भारत

छत्तीसगढ़: रायगढ़ ज़िले में फिर मिला हाथी का शव, दस दिन में छह हाथियों की मौत

अधिकारियों ने बताया कि रायगढ़ के धरमजयगढ़ क्षेत्र में गुरुवार सुबह एक हाथी का शव बरामद हुआ. पिछले तीन दिन में इस क्षेत्र में हाथी का शव मिलने की दूसरी घटना है.

प्रतीकात्मक तस्वीर: पीटीआई

(प्रतीकात्मक तस्वीर: पीटीआई)

रायगढ़: छत्तीसगढ़ के रायगढ़ जिले में वन विभाग ने हाथी का शव बरामद किया है. राज्य में पिछले 10 दिन में छह हाथियों की मौत हो चुकी है.

रायगढ़ जिले के वन विभाग के अधिकारियों ने गुरुवार को बताया कि जिले के धरमजयगढ़ क्षेत्र में सुबह एक हाथी का शव बरामद हुआ है. पिछले तीन दिन में इस क्षेत्र में हाथी का शव मिलने की दूसरी घटना है.

धरमजयगढ़ क्षेत्र की वन मंडल अधिकारी प्रियंका पांडेय ने बताया कि रायगढ़ से करीब 50 किलोमीटर दूर बेहरामार गांव में एक नर दंतैल हाथी का शव बरामद हुआ है. हाथी का शव एक किसान के घर के पीछे मिला है.

पांडेय ने बताया कि गुरुवार सुबह ग्रामीण से सूचना मिलने पर वन अमला घटनास्थल पर पहुंचा तथा हाथी का शव बरामद किया गया.

अधिकारी ने बताया कि हाथी की मौत के कारणों के बारे में जानकारी नहीं मिली है. पोस्टमार्टम के बाद इस संबंध में सही जानकारी मिली सकेगी. मृत हाथी के दांत सुरक्षित हैं. विभाग मामले की जांच कर रहा है.

रायगढ़ जिले के धरमजयगढ़ क्षेत्र के गिरीशा गांव में बीते 16 जून को वन विभाग ने एक हाथी का शव बरामद किया था. अधिकारियों के मुताबिक हाथी की मौत करंट लगने के कारण हुई थी. इस मामले में बिजली विभाग के तीन कर्मचारियों समेत पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया है.

एनडीटीवी के मुताबिक राज्य के वरिष्ठ अधिकारियों ने बताया कि रायगढ़ जिले के धरमजयगढ़ वन मंडल के गेरसा गांव में करंट लगने की वजह से हाथी की मौत के मामले में दो किसानों और विद्युत विभाग के तीन कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई की गई है.

अधिकारियों ने बताया कि इस मामले के आरोपी किसान भादोराम और एक अन्य किसान को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है.

वहीं आरोपी किसानों को सिंचाई पम्प के लिए अवैध रूप से विद्युत कनेक्शन देने तथा घटनास्थल से साक्ष्य मिटाने के मामले में विद्युत विभाग के सब इंजीनियर पी. कुजूर, लाइनमैन अमृत लाल तथा एक सहायक को गिरफ्तार किया गया है.

छत्तीसगढ़ में पिछले 10 दिन में छह हाथियों की मौत हो गई है.

राज्य के सूरजपुर जिले के प्रतापपुर वन परिक्षेत्र में नौ और 10 जून को वन विभाग ने दो हाथियों का तथा 11 जून को बलरामपुर जिले में एक हाथी का शव बरामद किया था.

लगातार तीन हाथियों की मौत के बाद राज्य शासन ने बलरामपुर जिले में वन विभाग के तीन कर्मचारियों और एक वन रक्षक को निलंबित कर दिया था. वहीं बलरामपुर के वनमंडल अधिकारी को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है. मामले की जांच की जा रही है.

बीते 16 जून को धमतरी जिले के मोंगरी गांव के दलदल में हाथी के एक बच्चे का शव बरामद किया गया था.

ओडिशा के क्योंझर जिले में दो हाथियों की मौत, वन विभाग के दो कर्मचारी निलंबित

एनडीटीवी के मुताबिक ओडिशा के क्योंझर जिले में तीन दिन पहले दो हाथियों के शव मिले थे. जिन्हें शिकारियों ने कथित तौर पर करंट लगाकर मार दिया था. इस पर ड्यूटी में लापरवाही बरतने के आरोप में वन विभाग के दो कर्मचारियों को निलंबित किया गया.

वन विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि जोडा वन खंड के वन अधिकारी पी. नायक और वन गार्ड डोलागोबिंद देव को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है.

क्योंझर मंडलीय वन अधिकारी (डीएफओ) संतोष जोशी ने कहा, ‘दो हाथियों की मौत के मामले में शुरुआती जांच से संकेत मिलता है कि वन अधिकारी और वन गार्ड की तरफ से लापरवाही बरती गई और दोनों को निलंबित कर दिया गया है.’

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)