भारत

बिहार बाढ़: 16 ज़िलों में 75 लाख से ज़्यादा की आबादी प्रभावित

बिहार के दरभंगा ज़िले में सबसे अधिक 15 प्रखंडों की 220 पंचायतें बाढ़ से प्रभावित हुई हैं. मौसम विभाग ने कई इलाकों में भारी बारिश होने की आशंका जताई है. चार ज़िलों- सारण, सीवान, गया और नवादा में अलर्ट जारी किया है.

(फोटो: पीटीआई)

(फोटो: पीटीआई)

पटना: बिहार में बाढ़ से स्थिति गंभीर बनी हुई है. राज्य के 16 जिलों में 75 लाख से अधिक की आबादी प्रभावित हो चुकी है.

आपदा प्रबंधन विभाग से जानकारी के मुताबिक, सीतामढ़ी, शिवहर, सुपौल, किशनगंज, दरभंगा, मुजफ्फरपुर, गोपालगंज, पूर्वी चंपारण जिले बाढ़ से प्रभावित हैं. पश्चिम चंपारण, खगड़िया, सारण, समस्तीपुर, सिवान, मधुबनी, मधेपुरा एवं सहरसा जिले की आबादी भी बाढ़ से प्रभावित हुई है.

इन जिलों के 126 प्रखंडों के 1260 पंचायतों में 75 लाख से अधिक की आबादी बाढ़ से प्रभावित हुई है. बाढ़ के कारण विस्थापित लोगों को भोजन कराने के लिए 1204 सामुदायिक रसोई की व्यवस्था की गई है.

दरभंगा जिला में सबसे अधिक 15 प्रखंडों की 220 पंचायतें बाढ़ से प्रभावित हुई हैं.

बिहार के बाढ़ प्रभावित इन जिलों में बचाव और राहत कार्य चलाए जाने के लिए एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की कुल 33 टीमों की तैनाती की गई है.

बागमती, अधवारा समूह, कमला बलान, गंडक, बूढ़ी गंडक, कोसी, गंगा नदियों के जलस्तर बढ़ने से बाढ़ आई है.

जल संसाधन विभाग से प्राप्त जानकारी के मुताबिक, बागमती नदी सीतामढ़ी, मुजफ्फरपुर एवं दरभंगा में, बूढ़ी गंडक नदी मुजफ्फरपुर, समस्तीपुर एवं खगड़िया में, कमला बलान नदी मधुबनी में, गंगा नदी भागलपुर में मंगलवार को खतरे के निशान से ऊपर बह रही है.

जल संसाधन विभाग के अनुसार विभाग के अंतर्गत सभी बाढ़ सुरक्षात्मक बांध सुरक्षित हैं.

बिहार में बाढ़ से दरभंगा जिले में सबसे अधिक दस लोगों, मुजफ्फरपुर में छह, पश्चिम चंपारण में चार तथा सारण एवं सिवान में दो-दो व्यक्ति की मौत हो चुकी है.

प्रभात खबर के मुताबिक मंगलवार को प्रदेश में बाढ़ की पानी में डूबने से 15 लोगों की मौत हो गई. मुजफ्फरपुर जिले के कुढ़नी थाने की किसुनपुर मधुवन पंचायत में बाढ़ के पानी में डूबने से दो बच्चों की मौत हो गई.

वहीं, पश्चिम चंपारण के मझौलिया में सिकरहना नदी में डूबने से दो बच्चों, जबकि दरभंगा जिले के सिंहवाड़ा में बाढ़ के पानी में डूबने से दो अधेड़ की मौत हो गई.

इधर, सीवान के दरौंदा में तीन बच्चियां डूब गईं, जिनमें एक का शव बरामद हो चुका है. इसके अलावा लकड़ीनवीगंज में एक बच्ची व सिसवन में एक किशोर की डूबने से मौत हो गई.

जबकि कटिहार के बलरामपुर में सेल्फी लेने के दौरान पुल से नदी में गिरने से युवक की डूबने से मौत हो गई. सारण जिले के तरैया में एक महिला, गोपालगंज के बैकुंठपुर में एक युवक व जहानाबाद के काको में एक व्यक्ति, जबकि औरंगाबाद के देव में मामा-भांजे की डूबने से मौत हो गई.

मौसम विभाग ने चेतावनी जारी करते हुए कई इलाकों में भारी बारिश होने की आशंका जताई है. मौसम विभाग ने चार जिलों में अलर्ट जारी किया है. इनमें सारण, सीवान, गया और नवादा शामिल हैं. इस दौरान वज्रपात होने की आशंका जताई है.

वहीं, दरभंगा जिले में बाढ़ प्रभावित परिवारों के खाते में राहत राशि भेजी जा रही है. 11 अगस्त तक तकरीबन तीन लाख 44 हजार 339 परिवारों के खाते में, प्रति परिवार 6000 रुपये की राशि भेजी गई.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)