भारत

उत्तर प्रदेश और बिहार में आकाशीय बिजली गिरने से 34 लोगों की मौत

बिहार के आठ जिलों में गुरुवार को आंधी और बारिश के दौरान आकाशीय बिजली गिरने से 26 लोगों की मौत हो गई. वहीं, उत्तर प्रदेश में एक 18 वर्षीय युवती समेत आठ लोगों की मौत हो गई.

(फोटो: एपी/पीटीआई)

(फोटो: एपी/पीटीआई)

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश और बिहार में गुरुवार को आकाशीय बिजली गिरने की घटनाओं में कम से कम 34 लोगों की मौत हो गई.

उत्तर प्रदेश के बलिया जिले में गुरुवार को आकाशीय बिजली गिरने की अलग-अलग घटनाओं में 18 वर्षीय एक युवती समेत आठ लोगों की मृत्यु हो गई तथा 18 लोग झुलस गए.

पुलिस सूत्रों के अनुसार, नरही थाना क्षेत्र के कोठियां सेंदुरियां ग्राम में गुरुवार को आकाशीय बिजली गिरने से उसकी चपेट में आकर निशा (18) व बगेदन (60) की मौत हो गई तथा एक युवती समेत तीन लोग झुलस गए.

थाना प्रभारी ज्ञानेश्वर मिश्र ने बताया कि पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. उन्होंने बताया कि घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

अधिकारी के अनुसार, ऐसी ही दूसरी घटना में गड़वार थाना क्षेत्र के हरिहरपुर ग्राम में भी आकाशीय बिजली से चौथी देवी, सुमन व गुड्डी झुलस गईं. जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

जिले के दोकटी थाना क्षेत्र के ‘बाबू का शिवपुर’ गांव में बिजली की चपेट में आकर एक सेवानिवृत्त सैनिक समेत दो व्यक्तियों की मौत हो गई.

दोकटी थाना प्रभारी अमित सिंह ने बताया कि गुरुवार दोपहर बिजली की चपेट में आकर खेत में काम कर रहे सेवानिवृत्त सैनिक बाबूलाल सिंह (70) और निर्मल वर्मा (43) की मौत हो गई.

इससे पहले बुधवार को सिकंदरपुर और भीमपुरा क्षेत्रों में खराब मौसम के बीच गिरी बिजली की चपेट में आने से दो महिलाओं समेत तीन लोगों की मौत हो गई तथा 12 अन्य झुलस गए.

पुलिस सूत्रों ने बताया कि सिकंदरपुर थाना क्षेत्र के महथापार गांव में बुधवार शाम बिजली गिरने से खेत में काम कर रहे 10 लोग गंभीर रूप से झुलस गए. उन्हें सिकंदरपुर स्थित सरकारी अस्पताल ले जाया गया जहां सविता (35) और शीला (19) को चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया.

उधर, बुधवार को ही भीमपुरा थाना क्षेत्र के रामपुर मड़ई गांव में किसान रामसरीखा राजभर (28) की भी बिजली गिरने से खेत में ही मौत हो गई.

इसके अलावा खेजुरी थाना क्षेत्र के हथौज गांव में बुधवार को धान की रोपाई कर रहीं तीन लड़कियों समेत चार लोग खराब मौसम के बीच गिरी बिजली की चपेट में आकर झुलस गए सभी को मनियर स्थित सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

उत्तर प्रदेश में इससे पहले 25 जून को आकाशीय बिजली गिरने से 24 लोगों की मौत हो गई थी.

बिहार में आंधी-बारिश के दौरान बिजली गिरने से 26 लोगों की मौत

बिहार के आठ जिलों में आंधी और बारिश के दौरान बिजली गिरने से 26 लोगों की मौत हो गई. आपदा प्रबंधन विभाग से प्राप्त जानकारी के मुताबिक बिजली गिरने से राज्य के आठ जिलों- समस्तीपुर में सात, पटना में छह, पूर्वी चंपारण में चार, कटिहार में तीन, शिवहर एवं मधेपुरा में दो-दो और पूर्णिया एवं पश्चिम चम्पारण जिले में एक-एक व्यक्ति की मौत हुई है.

बिहार में बिजली की चपेट में आकर 26 लोगों की मौत पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गहरा दुख व्यक्त किया.

उन्होंने कहा कि आपदा की इस घड़ी में वह प्रभावित परिवारों के साथ हैं. मुख्यमंत्री ने मृतकों के परिजनों को अविलंब चार-चार लाख रुपये की अनुग्रह राशि दिए जाने के निर्देश दिए हैं.

उन्होंने अपील की कि सभी लोग खराब मौसम में पूरी सतर्कता बरतें. खराब मौसम होने पर बिजली से बचाव के लिए आपदा प्रबंधन विभाग द्वारा समय-समय पर जारी किए गए सुझावों का अनुपालन करें. खराब मौसम में घरों में रहें और सुरक्षित रहें.

बिहार में इससे पहले बिजली गिरने से 30 जून को पांच जिलों में 11 लोगों और 25 जून को 22 जिलों में 96 लोगों की मौत हो गई थी.

वहीं, छत्तीसगढ़ के जशपुर जिले में 28 जून को आकाशीय बिजली गिरने से झुलसे एक महिला समेत तीन लोगों को ग्रामीणों ने कथित रूप से ठीक करने के लिए गाय के गोबर में दबा दिया गया. इस घटना में दो लोगों की मौत हो गई थी.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)