दुनिया

कोरोना वायरस: 64,553 नए मामले आए, तीसरी बार 24 घंटे में एक हज़ार से अधिक लोगों की मौत

भारत में कोरोना वायरस संक्रमण के कुल मामलों की संख्या बढ़कर 2,461,190 हो गई है और पिछले 24 घंटे में 1,007 और लोगों की मौत होने से मृतक संख्या बढ़कर 48,040 हो चुकी है. दुनिया में अब तक 2.09 करोड़ से ज़्यादा मामले सामने आए हैं, जबकि कुल 7.59 लाख से अधिक लोगों की यह महामारी जान ले चुकी है.

A woman leans against a stretcher holding her husband in the corridor of the emergency ward of Jawahar Lal Nehru Medical College and Hospital, during the coronavirus disease (COVID-19) outbreak, in Bhagalpur, in the eastern state of Bihar, India, July 27, 2020. REUTERS/Danish Siddiqui

कोरोना संक्रमण के दौर में बिहार के भागलपुर स्थित जवाहर लाल नेहरू मेडिकल कॉलेज और अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड के गलियारे में बीमार पति के स्ट्रेचर को पकड़े खड़ी महिला. (फोटो: रॉयटर्स)

नई दिल्ली: भारत में कोरोना वायरस संक्रमण के शुक्रवार को लगातार तीसरे दिन 60 हजार से अधिक मामले दर्ज किए गए. शुक्रवार को 64,553 नए मामले सामने आने के बाद देश में संक्रमण की कुल संख्या 24 लाख के पार चली गई, जबकि इनमें से 17 लाख से अधिक लोग स्वस्थ हो चुके हैं.

स्वास्थ्य मंत्रालय के सुबह आठ बजे के आंकड़ों के अनुसार, देश में संक्रमण के कुल मामलों की संख्या बढ़कर 2,461,190 हो गई है और पिछले 24 घंटे में 1,007 और लोगों की मौत हो जाने के कारण मृतक संख्या बढ़कर 48,040 हो गई है.

यह तीसरी बार है, जब एक दिन या 24 घंटे में मरने वालों की संख्या एक हजार के आंकड़े को पार कर गई है.

एक दिन या 24 घंटे के दौरान मरने वालों संख्या की बात करें तो बीते 13 अगस्त को 942, 12 अगस्त को 834, 11 अगस्त को 871, 10 अगस्त को 1,007 लोगों की मौत हुई, जो दूसरा सर्वाधिक आंकड़ा है. 24 जुलाई से नौ अगस्त के बीच एक दिन या 24 घंटे में मौत का आंकड़ा 700 से लेकर 933 (आठ अगस्त का आंकड़ा) के बीच रहा है.

23 जुलाई को 1,129 लोगों की मौत हुई, जो अब तक का सर्वाधिक आंकड़ा है. 22 जुलाई को 648, 21 जुलाई को 587, 20 जुलाई को 681 लोगों की मौत हुई. 19 जुलाई को 543, 18 जुलाई को 671 लोगों की मौत हुई थी. एक दिन पहले 17 जुलाई को ही मरने वालों की संख्या 687 पर पहुंच गई थी.

16 जुलाई को 606, 15 जुलाई को 582, 14 जुलाई को 553, 13 जुलाई को 500, 12 जुलाई को 551, 11 जुलाई को 519, 10 जुलाई को 475, नौ जुलाई को 487, आठ जुलाई को 482, सात जुलाई को 467, छह जुलाई को 425 और पांच जुलाई को 613 लोगों की मौत हुई थी.

चार जुलाई को यह संख्या 442, तीन जुलाई को 379, दो जुलाई को 434 और एक जुलाई को 507 थी.

11 जून से 30 जून के बीच मरने वालों की संख्या 300 से 500 के अंदर रही है. 22 जून को एक दिन में मरने वालों की संख्या पहली बार 400 से अधिक रही थी. और 11 जून को पहली बार मरने वालों की संख्या 300 के आंकड़े को पार कर गई थी.

बीते 24 घंटे या एक दिन में संक्रमण के नए मामलों की बात करें तो बीते 13 अगस्त को 66,999 मामले सामने आए, जो अब तक का सर्वाधिक आंकड़ा है. 12 अगस्त को 60,963, 11 अगस्त को 53,601, 10 अगस्त को 62,064 और नौ अगस्त को 64,399 नए मामले सामने आए थे.

इसके अलावा आठ अगस्त को 61,537, सात अगस्त को 62,538, छह अगस्त को 56,282, पांच अगस्त को 52,509, चार अगस्त को 52,050, तीन अगस्त को 52,972 मामले, दो अगस्त को 54,735, एक अगस्त 57,118, 31 जुलाई को 55,078, 30 जुलाई को 52,123 मामले सामने आए थे.

30 जुलाई को पहली बार नए मामलों की संख्या 24 घंटे के दौरान 50 हजार के पार हुई थी. 20 जुलाई को यह पहली बार 40 हजार के पार, 16 जुलाई को पहली बार 30 हजार के पार, 10 जुलाई को पहली बार 25 हजार (26,506) के पार, तीन जुलाई को पहली बार 20 हजार के पार, 21 जून को पहली बार 15 हजार के पार और 20 जून को संक्रमण के नए मामलों की संख्या पहली बार 14 हजार के पार हुई थी.

शुक्रवार को स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, 1,751,555 लोग संक्रमित होने के बाद स्वस्थ हो चुके हैं और लोगों के ठीक होने की दर सुधर कर 71.17 प्रतिशत हो गई है. मृत्युदर गिरकर 1.95 प्रतिशत रह गई है.

देश में इस समय 6.60 लाख संक्रमित लोगों का इलाज चल रहा है. यह संख्या कुल मामलों का 26.88 प्रतिशत है.

भारत में सात अगस्त को संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 20 लाख के आंकड़े को पार कर गई थी.

आईसीएमआर के अनुसार, देश में 2.76 करोड़ से अधिक नमूनों की जांच की जा चुकी है, जिनमें से बृहस्पतिवार को एक दिन में सर्वाधिक 848,728 नमूनों की जांच की गई.

शुक्रवार को बीते 24 घंटे के दौरान जिन 1,007 लोगों की मौत हुई है, उनमें से महाराष्ट्र में सर्वाधिक 413 लोगों की मौत हुई है. इसके बाद तमिलनाडु में 119, कर्नाटक में 103, आंध्र प्रदेश में 82 लोगों की मौत हुई.

इसके अलावा पश्चिम बंगाल में 56, उत्तर प्रदेश में 50, पंजाब में 31, गुजरात में 18, मध्य प्रदेश में 17, दिल्ली में 14, झारखंड में 12, जम्मू कश्मीर में 11, राजस्थान में 11 और बिहार में 10 लोगों की मौत हुई.

ओडिशा और तेलंगाना में नौ-नौ, असम एवं हरियाणा में आठ-आठ, पुदुचेरी में छह, छत्तीसगढ़ में पांच, केरल एवं उत्तराखंड में तीन-तीन, गोवा और त्रिपुरा में दो-दो, अरुणाचल प्रदेश, अंडमान-निकोबार द्वीपसमूह, चंडीगढ़, हिमाचल प्रदेश और मणिपुर में एक-एक व्यक्ति की मौत हो गई.

देश में संक्रमण से कुल 48,040 लोगों की मौत हुई है. इनमें से महाराष्ट्र में सबसे अधिक 19,063 लोगों की मौत हो चुकी है. इसके बाद तमिलनाडु में 5,397, दिल्ली में 4,167, कर्नाटक में 3,613, गुजरात में 2,731 लोगों की मौत हुई है.

इसके अलावा आंध्र प्रदेश में 2,378, उत्तर प्रदेश में 2,280, पश्चिम बंगाल में 2,259 और मध्य प्रदेश 1,065 लोगों की मौत हो चुकी है.

राजस्थान में कोविड-19 से अब तक 833, पंजाब में 706, तेलंगाना में 674, हरियाणा में 511, जम्मू कश्मीर में 509, बिहार में 426, ओडिशा में 314, झारखंड में 209, असम में 169, उत्तराखंड में 143 और केरल में 129 लोग दम तोड़ चुके हैं.

छत्तीसगढ़ में 114 लोग, पुदुचेरी में 102, गोवा में 91, त्रिपुरा में 46, चंडीगढ़ में 27, अंडमान-निकोबार द्वीपसमूह में 22, हिमाचल प्रदेश में 19, मणिपुर में 13, लद्दाख में नौ, नगालैंड में आठ, मेघालय में छह, अरुणाचल प्रदेश में चार, दादरा-नगर हवेली एवं दमन-दीव में दो-दो और सिक्किम में एक व्यक्ति की मौत हुई है.

स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि संक्रमण के कारण मारे गए 70 प्रतिशत से अधिक लोग किसी न किसी अन्य बीमारी से ग्रस्त थे.

दुनियाभर में 2.09 करोड़ से ज़्यादा मामले, कुल 7.59 लाख से अधिक की मौत

अमेरिका की जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार, पूरी दुनिया में कोरोना वायरस संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 20,939,967 हो गए हैं और अब तक 759,928 लोगों की जान जा चुकी है.

दुनियाभर में कोरोना से अमेरिका सबसे अधिक प्रभावित देश है. यहां संक्रमण के 5,254,196 मामले हैं. यहां मरने वालों की संख्या 167,242 हो चुकी है.

अमेरिका के बाद संक्रमण से सर्वाधिक प्रभावित देश ब्राजील में संक्रमण के 3,224,876 मामले सामने आए हैं और मरने वालों की संख्या एक लाख का आंकड़ा पार कर 105,463 हो गई है.

संक्रमण के मामलों में भारत तीसरे स्थान पर है. भारत के बाद रूस चौथे स्थान पर है, जहां संक्रमण के 910,778 मामले हैं और 15,467 लोगों की जान जा चुकी है.

उसके बाद दक्षिण अफ्रीका संक्रमण से पांचवां सर्वाधिक प्रभावित देश है. यहां अब तक 572,865 मामले आए हैं और 11,270 लोगों की मौत दर्ज की जा चुकी है.

दक्षिण अफ्रीका के बाद मैक्सिको को पछाड़कर पेरू छठा प्रभावित देश बन गया है, जहां संक्रमण के 507,996 मामले हैं और 25,648 लोगों की जान गई है.

पेरू के बाद सातवें प्रभावित देश मैक्सिको में 505,751 मामले दर्ज हुए हैं जबकि 55,293 मौतें हुई हैं. संक्रमण से सर्वाधिक प्रभावित आठवें देश कोलंबिया में 433,805 मामले दर्ज हुए हैं जबकि 14,145 मौतें हुई हैं.

कोलंबिया के बाद चिली संक्रमण के मामलों में नौवें स्थान पर पहुंच गया है. यहां संक्रमण के 380,034 मामले दर्ज हुए हैं जबकि 10,299 मौतें हुई हैं.

चिली के बाद 10वें स्थान पर ईरान को पछाड़ते हुए स्पेन पहुंच गया है. यहां संक्रमण के 337,334 मामले सामने आ चुके हैं जबकि 28,605 लोगों की मौत हो चुकी है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)