भारत

गुजरात: फेसबुक पोस्ट में प्रधानमंत्री और केंद्र सरकार की आलोचना करने पर शिक्षक निलंबित

मामला गुजरात के मोरबी जिले का है. जिले के प्राथमिक शिक्षा अधिकारी के कार्यालय ने सोमवार की शाम एक आदेश जारी कर सहायक शिक्षक जिग्नेश वधेर को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया और उन्हें पास के वांकानेर तालुका में स्थानांतरित कर दिया गया.

Social-Media-Pixabay

राजकोट: गुजरात के मोरबी जिले के एक प्राथमिक स्कूल के सहायक शिक्षक को फेसबुक पोस्ट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्र सरकार के खिलाफ कथित तौर पर आपत्तिजनक पोस्ट करने के कारण निलंबित कर दिया गया है.

इंडियन एक्सप्रेस के अनुसार, यह मामला मोरबी जिले के हलवाद तालुक स्थित नवा धुवना का है.

मोरबी जिले के प्राथमिक शिक्षा अधिकारी (डीपीईओ) के कार्यालय ने सोमवार की शाम एक आदेश जारी कर सहायक शिक्षक जिग्नेश वधेर को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया और उन्हें पास के वांकानेर तालुका में स्थानांतरित कर दिया गया.

डीपीईओ मयूर पारेख ने निलंबन आदेश में कहा, ‘सवालों के घेरे में आए शिक्षक मोरबी जिला शिक्षा समिति द्वारा संचालित श्री नवा धुनवा सरकारी प्राथमिक स्कूल के कर्मचारी हैं.’

पारेख ने अपने आदेश में कहा, ‘ऐसा संज्ञान में आया है कि उक्त कर्मचारी ने सोशल मीडिया (फेसबुक) में अप्रत्याशित पोस्ट किया था और कर्मचारियों के लिए बने आदर्श आचार संहिता का पालन करने में विफल रहे.’

पारेख ने अपने आदेश में यह भी कहा कि सहायक शिक्षक होते हुए फेसबुक प्रोफाइल में खुद को गुजरात सरकार में सेक्शन अधिकारी (एसओ) बताने के लिए गांधीनगर के सेक्टर-7 पुलिस स्टेशन ने वधेर के खिलाफ मामला दर्ज किया है.

अधिकारी ने कहा, ‘बीते शुक्रवार को हमने शिक्षक को कारण बताओ नोटिस दिया था और सोमवार को इस पर सुनवाई की थी. अपने जवाब में वधेर ने कहा था कि फेसबुक अकाउंट उनके परिवार के सदस्य चलाते थे और वे कभी-कभी ही टिप्पणी किया करते थे. अकाउंट के लिए वे ही जिम्मेदार थे. हमने उन्हें निलंबित कर दिया है और तीन सदस्यों की एक समिति की जांच बाकी है जिसका गठन हमने इस मामले को देखने के लिए किया है.’