भारत

महाराष्ट्र: कोरोना जांच की कीमत 50 फीसदी घटी, निजी अस्पताल में 2,200 में होगा टेस्ट

भारत में महाराष्ट्र कोरोना वायरस से सर्वाधिक प्रभावित राज्य है. अब तक कोविड-19 की जांच कराने पर 4,500 रुपये लगते थे.

(फोटोः पीटीआईः

(फोटोः पीटीआईः

नई दिल्ली: मरीजों को राहत देते हुए महाराष्ट्र सरकार ने बीते शनिवार को प्राइवेट लैब्स या निजी अस्पतालों में में कोरोना टेस्ट की कीमतों में 50 फीसदी कटौती कर इसे 2,200 रुपये कर दिया है. पहले कोविड-19 की जांच कराने पर 4,500 रुपये लगते थे.

इसके अलावा यदि घर से सैंपल लिया जाता है और घर पर रिपोर्ट पहुंचाई जाती है तो लैब्स 2,800 रुपये तक की राशि वसूल सकते हैं.

राज्य के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने स्वास्थ्य विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों की एक समिति द्वारा इस मुद्दे पर रिपोर्ट प्रस्तुत करने के बाद कीमत कम करने के निर्णय की घोषणा की. मालूम हो कि महाराष्ट्र कोरोना वायरस से देश में सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य है.

हिंदुस्तान टाइम्स के मुताबिक, टोपे ने कहा कि महाराष्ट्र में जांच की कीमत अब देश में सबसे कम है. मंत्री ने कहा कि चूंकि कोरोना वायरस का पता लगाने के लिए बड़ी संख्या में जांच किए जा रहे हैं और टेस्टिंग के लिए उपयोग किए जाने वाले किट की कीमतों में गिरावट आई है, इसलिए जांच की कीमतों को कम करने का निर्णय उचित है.

उन्होंने कहा कि चार सदस्यीय समिति ने जांच की लागत से संबंधित हर पहलू का विश्लेषण करने के बाद कीमतों में संशोधन के लिए अपनी सिफारिश दी थी. उन्होंने कहा कि घर से सैंपल लेकर जांच करने की कीमतों को भी 5,200 रुपये से घटाकर 2,800 रुपये कर दिया गया है.

स्वास्थ्य मंत्री ने यह भी कहा कि अगर प्राइवेट लैब्स तय से ज्यादा फीस लेते हैं तो उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी. महाराष्ट्र में कोविड-19 जांच के लिए 91 लैब हैं.

इस मामले को लेकर बनाई गई समिति में राज्य स्वास्थ्य एश्योरेंस सोसायटी के सीईओ डॉ. सुधाकर शिंदे अध्यक्ष थे.

महाराष्ट्र में रविवार सुबह तक 3,830 लोगों की मौत इस महामारी से हो चुकी थी और संक्रमण के 104,568 मामले सामने आ चुके हैं.