भारत

महाराष्ट्र: छत्रपति शिवाजी के कथित अपमान पर स्टैंड अप कॉमेडियन के ख़िलाफ़ कार्रवाई के आदेश

स्टैंड अप कॉमेडियन अग्रिमा जोशुआ ने 2019 में एक एक्ट के दौरान महाराष्ट्र सरकार द्वारा अरब सागर में छत्रपति शिवाजी की मूर्ति बनाए जाने पर जोक सुनाया था. शिवसेना विधायक प्रताप सरनाईक ने इस बारे में आपत्ति जताते हुए उनके ख़िलाफ़ सख़्त कार्रवाई की मांग की है.

अग्रिमा जोशुआ. (फोटो: ट्विटर/@agrimonious)

अग्रिमा जोशुआ. (फोटो: ट्विटर/@agrimonious)

मुंबई: महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख ने छत्रपति शिवाजी महाराज का कथित तौर पर अपमान करने के आरोपों पर स्टैंड अप कॉमेडियन अग्रिमा जोशुआ के खिलाफ पुलिस को सख्त कार्रवाई करने के आदेश दिए हैं.

इंडियन एक्सप्रेस के अनुसार, शिवसेना विधायक प्रताप सरनाईक ने जोशुआ के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की और दावा किया कि सोशल मीडिया पर सामने आए एक मिनट के वीडियो में उन्होंने मराठा शासक का अपमान किया.

शनिवार दोपहर को देशमुख ने ट्वीट कर कहा कि मैंने मुंबई पुलिस आयुक्त और पुलिस महानिरीक्षक साइबर को जल्द से जल्द कानूनी कार्रवाई करने के आदेश दिए हैं. मैं सभी से अनुरोध करता हूं कि शांति बनाए रखें और कानून अपना काम करेगा.

यह वीडियो उस स्टैंड अप एक्ट का हिस्सा है, जिसमें जोशुआ ने पश्चिमी मुंबई के खार के एक कॉमेडी एंड म्यूजिक कैफे में अप्रैल 2019 में परफॉर्म किया था.

वीडियो में जोशुआ राज्य सरकार द्वारा अरब सागर में मराठा शासक की मूर्ति बनाए जाने के कयासों पर जोक कर रही थीं. उन्होंने इस वीडियो को डिलीट कर दिया है लेकिन यह भी सोशल मीडिया पर मौजूद है.

सोशल मीडिया पर वीडियो सामने आने के बाद कई फेसबुक और ट्विटर यूजर्स ने जोशुआ ने जिस कैफे में परफॉर्म किया था उसके कर्मचारियों की जानकारी फैलाने लगे थे.

जगह का पता चलने के बाद महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (एमएनएस) कार्यकर्ताओं ने शनिवार को कैफे में घुसकर उसके एक परफॉर्मेंस रूम के स्टेज और फर्नीचरों को तोड़-फोड़ डाला.

वहीं, सोशल मीडिया पर अपशब्दों का सामना करने के बाद जोशुआ ने ट्विटर पर एक माफीनामा जारी किया.

उन्होंने लिखा, ‘महान शासक छत्रपति शिवाजी महाराज के कई अनुयायियों की भावनाओं को आहत करने के लिए मुझे खेद है. महान शासक के अनुयायियों से मैं क्षमायाचना करती हूं, जिनका मैं ईमानदारी से सम्मान करती हूं. वीडियो को पहले ही हटा लिया गया है.’

दरअसल, सरनाईक और अन्य सोशल मीडिया यूजर्स जोशुआ की इस बात से नाराज थे कि वह मराठा शासक का नाम जिस तरह से राज्य में सम्मान के साथ ‘शिवाजी महाराज’ कहकर लिया जाता है, वैसे न लेकर केवल शिवाजी कहकर संबोधित कर रही थीं.

शुक्रवार को देशमुख को लिखे एक पत्र और अपने ट्विटर अकाउंट पर साझा किए गए एक वीडियो में थाणे से विधायक सरनाईक ने कहा कि उन्हें यह दिखाई दिया कि कॉमेडियन या तो शिवाजी महाराज का सम्मान नहीं करती हैं या उन्हें उनके बारे में पर्याप्त जानकारी नहीं है.

सरनाईक ने आगे कहा कि मैंने गृह मंत्री को पत्र लिखकर उसे गिरफ्तार करने को कहा है. यदि आप पैसे कमाने के लिए महाराज के नाम का उपयोग करना चाहते हैं तो हमारे महाराष्ट्र युवती सेना और महिला अघाड़ी आपको नहीं छोड़ेंगे.

वहीं तोड़-फोड़ की जानकारी देते हुए शनिवार दोपहर कैफे ने एक बयान भी जारी किया था.

बयान में कहा गया कि हम कलाकारों का परिवार हैं. इसमें सिर्फ कॉमेडियन ही नहीं बल्कि हर पेशे के लोग आते हैं. हम अपना जीवन रचनात्मक अभिव्यक्ति खोजने के लिए समर्पित करते हैं, न कि बर्बर हिंसा के कृत्य के लिए.

महिला आयोग ने बलात्कार की धमकी देने वाले व्यक्ति के खिलाफ तुरंत कार्रवाई की मांग की

इस घटना के बाद सोशल मीडिया पर जोशुआ को ट्रोल किया जाने लगा और उनके बारे में अभद्र टिप्पणियां करते हुए बलात्कार की धमकियां भी दी गईं.

इसके बाद राष्ट्रीय महिला आयोग (एनसीडब्ल्यू) ने जोशुआ के बारे ने सोशल मीडिया पर कथित तौर पर अभद्र भाषा का इस्तेमाल करने तथा उन्हें बलात्कार की धमकियां देने वाले व्यक्ति के खिलाफ गुजरात पुलिस से तुरंत कार्रवाई करने की मांग की है.

आयोग ने गुजरात के पुलिस महानिदेशक शिवानंद झा को भेजे पत्र में कहा कि ट्विटर पर उन्हें एक वीडियो पोस्ट में टैग किया गया है, जिसमें एक व्यक्ति महिला कलाकार के लिए अभद्र भाषा का प्रयोग करता और बलात्कार की धमकियां देता दिख रहा है.

आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने शनिवार देर रात भेजे पत्र में लिखा कि महिला आयोग महिलाओं की साइबर सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए प्रतिबद्ध है और महिलाओं के खिलाफ अपराध को अंजाम देने में साइबर मंचों के बढ़ते इस्तेमाल को लेकर चिंतित है.

शर्मा ने कहा, ‘मामले की संवेदनशीलता को देखते हुए अनुरोध किया जाता है कि सूचना प्रौद्योगिकी कानून, 2000 के तहत बदमाश के खिलाफ तुरंत कार्रवाई की जाए और उस बारे में आयोग को सूचित किया जाए.’

अभिनेत्री स्वरा भास्कर और कुशा कपिला, कॉमेडियन सुमुखी सुरेश और कई अन्य लोगों ने जोशुआ के प्रति समर्थन व्यक्त किया है और उन्हें दी जा रही धमकियों की निंदा की है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)