दुनिया

कोरोना वायरस: एक दिन में सर्वाधिक 49,310 नए मामले सामने आए और 740 लोगों की मौत

भारत में यह लगातार दूसरा दिन है जब संक्रमण के नए मामलों की संख्या 45 हज़ार से अधिक रही है. देश में संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 12 लाख से अधिक हो गए हैं, जबकि मरने वालों की संख्या 30 हजार के पार हो चुकी है. विश्व में अब तक छह लाख से अधिक लोगों की मौत हुई है और संक्रमण के मामले डेढ़ करोड़ से अधिक हो गए हैं.

(फोटो: पीटीआई)

(फोटो: पीटीआई)

नई दिल्ली: भारत में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं. शुक्रवार को एक बार फिर संक्रमण के नए मामलों की संख्या रिकॉर्ड बढ़ोतरी दर्ज करते हुए 49,310 पर पहुंच गई.

यह लगातार दूसरा दिन है, जब संक्रमण के नए मामलों की संख्या 45 हजार से अधिक रही है और तीसरी बार है, जब नए मामलों की संख्या 40 हजार से अधिक रही है.

कोविड-19 के एक दिन में रिकॉर्ड 49,310 मामले सामने आने के साथ ही संक्रमण के कुल मामले शुक्रवार को बढ़कर 1,287,945 पर पहुंच गए जबकि 817,208 लोग इस बीमारी से उबर चुके हैं.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के शुक्रवार सुबह आठ बजे तक जारी आंकड़ों के अनुसार 24 घंटे में इस महामारी से 740 और लोगों की मौत से मृतकों की संख्या बढ़कर 30,601 हो गई है.

स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, देश में अब भी 440,135 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हैं. अब तक 63.45 प्रतिशत लोग स्वस्थ हो चुके हैं. संक्रमण के कुल मामलों में विदेशी नागरिक भी शामिल हैं.

आंकड़ों पर गौर करें तो 19 जुलाई से यह लगातार छठा दिन है, जब संक्रमण के नए मामलों की संख्या 24 घंटे के दौरान 35 हजार से अधिक, 16 जुलाई से यह लगातार नौवां दिन है, जब इनकी संख्या 30 हजार से अधिक दर्ज की गई है.

अब बीते 24 घंटे या एक दिन में संक्रमण के नए मामलों की बात करें तो बीते 23 जुलाई को इनकी संख्या रिकॉर्ड 45,720 थी, जो अब तक की सर्वाधिक थी. 22 जुलाई को 37,724, 21 जुलाई को 37,148, 20 जुलाई को 40,425, 19 जुलाई को 38,902, 18 जुलाई को 34,884, 17 जुलाई 34,956, 16 जुलाई को 32,695 नए मामले सामने आए थे.

10 जुलाई को नए मामलों की संख्या 24 घंटे के दौरान पहली बार 25 हजार (26,506) के पार, तीन जुलाई को पहली बार 20 हजार के पार, 21 जून को पहली बार 15 हजार के पार और 20 जून को संक्रमण के नए मामलों की संख्या पहली बार 14 हजार के पार हुई थी.

स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, संक्रमण के सबसे अधिक 347,502 मामले महाराष्ट्र में सामने आए. इसके बाद तमिलनाडु में 192,964, दिल्ली में 127,364, कर्नाटक में 80,863, आंध्र प्रदेश में 72,711, उत्तर प्रदेश में 58,104, गुजरात में 52,477 और पश्चिम बंगाल में 51,757 मामले सामने आए हैं.

तेलंगाना में कोविड-19 के मामलों की संख्या बढ़कर 50,826, राजस्थान में 33,220, बिहार में 31,980, हरियाणा में 28,975, असम में 28,791 और मध्य प्रदेश में 25,474 हो गई.

ओडिशा में 21,099, जम्मू कश्मीर में 16,429, केरल में 16,110 जबकि पंजाब में 11,739 मामले पाए गए हैं.

झारखंड में संक्रमण के 6,975, छत्तीसगढ़ में 6,254, उत्तराखंड में 5,445, गोवा में 4,350, त्रिपुरा में 3,656, पुदुचेरी में 2,420, मणिपुर में 2,115, हिमाचल प्रदेश में 1,834 और लद्दाख में 1,210 मामले सामने आए हैं.

नगालैंड में 1,174, अरुणाचल प्रदेश में 991, चंडीगढ़ में 800 और दादरा और नगर हवेली तथा दमन और दीव में 770 मामले सामने आए हैं.

मेघालय में महामारी के 534, सिक्किम में 460, मिजोरम में 332 जबकि अंडमान और निकोबार में 240 मामले सामने आए हैं.

एक दिन या 24 घंटे के दौरान मरने वालों संख्या की बात करें तो बीते 23 जुलाई को 1,129 लोगों की मौत हुई, जो अब तक का सर्वाधिक आंकड़ा है. 22 जुलाई को 648, 21 जुलाई को 587, 20 जुलाई को 681 लोगों की मौत हुई.

19 जुलाई को 543, 18 जुलाई को 671 लोगों की मौत हुई थी. एक दिन पहले 17 जुलाई को ही मरने वालों की संख्या 687 पर पहुंच गई थी, जो अब तक सर्वाधिक आंकड़ा है.

16 जुलाई को 606, 15 जुलाई को 582, 14 जुलाई को 553, 13 जुलाई को 500, 12 जुलाई को 551, 11 जुलाई को 519, 10 जुलाई को 475, नौ जुलाई को 487, आठ जुलाई को 482, सात जुलाई को 467, छह जुलाई को 425 और पांच जुलाई को 613 लोगों की मौत हुई थी.

चार जुलाई को यह संख्या 442, तीन जुलाई को 379, दो जुलाई को 434 और एक जुलाई को 507 थी.

11 जून से 30 जून के बीच मरने वालों की संख्या 300 से 500 के अंदर रही है. 22 जून को एक दिन में मरने वालों की संख्या पहली बार 400 से अधिक रही थी और 11 जून को पहली बार मरने वालों की संख्या 300 के आंकड़े को पार कर गई थी. इस तरह से 11 जून के बाद यह लगातार 38वां दिन है, जब बीते 24 घंटे के दौरान मरने वालों की संख्या 300 से अधिक रही है.

शुक्रवार को बीते 24 घंटों में जिन 740 मरीजों की मौत हुई है उनमें से 298 की महाराष्ट्र, 97 की कर्नाटक, 88 की तमिलनाडु, 61 की आंध्र प्रदेश, 34 की पश्चिम बंगाल, 28 की गुजरात, 26-26 की उत्तर प्रदेश और दिल्ली, 11 की राजस्थान, 10 की मध्य प्रदेश और नौ-नौ मरीजों की मौत जम्मू कश्मीर और तेलंगाना में हुई.

पंजाब में आठ लोगों की मौत हुई, जबकि असम, ओडिशा और हरियाणा में छह-छह, केरल में पांच, उत्तराखंड, झारखंड और पुडुचेरी में तीन-तीन जबकि छत्तीसगढ़, त्रिपुरा और गोवा में एक-एक शख्स की जान गई.

आईसीएमआर के अनुसार, 23 जुलाई तक कुल 15,428,170 नमूनों की जांच की गई जिनमें से 352,801 नमूनों की जांच बृहस्पतिवार को की गई.

अभी तक इस महामारी से मरने वाले कुल 30,601 लोगों में से सबसे अधिक 12,854 लोगों की मौत महाराष्ट्र में हुई है. इसके बाद दिल्ली में 3,745, तमिलनाडु में 3,232, गुजरात में 2,252, कर्नाटक में 1,616, उत्तर प्रदेश में 1,289, पश्चिम बंगाल में 1,255, आंध्र प्रदेश में 884 और मध्य प्रदेश में 780 लोगों की मौत हुई.

राजस्थान में कोविड-19 से अब तक 594, तेलंगाना में 447, हरियाणा में 378, जम्मू कश्मीर में 282, पंजाब में 277, बिहार में 217, ओडिशा में 114, असम में 70, झारखंड में 67, उत्तराखंड में 60 और केरल में 50 मरीजों की जान गई.

पुदुचेरी में 34, छत्तीसगढ़ में 30, गोवा में 29, चंडीगढ़ में 13, हिमाचल प्रदेश में 11, त्रिपुरा में 10, मेघालय में चार, अरुणाचल प्रदेश में तीन, दादरा और नगर हवेली, दमन और दीव तथा लद्दाख में दो-दो लोगों की मौत हुई.

स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि मरने वालों में 70 प्रतिशत से अधिक को पहले से अन्य बीमारियां भी थी.

दुनिया में 1.55 करोड़ से ज़्यादा मामले, मरने वालों की संख्या 6.33 लाख से अधिक 

अमेरिका की जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के आंकड़ों के अनुसार, पूरी दुनिया में कोरोना संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 15,526,057 हो गए हैं और अब तक 633,656 लोगों की जान जा चुकी है.

अमेरिका संक्रमण के 4,038,864 मामलों के साथ सबसे अधिक प्रभावित देश है. यहां मरने वालों की संख्या 144,305 हो चुकी है.

अमेरिका के बाद संक्रमण से सर्वाधिक प्रभावित ब्राजील में संक्रमण के 2,287,475 मामले सामने आए हैं और 84,082 लोगों की मौत हो चुकी है.

संक्रमण के मामलों में भारत तीसरे स्थान पर है. भारत के बाद रूस चौथे स्थान पर है, जहां संक्रमण के 799,499 मामले हैं और 13,026 लोगों की जान जा चुकी थी.

दक्षिण अफ्रीका संक्रमण से पांचवां सर्वाधिक प्रभावित देश बन गया. यहां 408,052 मामले आए हैं और 6,093 लोगों की मौत दर्ज की जा चुकी है.

पेरू में संक्रमण के 371,096 मामले सामने आए हैं और 17,654 लोगों की मौत हो चुकी है. पेरू के बाद मैक्सिको संक्रमण से सातवां सर्वाधिक प्रभावित देश बन गया है. यहां संक्रमण के मामले 370,712 हो गए है और 41,908 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं.

मैक्सिको के बाद चिली संक्रमण से प्रभावित देशों की सूची में आठवें स्थान पर पहुंच गया है. यहां संक्रमण के 338,769 मामले आए हैं, जबकि 8,838 लोगों की मौत हो चुकी है.

चिली के बाद ब्रिटेन में संक्रमण के 298,731 मामले आए हैं और अब तक 45,639 लोगों ने दम तोड़ दिया है. ईरान कोरोना वायरस से सर्वाधिक प्रभावित 10वां देश है. यहां संक्रमण के 284,034 मामले हैं और मरने वालों की संख्या 15,074 है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)