भारत

केरल: लॉकडाउन के बीच मंदिर में भीड़ लगाने के आरोप में भाजपा नेता समेत चार गिरफ़्तार

केरल के त्रिसूर ज़िले के एरुमापेट्टी स्थित एक मंदिर में शुक्रवार को भागवत कथा का पाठ हो रहा था. गिरफ़्तार किए गए लोगों को बाद में ज़मानत दे दी गई.

Erumapetty

त्रिसूर: कोरोना वायरस को लेकर देशभर में लागू लॉकडाउन के बीच केरल में सार्वजनिक स्थानों पर भीड़ रोकने के लिए लागू नियम का उल्लंघन करने के मामले में भाजपा के एक नेता और मंदिर के एक प्रमुख समेत पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया.

प्रमुख पर मंदिर में धार्मिक अनुष्ठान के दौरान भीड़ लगाने का आरोप है.

मामला त्रिसूर जिले के एरुमापेट्टी का है. द न्यू इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, तकरीबन 100 लोग एरुमापेट्टी स्थित नरसिम्हा मंदिर में शुक्रवार सुबह भागवत कथा का पाठ कर रहे थे.

रिपोर्ट के अनुसार, गिरफ्तार किए गए लोगों में भाजपा की राज्य ईकाई के नेता ई. चंद्रन, गोपी, सुदानन, नारायणन और रमन शामिल है.

पुलिस ने बताया, ‘मंदिर में भागवत कथा हो रही थी. पांच लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया और बाकी अन्य फरार हो गए.’

उन्होंने बताया कि गिरफ्तार लोगों को बाद में जमानत पर छोड़ दिया गया.

केंद्र के दिशा-निर्देश के अनुसार प्रतिबंधों छूट दी गई है, लेकिन अब भी शादी समारोह और राजनीतिक कार्यक्रमों में लोगों और मंदिरों में श्रद्धालुओं की भीड़ की अनुमति नहीं है.

केरल कौमुदी वेबसाइट की रिपोर्ट के अनुसार, लॉकडाउन की घोषणा के बाद भी यह मंदिर बंद नहीं किया था और लोग रोजाना पूजा-पाठ के लिए मंदिर आ रहे थे.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)