भारत

रक्षा मंत्रालय ने सीबीएफसी से कहा, सेना आधारित फिल्म-वेब सीरीज़ के प्रसारण से पहले एनओसी लें

सीबीएफसी को लिखे पत्र में रक्षा मंत्रालय ने कहा है कि उनके संज्ञान में आया है कि कुछ प्रोडक्शन हाउस सेना की पृष्ठभूमि पर फिल्में बना रहे हैं या इस तरह के कंटेट का इस्तेमाल कर रहे हैं, जिससे भारतीय सेना की छवि धूमिल हो रही है.

(फोटो: रॉयटर्स)

(प्रतीकात्मक फोटो: रॉयटर्स)

नई दिल्लीः रक्षा मंत्रालय ने केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड (सीबीएफसी) को पत्र लिखकर प्रोडक्शन हाउसों से सेना या इसकी विषयवस्तु पर आधारित फिल्म, डॉक्यूमेंट्री या वेब सीरीज का प्रसारण करने से पहले मंत्रालय से अनापत्ति प्रमाणपत्र (एनओसी) लेने का अनुरोध किया है.

सूत्रों का कहना है कि रक्षा मंत्रालय को कुछ शिकायतें मिली थीं, जिसमें भारतीय सेना के जवानों और सैन्य वर्दी का अपमानजनक तरीके से चित्रण करने पर कड़ी आपत्ति जताई गई थी.

सूत्रों का कहना है कि हाल ही में प्रसारित कुछ वेब सीरीज में सेना से संबंधित दृश्य वास्तविकता से परे रहे और इनमें सेना की खराब छवि को पेश किया गया.

सूत्रों का कहना है कि इस संबंध में सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय और इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय को भी पत्र लिखा गया है.

सूत्र बताते हैं कि सीबीएफसी से उन घटनाओं पर लगाम लगाने को कहा गया है, जिनसे सुरक्षाबलों की छवि खराब होती हैं और जवानों एवं पूर्व सैन्यकर्मियों की भावनाएं आहत होती हैं.

सूत्रों ने बताया कि सीबीएफसी को लिखे पत्र में मंत्रालय ने कहा है कि यह बात उनके संज्ञान में लाई गई है कि कुछ प्रोडक्शन हाउस सेना की पृष्ठभूमि पर फिल्में बना रहे हैं या इस तरह के कंटेट का इस्तेमाल कर रहे हैं, जिनसे भारतीय सेना की छवि धूमिल हो रही है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)