राजनीति

लॉकडाउन: लद्दाख के भाजपा अध्यक्ष चेरिंग दोरजे ने इस्तीफा दिया

केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख में भाजपा अध्यक्ष चेरिंग दोरजे ने कहा कि लॉकडाउन के दौरान देशभर में फंसे हुए मरीजों, श्रद्धालुओं और छात्रों के साथ लद्दाख के करीब 20 हजार लोगों को वापस ला पाने में उनकी पार्टी और लद्दाख प्रशासन विफल रहा है.

Chering Dorje Larook Fb

लद्दाख भाजपा अध्यक्ष चेरिंग दोरजे. (फोटो साभार: फेसबुक/Cheringdorjaylakrookofficialpage)

नई दिल्ली: केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख में भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष चेरिंग दोरजे ने रविवार को पार्टी से इस्तीफा दे दिया.

इंडियन एक्सप्रेस के अनुसार, उन्होंने आरोप लगाया कि कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए लागू लॉकडाउन के दौरान देशभर में फंसे हुए लद्दाख के लोगों को वापस ला पाने में उनकी पार्टी और लद्दाख प्रशासन विफल रहा.

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा को लिखे पत्र में दोरजे ने कहा कि फंसे हुए लोगों के हालात को लेकर लद्दाख का प्रशासन असंवेदनशील था.

उन्होंने बताया कि मरीजों, श्रद्धालुओं और छात्रों के साथ लद्दाख के करीब 20 हजार लोग देश के विभिन्न स्थानों में फंसे हुए हैं.

दोरजे ने कहा कि वे इस मामले को स्थानीय प्रशासन, उपराज्यपाल और भाजपा राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व लद्दाख में पार्टी मामलों के प्रभारी अविनाश राय खन्ना के पास लेकर गए लेकिन कोई फर्क नहीं पड़ा.

उन्होंने प्रशासन पर लेह और कारगिल दोनों की स्वायत्त पहाड़ी परिषदों को निष्प्रभावी बनाने का भी आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि प्रशासन इन परिषदों के कामकाज में उनकी मदद नहीं कर रहा है.