दुनिया

कोविड-19: ब्राज़ील के राष्ट्रपति बोल्सोनारो को मास्क लगाकर सार्वजनिक स्थानों पर जाने का आदेश

हाल ही में एक रैली के दौरान ब्राज़ील के राष्ट्रपति जेर बोल्सोनारो बिना मुंह ढके खांसते हुए नज़र आए थे. एक अन्य अवसर पर उन्हें मुंह पर हाथ लगाकर छींकते हुए और उसके तुरंत बाद एक बुज़ुर्ग महिला से हाथ मिलाते हुए देखा गया था. अमेरिका के बाद ब्राज़ील कोरोना वायरस से दूसरा सर्वाधिक प्रभावित देश है.

जेर बोल्सोनारो. (फोटो: रॉयटर्स)

जेर बोल्सोनारो. (फोटो: रॉयटर्स)

रियो डी जिनेरियो: ब्राजील में कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के बीच एक फेडरल न्यायाधीश ने राष्ट्रपति जेर बोल्सोनारो को आदेश दिया है कि वो जब भी राजधानी ब्रासीलिया और इसके आसपास के संघीय जिले में जाएं तो मास्क पहनने के नियम का पालन करें.

ब्राजील में कोरोना वायरस के खतरे को कमतर आंकने को लेकर राष्ट्रपति की आलोचना की जा रही है.

हाल के दिनों में बिना मास्क पहने ही बोल्सोनारो ब्राजील की कांग्रेस और उच्चतम न्यायालय के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे लोगों के साथ देखे गए. वह अक्सर बेकरी और बाहर लगे खाने-पीने के स्टॉल पर चले जाते हैं, जिससे उनके आस-पास भीड़ जुट जाती है.

बीबीसी की रिपोर्ट के अनुसार, एक रैली के दौरान हाल ही में राष्ट्रपति बिना मुंह ढके खांसते हुए नजर आए थे. एक अन्य अवसर पर उन्हें मुंह पर हाथ लगाकर छींकते हुए और उसके तुरंत बाद एक बुजुर्ग महिला से हाथ मिलाते हुए देखा गया था.

ब्राजील के संघीय जिले में बीते 30 अप्रैल से कोरोना वायरस के संक्रमण के मद्देनजर मास्क लगाना अनिवार्य कर दिया गया है.

रिपोर्ट के अनुसार, यह नियम संघीय जिले के राज्पपाल इबानेइस रोचा द्वारा लाया गया है. नियम के अनुसार, सार्वजनिक परिवहन, दुकानों और व्यावसायिक तथा औद्योगिक परिसरों समेत सार्वजनिक स्थानों पर लोगों के लिए अपना नाक और मुंह ढकना अनिवार्य है.

न्यायाधीश रेनेटो कोल्हो बोरेली ने अपने फैसले में कहा है, ‘बोल्सोनारो दूसरे लोगों को संक्रामक बीमारी की चपेट में लाने के कारक बन रहे हैं.’

उन्होंने कहा कि ब्राजील के संघीय जिले में कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने में मदद के लिये सार्वजनिक रूप से मास्क पहनना जरूरी है.

सीएनएन की रिपोर्ट के अनुसार, जज ने कहा है कि बोल्सोनारो को ब्रासीलिया के सार्वजनिक स्थलों पर मास्क लगाकर निकलना चाहिए. अगर ऐसा करने में वे असफल होते हैं तो उन पर 386 डॉलर प्रतिदिन का जुर्माना लगाया जा सकता है.

मालूम हो कि पूरे विश्व में अमेरिका के बाद कोरोना वायरस से दूसरा सर्वाधित प्रभावित देश ब्राजील है. अमेरिका की जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के आंकड़ों के अनुसार, ब्राजील में संक्रमण के 1,188,631 मामले सामने आ चुके हैं और 53,830 लोग की मौत हो चुकी है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)