राजनीति

भाजपा नेता संबित पात्रा के ख़िलाफ़ छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र में एफआईआर दर्ज

भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा के ख़िलाफ़ धार्मिक भावनाओं को आहत करने और समुदायों के बीच दुश्मनी को बढ़ावा देने के आरोपों के तहत एफआईआर दर्ज की गई है.

संबित पात्रा. (फोटो: पीटीआई)

संबित पात्रा. (फोटो: पीटीआई)

नई दिल्ली: भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा के खिलाफ पंडित जवाहरलाल नेहरू और राजीव गांधी को लेकर आपत्तिजनक बातें कहने के आरोप में छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र में कांग्रेस नेताओं ने एफआईआर दर्ज कराई है.

छत्तीसगढ़ के रायपुर जिले में पुलिस ने भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा के खिलाफ विभिन्न समूहों के बीच शत्रुता बढ़ाने के मामले में प्राथमिकी दर्ज की है.

रायपुर जिले के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आरिफ शेख ने सोमवार को बताया कि जिले के सिविल लाइंस थाने में पुलिस ने युवा कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष पूर्णचंद्र पाढ़ी की शिकायत पर संबित पात्रा के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है. मामले की जांच की जा रही है.

पुलिस के मुताबिक, पाढ़ी ने पुलिस में शिकायत की थी कि पात्रा ने 10 मई को ट्वीट कर दो पूर्व प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू और राजीव गांधी पर कश्मीर मामले और वर्ष 1984 में हुए सिख विरोधी दंगे तथा बोफोर्स घोटाला को लेकर झूठा आरोप लगाया था.

पाढ़ी ने पुलिस को दी शिकायत में कहा है कि दोनों पूर्व प्रधानमंत्री को किसी भी भ्रष्टाचार और दंगों से संबंधित मामले में दोषी नहीं ठहराया गया है. जब देश कोविड-19 जैसी चुनौतियों से लड़ रहा है, ऐसे में इस तरह का ट्वीट करना ना केवल विभिन्न धार्मिक समूहों, समुदायों के बीच सद्भाव के लिए हानिकारक है, बल्कि इससे शांति भंग होने की भी आशंका है.

पात्रा के खिलाफ यह मामला आईपीसी की धारा 505 (2), 153ए और 298 के तहत दर्ज किया गया था.

वहीं, राज्य में भाजपा के प्रवक्ता संजय श्रीवास्तव ने कहा है कि सत्ताधारी दल सत्ता का दुरुपयोग विरोधी दल के नेताओं के खिलाफ मामले दर्ज करने के लिए कर रही है.

रायपुर पुलिस ने भाजपा नेता को नोटिस जारी करते हुए 20 मई को थाना सिविल लाइन में पूछताछ के लिए पेश होने को कहा है.

इस बीच महाराष्ट्र में भी यूथ कांग्रेस ने संबित पात्रा के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है. एफआईआर ठाणे जिले के महात्मा फुले पुलिस थाने में दर्ज कराई गई है.

शिकायत दर्ज कराने वाले कांग्रेस नेता बृजकिशोर पटेल ने ट्वीट कर एफआईआर की जानकारी दी है.

इस पर प्रतिक्रिया देते हुए भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने कई ट्वीट किए हैं.

पात्रा ने कहा है, ‘नेहरू और राजीव को भ्रष्ट कहने पर कांग्रेसियों ने शिकायत की है. टीचर से अभी और जलील होना बाकी है. नेहरू ने तो कश्मीर समस्या को भी जन्म दिया है, न होते नेहरू और न कश्मीर समस्या होती.’

उन्होंने कहा है, ‘राजीव गांधी ने तो बोफ़ोर्स की चोरी की और 3000 सिखों का क़त्ल भी कराया. जाओ और कम्प्लेन करो.’

10 मई को किए गए एक अन्य ट्वीट में उन्होंने कहा था, वाकई घोर कलयुग आ गया है. चोरों को चोर कहो तो थाने में जाकर रपट लिखाते हैं. घोर कलियुग! जाओ कांग्रेसियों और रो रो के टीचर से कम्प्लेन करो.

इसके साथ उन्होंने अपील की थी कि भाइयों और बहनों इस पोस्टर को इतना रिट्वीट करो कि ये पोस्टर हर घर तक पहुंच जाए.

महाराष्ट्र में कांग्रेस नेता बृजकिशोर पटेल की शिकायत को लेकर पात्रा ने ट्वीट करते हुए सवाल किया है, ‘राजीव जी को 1984 के सिख विरोधी दंगों के लिए जिम्मेदार ठहराना अपमानजनक है? नहीं… यह तथ्य है और तथ्य कभी भी अपमानजनक नहीं हो सकता.’

उन्होंने कहा है, ‘कांग्रेसियों याद रखो ये कोई इंदिरा गांधी का इमरजेंसी नहीं चल रहा है जो तुम्हारे इन एफआईआर से कुछ हो जाएगा. हां, इतना ज़रूर है कि राजीव गांधी पूरी तरह एक्सपोज होंगे!’

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)