भारत

गुजरातः कपड़ा कारखाने में टैंक की सफाई के दौरान चार मज़दूरों की मौत

मामला अहमदाबाद का है, जहां एक फैब्रिक यूनिट में रासायनिक कचरे के टैंक की सफाई के दौरान जहरीली गैस की चपेट में आने से मज़दूरों की मौत हो गई. बताया गया है कि उन्हें बिना सुरक्षा उपकरणों के टैंक में भेजा गया था.

Ahmedabad

गुजरात के अहमदाबाद में एक कपड़े के कारखाने में रासायनिक कचरे के टैंक की सफाई के दौरान जहरीली गैस की चपेट में आने से शनिवार को चार मजदूरों की मौत हो गई.

इन मजदूरों की उम्र 22 से 26 साल के बीच बताई जा रही है.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, यह घटना अहमदाबाद के ढोलका तालुका में चिरिपाल ग्रुप के विशाल फैब्रिक यूनिट में शनिवार को दोपहर दो से तीन बजे के बीच हुआ.

अहमदाबाद ग्रामीण के पुलिस अधीक्षक आरवी असारी ने कहा, ‘यह घटना चिरिपाल ग्रुप के विशाल फैब्रिक यूनिट में शनिवार को दोपहर दो से तीन बजे के बीच हुई. संदेह है कि टैंक के भीतर एक मजदूर की जहरीली गैस के संपर्क में आने से दम घुटने से मौत हो गई, जिसे बचाने के लिए तीन लोग टैंक में उतरे और उनकी भी मौत हो गई. प्रथमदृष्टया लगता है कि दम घुटने से मौत हुई है.’

असारी ने कहा कि ठेकेदार ने इन चारों मजदूरों को इस काम के लिए बुलाया गया था. इस मामले में अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है.

असारी ने कहा कि हम फोरेंसिक और पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार कर रहे हैं.

उन्होंने बताया कि यह आपराधिक लापरवाही का मामला लग रहा है. मजदूरों को बिना सुरक्षा उपकरणों के नीचे टैंक में जाने दिया गया. हम एफआईआर दर्ज करने से पहले सभी सबूतों को इकट्ठा कर रहे हैं.

बता दें कि जिन चार मजदूरों की मौत हुई है, उनमें से दो मयूर बराड (25), विजय बराड (22) सनंद तालुका से थे जबकि अन्य दो प्रवीण राठौड़ (26) और प्रभु जमोद (25) ढोलका के हैं.

इस संबंध में दुर्घटनावश हुई मौत का मामला दर्ज किया गया है.