (फोटो साभार: lokpal.gov.in)

नई दिल्ली: छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट के पूर्व मुख्य न्यायाधीश और लोकपाल के सदस्य जस्टिस एके त्रिपाठी की कोरोना संक्रमण के चलते मौत हो गई. वह 62 वर्ष के थे.

रिटायर्ड जस्टिस त्रिपाठी लोकपाल के उन चार न्यायिक सदस्यों में से एक थे जिनकी नियुक्ति पिछले साल 23 मार्च 2019 को हुई थी. उन्हें दो अप्रैल को दिल्ली के एम्स अस्पताल में भर्ती किया गया था.

लाइव लॉ के मुताबिक उनकी बेटी और उनके घर खाना बनाने वाले को भी संक्रमण हुआ था हालांकि सूत्रों के जरिये पता चला है कि वे अब ठीक हो चुके हैं.

जस्टिस एके त्रिपाठी ने दिल्ली के श्रीराम कॉलेज ऑफ कॉमर्स (एसआरसीसी) से अर्थशास्त्र में ग्रेजुएशन किया और दिल्ली विश्वविद्यालय से ही लॉ की डिग्री प्राप्त की थी.

उन्होंने 1981 में पटना हाईकोर्ट से अपनी प्रैक्टिस शुरु की थी और नौ अक्टूबर 2006 को उन्हें पटना हाईकोर्ट का एडिशनल जज नियुक्त किया गया. इसके बाद सात जुलाई 2018 को वे छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश बने.

स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक कोरोनो वायरस विशेष रूप से बहुत छोटे बच्चों और बुजुर्गों के लिए खतरनाक है.

देश भर में कोरोना संक्रमितों आंकड़ा बढ़कर 37,776 पर पहुंच गया है. स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा बीते शनिवार शाम को जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक, देश में कोरोनावायरस से अब तक 1,223 लोगों की मौत हो चुकी है.

आलम ये है कि पिछले 24 घंटों में कोरोना के सबसे ज्यादा 2,411 नए मामले सामने आए हैं और 71 लोगों की मौत हुई है. इस बीमारी से अब तक 10,018 मरीज ठीक भी हो चुके हैं.