भारत

ऑनर किलिंगः राजस्थान में शख़्स ने दो युवकों की कुल्हाड़ी से हत्या की

राजस्थान के झुंझुनू ज़िले का मामला. पुलिस के अनुसार, शादी के बाद आरोपी की बेटी अपने प्रेमी के साथ चली गई थी. आरोपी का कहना है कि रिहा होने के बाद वह अपनी बेटी को भी मार डालेगा.

Jhunjhunu

जयपुर: राजस्थान के झुंझुनू जिले में ऑनर किलिंग का मामला सामने आया है. घटना सोमवार आठ जून की है. शादी के बाद बेटी द्वारा घर छोड़कर प्रेमी के साथ चले जाने के बाद पिता ने दो लोगों की हत्या कर दी है.

हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, हरियाणा के महेंद्रगढ़ के रहने वाले अनिल जाट की बेटी की शादी राजस्थान के झुंझुनू में हुई थी, जिसके बाद उनकी बेटी अपने प्रेमी के साथ घर छोड़कर चली गई थी, जिससे गुस्साए अनिल ने झुंझुनू पहुंचकर दो युवकों की हत्या कर दी.

पुलिस का कहना है कि मृतकों में एक आरोपी की बेटी के प्रेमी कृष्णा का भाई दीपक कुमार (20) और दूसरा उसके भाई का दोस्त नरेश कुमार (19) है.

पुलिस का कहना है, ‘आठ जून की रात घटना के समय दोनों युवक दीपक के घर में छत पर सो रहे थे. दीपक के पिता राजवीर ने सुबह लगभग चार बजे खून से लथपथ दोनों के शव देखे और पुलिस को सूचना दी, जिसके बाद पुलिस की एक टीम डॉग स्क्वॉयड के साथ जांच के लिए मौके पर पहुंची. हत्या के लिए इस्तेमाल की गई कुल्हाड़ी भी शवों से कुछ मीटर की दूरी से बरामद की गई.’

झुंझुनू जिले के बुहाना के पुलिस उपाधीक्षक (डीएसपी) ज्ञान सिंह ने कहा, ‘शुरुआती जांच के दौरान पता चला कि हरियाणा के महेंद्रगढ़ के रहने वाले अनिल जाट की बेटी की शादी बुहाना के लालामंडी गांव में हुई थी. शादी के बाद वह कथित तौर पर राजवीर के बेटे कृष्णा के साथ घर छोड़कर चली गई थी और तभी से दोनों परिवारों के बीच संबंध अच्छे नहीं थे.’

उन्होंने बताया, ‘अनिल की बेटी के ससुरालवालों ने उसके घर से लापता होने की रिपोर्ट दो जून को दर्ज कराई थी. हमने सबूत इकट्ठा करके आरोपी को पकड़ लिया है.’

पुलिस का कहना है कि अनिल जाट बाइक से हरियाणा से राजस्थान आया था.

सिंह ने कहा, ‘आरोपी की गतिविधियां बुहाना पुलिस थाना क्षेत्र में लगे एक सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई हैं. निर्माणाधीन सड़क पर बाइक फंसने के बाद अनिल पैदल ही राजवीर के घर पहुंच गया और छत पर सो रहे दोनों युवकों की हत्या कर दी थी. मौके से फरार होते वक्त उसके हाथ से कुल्हाड़ी कुछ दूरी पर गिर गई.’

अधिकारी का कहना है कि पूछताछ करने पर अनिल ने कहा कि पुलिस हिरासत में रिहा होने के बाद वह अपनी बेटी और उसके प्रेमी की भी हत्या कर देगा.

बुहाना के डीएसपी ने कहा, ‘आरोपी राजवीर को भी मारना चाहता था लेकिन वह उसे ढूंढ नहीं पाया. आरोपी का कहना है कि राजवीर के बेटे की वजह से समाज में उनकी प्रतिष्ठा खत्म हो गई थी और वो उससे बदला लेना चाहता था.’

मृतक दीपक का एक भाई कृष्णा और एक बहन है. बहन शादीशुदा है जबकि दोनों भाई अविवाहित हैं.

दीपक अपने दोस्त नरेश कुमार के साथ सेना में भर्ती होने की तैयारी कर रहा था. पुलिस का कहना है कि दोनों सुबह में जल्दी उठकर जॉगिंग करने जाते थे इसलिए नरेश, दीपक के घर पर ही सोता था.