राजनीति

कर्नाटक: पीएम केयर्स पर ट्वीट करने पर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के खिलाफ एफआईआर दर्ज

कांग्रेस पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी के खिलाफ शिकायत दर्ज कराने वाले वकील ने आरोप लगाया है कि कांग्रेस पार्टी ने ट्वीट के माध्यम से लोगों को सरकार के खिलाफ भड़काने का प्रयास किया. हरियाणा से कांग्रेस नेता पंकज पूनिया को भी एक कथित आपत्तिजनक सोशल मीडिया पोस्ट के चलते गिरफ्तार किया गया है.

New Delhi: Congress President Sonia Gandhi arrives on the first day of the Winter Session of Parliament, in New Delhi, Monday, Nov. 18, 2019. (PTI Photo/Kamal Singh) (PTI11_18_2019_000076B)

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी. (फोटो: पीटीआई)

शिवमोगा (कर्नाटक)/चंडीगढ़: कांग्रेस पार्टी की अध्यक्ष सोनिया गांधी के खिलाफ बीते 11 मई को पार्टी के आधिकारिक हैंडल से पीएम-केयर्स फंड को लेकर ट्वीट करने पर कर्नाटक के शिवमोगा जिले के सागर तालुका में एफआईआर दर्ज करवाया गया है.

समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार, यह एफआईआर आईपीसी की धारा 153 (दंगा भड़काने के इरादे से भड़काऊ बयान देना) और धारा 505 (सार्वजनिक उपद्रव के लिए जिम्मेदार बयान) के तहत दर्ज कराई गई है. एफआईआर में सोनिया गांधी की पहचान कांग्रेस पार्टी का आधिकारिक ट्विटर हैंडल संभालने वाले के रूप में की गई है.

वकील प्रवीण केवी की शिकायत में आरोप लगाया गया है कि कांग्रेस पार्टी ने ट्वीट के माध्यम से भारत सरकार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ बयानबाजी की और लोगों को सरकार के खिलाफ भड़काने का प्रयास किया.

एफआईआर के अनुसार, कांग्रेस पार्टी ने 11 मई, 2020 को झूठे और बेबुनियाद आरोप लगाए, पीएम-केयर्स फंड के गलत इस्तेमाल का दावा किया और ट्वीट के माध्यम से भारत सरकार पर आरोप लगाया.

प्रवीण केवी ने कहा, ‘सोनिया गांधी की अध्यक्षता वाली अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (एआईसीसी) द्वारा संचालित ट्विटर अकाउंट से 11 मई, 2020 को एक ट्वीट किया गया था, जिसमें पीएम केयर्स फंड को पीएम केयर्स फ्रॉड करार दिया गया था. उन्होंने दावा किया था कि जनता के लिए पीएम केयर्स फंड का उपयोग नहीं किया जा रहा है.’

प्रवीण केवी ने कहा, ‘उन्होंने यह भी कहा था कि इस फंड से प्रधानमंत्री मजे ले रहे हैं और विदेश घूम रहे हैं. कोरोना वायरस महामारी के दौरान यह भारत सरकार के खिलाफ पूरी तरह से अफवाह है. इस संबंध में मैंने एक शिकायत दर्ज कराई है. प्राथमिक जांच के बाद सागर पुलिस ने कांग्रेस ट्विटर अकाउंट की प्रमुख सोनिया गांधी के खिलाफ एफआईआर दर्ज की.’

‘आपत्तिजनक’ ट्वीट को लेकर हरियाणा में कांग्रेस नेता पंकज पूनिया गिरफ्तार

हरियाणा के करनाल में पुलिस ने हरियाणा से कांग्रेस नेता पंकज पूनिया को एक आपत्तिजनक सोशल मीडिया पोस्ट के माध्यम से ‘धार्मिक भावनाएं आहत करने’ के आरोप में गिरफ्तार किया है.

एक पुलिस अधिकारी ने बृहस्पतिवार को बताया कि हरियाणा प्रदेश कांग्रेस समिति के पूर्व सचिव पूनिया को मधुबन पुलिस थाने में करनाल के एक निवासी की लिखित शिकायत के बाद बुधवार देर रात गिरफ्तार किया गया.

लिखित शिकायत में आरोप लगाया गया है कि पूनिया ने अपने ट्वीट के जरिए धार्मिक भावनाएं आहत कीं और धर्म के आधार पर विभिन्न समूहों के बीच शत्रुता को बढ़ावा दिया.

हरियाणा से कांग्रेस नेता पंकज पूनिया का ट्वीट, जिसे अब हटा लिया गया है. (फोटो: सोशल मीडिया)

हरियाणा से कांग्रेस नेता पंकज पूनिया का ट्वीट, जिसे अब हटा लिया गया है. (फोटो: सोशल मीडिया)

मधुबन पुलिस थाना प्रभारी निरीक्षक तरसेम चंद ने कहा, ‘पंकज पूनिया को मधुबन इलाके से गिरफ्तार कर लिया गया.’

उत्तर प्रदेश पुलिस ने भी पूनिया के खिलाफ बुधवार को इसी प्रकार की शिकायत दर्ज की थी. पूनिया के खिलाफ कथित आपत्तिजनक ट्वीट को लेकर लखनऊ के हजरतगंज में प्राथमिकी दर्ज की गई थी.

चंद ने बताया कि पूनिया के खिलाफ मधुबन पुलिस थाने में विभिन्न समूहों के बीच शत्रुता को बढ़ावा देने (153 ए), धार्मिक भावनाओं को आहत करने (295 ए) और सार्वजनिक शरारत (505-2) से संबंधित भारतीय दंड संहिता की धाराओं और सूचना प्रौद्योगिकी (संशोधन) कानून 2008 की धारा 67 के तहत मामला दर्ज किया गया है.

शिकायतकर्ता ने आरोप लगाया है, ‘पंकज पूनिया नाम के व्यक्ति ने धर्म के आधार पर समाज के समूहों के बीच शत्रुता को बढ़ावा देने के लिए भड़काऊ गलत बयानबाजी पोस्ट की और ये कृत्य सद्भावना बनाए रखने की दिशा में नुकसानदेह हैं.’

पूनिया ने मंगलवार को अपने एक ट्वीट में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधते हुए प्रवासी मजदूरों को ले जाने के लिए कांग्रेस द्वारा बसें चलाने के मामले में राजनीति करने का जिक्र किया था. यह ट्वीट अब हटा दिया गया है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)