भारत

दिल्ली: डीज़ल 8.36 रुपये प्रति लीटर सस्ता, राज्य सरकार ने घटाया वैट

इस घोषणा के बाद अब दिल्ली में डीज़ल के दाम 82 रुपये से घटकर 73.64 रुपये प्रति लीटर हो जाएंगे. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि यह कदम राज्य की अर्थव्यवस्था को सुधारने में मदद करेगा.

अरविंद केजरीवाल. (फोटो: पीटीआई)

अरविंद केजरीवाल. (फोटो: पीटीआई)

नई दिल्ली: दिल्ली सरकार ने डीजल पर मूल्यवर्धित कर (वैट) की दर को 30 प्रतिशत से घटाकर 16.75 प्रतिशत करने का फैसला किया है.

इससे राजधानी में डीजल कीमतों में 8.36 रुपये प्रति लीटर की कमी आएगी. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की अध्यक्षता में गुरुवार को हुई राज्य मंत्रिमंडल की बैठक में डीजल पर वैट घटाने का फैसला किया गया. 

केजरीवाल ने वर्चुअल संवाददाता सम्मेलन में यह जानकारी दी.

उन्होंने कहा कि वैट में कटौती के बाद डीजल के दाम 8.36 रुपये प्रति लीटर घट जाएंगे. मुख्यमंत्री ने कहा कि यह राज्य की अर्थव्यवस्था आगे ले जाने में महत्वपूर्ण कदम होगा. 

इस घोषणा के बाद अब दिल्ली में डीजल के दाम 82 रुपये से घटकर 73.64 रुपये प्रति लीटर हो जाएंगे.

मुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली की अर्थव्यवस्था को उबारने में अभी कई चुनौतियां सामने हैं. हालांकि, इसके साथ ही उन्होंने कहा कि हम लोगों के सहयोग से इन चुनौतियों से पार पा लेंगे.

उन्होंने कहा कि इस कटौती के बाद दिल्ली में अब डीजल का दाम 82 रुपये प्रति लीटर से घटकर 73.64 रुपये प्रति लीटर रह जाएगा. मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य के व्यापारी और उद्योगपति डीजल पर वैट में कटौती की मांग कर रहे थे.

केजरीवाल ने कहा, ‘इस निर्णय से दिल्ली की अर्थव्यवस्था को एक ध्क्का लगाने में मदद मिलेगी. पिछले एक हफ्ते से इस दिशा में कई सारे कदम उठाए गए हैं, जैसे सोमवार को रेहड़ी-पटरी वालों को काम शुरू करने की इजाजत दी गई. एक जॉब पोर्टल शुरू किया गया है. बहुत सारे लोग हैं जो काम करना चाहते हैं लेकिन उन्हें पता नहीं कि कहा नौकरी मांगने जाएं. ये पोर्टल ऐसे लोगों की मदद करेगा.’

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा कि जो काम लेना चाहते हैं और जो काम देना चाहते हैं, दोनों लोगों को मिलाने के लिए जॉब पोर्टल शुरू किया गया है. केजरीवाल ने बताया कि इस पोर्टल पर तीन दिन के भीतर ही लगभग 60,577 कंपनियों या काम देने वालों ने अभी तक रजिस्टर किया है.

इसे अलावा 2,04,785 नौकरियों का इस पोर्टल पर विज्ञापन दिया गया है. कुल मिलाकर 3,22,865 लोगों ने नौकरियों के लिए अप्लाई किया है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)