दुनिया

रूस: विपक्षी नेता गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती, ज़हर दिए जाने का शक़

राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के धुर विरोधी नेता एलेक्सी नवलनी साइबेरिया के ओम्स्क शहर से मॉस्को लौट रहे थे, जब विमान में अचानक उनकी तबियत ख़राब हुई. 44 वर्षीय नवलनी वकील और भ्रष्टाचार के ख़िलाफ़ काम करने वाले कार्यकर्ता हैं, जो क्रेमलिन विरोधी प्रदर्शनों के चलते कई बार जेल जा चुके हैं.

फरवरी 2020 में मास्को में हुई एक रैली में एलेक्सी नवलनी. (फोटो: रायटर्स)

फरवरी 2020 में मास्को में हुई एक रैली में एलेक्सी नवलनी. (फोटो: रॉयटर्स)

मॉस्को: रूस के विपक्षी नेता एलेक्सी नवलनी विमान यात्रा के दौरान कथित रूप से जहर देने की वजह से बीमार हो गए और उन्हें साइबेरिया में अस्पताल के गहन चिकित्सा कक्ष में वेंटिलेटर पर रखा गया है.

यह जानकारी उनकी प्रवक्ता ने बृहस्पतिवार को दी. प्रवक्ता किरा यारमीश ने बताया कि राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के धुर विरोधी नवलनी जब साइबेरिया के शहर ओम्स्क से हवाई जहाज से मॉस्को लौट रहे थे, तब वह बीमार पड़ गए.

उन्होंने ट्वीट किया, ‘ओमस्क में विमान की आपात लैंडिंग कराई गई, नवलनी को जहर दिया गया है.’

उन्होंने ‘इको मोस्कवी’ रेडियो स्टेशन को बताया कि नवलनी को पसीना आ रहा था और उन्होंने मुझसे बात करने को कहा ताकि वह आवाज पर ध्यान केंद्रित कर सके. इसके बाद वह शौचालय गए जहां वह बेहोश हो गए.

रॉयटर्स के मुताबिक, यारमीश ने बताया कि नवलनी को सुबह चाय के साथ विषैला पदार्थ दिया गया होगा क्योंकि उन्होंने सुबह सिर्फ वही एक चीज पी थी.

उन्होंने ट्वीट किया, ‘डॉक्टरों का कहना है कि किसी गर्म पदार्थ के साथ जहर दिया गया.’

उन्हें तोम्स्क के एक अस्पताल में भर्ती करवाया गया है, जहां वे आईसीयू में हैं. बताया गया है कि वे कोमा में हैं.

डॉक्टर्स की ओर से कहा गया है कि उनकी हालत स्थिर है, साथ ही उनकी जान को अब भी खतरा है और वे उन्हें बचाने का प्रयास कर रहे हैं.

रूस के इतिहास में क्रेमिलन के विरोधियों को जहर दिए जाने और संभावित तौर पर जहर देने से बीमार होने की कई घटनाएं हुई हैं.

इनमें से एक ओलेक्जेंडर लित्विनेंको थे, जिनकी साल 2006 में लंदन में पॉलोनियम-210 मिली चाय पीने के बाद मौत हो गई थी, इसी तरह 2018 में  एक पूर्व डबल एजेंट सेर्गेई स्क्रिपल को भी इंग्लैंड में जहर दिया गया था.

हालंकि क्रेमलिन द्वारा लगातार इन सभी घटनाओं को रूस-विरोधी उकसावा बताते हुए इनमें शामिल होने से इनकार किया गया.

यारमीश ने यह नहीं बताया है कि नवलनी को जहर दिए जाने के बारे में उन्हें किस पर संदेह है. लेकिन उन्होंने बताया कि नवलनी की टीम ने अस्पताल में पुलिस को बुलाया है.

स्थानीय स्वास्थ्य मंत्री तत्याना शकिरोवा ने इस बात की पुष्टि की है कि नवलनी तोम्स्क के अस्पताल में हैं और उनकी हालत गंभीर है.

उन्होंने बताया, ‘उनकी हालत संभालने के लिए डॉक्टर्स हर मुमकिन कोशिश कर रहे हैं. जहर देने वाला पहलू उन बातों में से एक है जिनके बारे में कयास लगाए जा रहे हैं. इस समय यह बताना बहुत मुश्किल है कि इसकी वजह क्या होगी।’

44 वर्षीय नवलनी एक वकील और भ्रष्टाचार के खिलाफ काम करने वाले कार्यकर्ता हैं, जो क्रेमलिन विरोधी प्रदर्शन आयोजित करने को लेकर कई बार जेल जा चुके हैं. एक क्रेमलिन समर्थक द्वारा उन पर हमला भी किया जा चुका है.

वे आधिकारिक भ्रष्टाचार के कई दावों की जांच में मदद कर चुके हैं और इस बारे में उनके वीडियो काफी देखे जाते हैं.

रूस में अगले महीने स्थानीय चुनाव होने हैं और नवलनी और उनके साथी उन उम्मीदवारों के लिए समर्थन जुटाने में लगे थे, जिनका वे साथ दे रहे हैं.

गौरतलब है कि पिछले साल भी प्रशासन द्वारा गिरफ्तार किए जाने के बाद उन्हें जेल से अस्पताल लाया गया था और उनकी टीम ने जहर दिए जाने का शक जाहिर किया था.

डॉक्टरों ने गंभीर एलर्जी होने का हवाला देते हुए अगले दिन अस्पताल से छुट्टी देकर उन्हें वापस जेल भेज दिया था.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)