राजनीति

तमिलनाडु: कांग्रेस सांसद एच. वसंतकुमार का कोरोना वायरस से निधन

तमिलनाडु के कन्याकुमारी से कांग्रेस सांसद एच. वसंतकुमार को कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद 10 अगस्त को अस्पताल में भर्ती किया गया था. उन्हें निमोनिया भी था. वह 2019 के लोकसभा चुनाव में वह पहली बार सांसद चुने गए थे.

कांग्रेस सांसद वसंतकुमार (फोटो साभारः ट्विटर)

कांग्रेस सांसद वसंतकुमार (फोटो साभारः ट्विटर)

चेन्नईः तमिलनाडु के कन्याकुमारी से कांग्रेस के लोकसभा सदस्य एच. वसंतकुमार का शुक्रवार को चेन्नई के एक अस्पताल में कोविड-19 से निधन हो गया.

कांग्रेस के प्रवक्ता बताया कि पहली बार सांसद बने और तमिलनाडु प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कार्यवाहक अध्यक्ष वसंतकुमार (70) को कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जाने के बाद 10 अगस्त को अपोलो अस्पताल में भर्ती कराया गया था.

अपोलो अस्पताल ने बयान जारी कर कहा कि सांसद का इंटेंसिव केयर यूनिट (आईसीयू) में इलाज चल रहा था. निमोनिया के कारण उनकी स्थिति गंभीर थी.

अस्पताल ने कहा, सभी चिकित्सा उपायों के बावजूद कोविड-19 संबंधी जटिलताओं की वजह से उनकी हालत धीरे-धीरे बिगड़ती गई और उनका निधन हो गया.

वसंतकुमार दो बार विधायक भी रह चुके थे और 2019 के लोकसभा चुनाव में सांसद चुने गए थे.

वसंतकुमार हरिकृष्ण पेरुमल का जन्म 14 अप्रैल, 1950 को हुआ था. वह तमिलनाडु कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और जानी-मानी तमिल साहित्यकार कुमारी अनंतन के भाई थे.

वसंतकुमार राजनेता होने के साथ एक उद्यमी भी थे. उनके परिवार में उनकी पत्नी, दो बेटे और एक बेटी है.

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के. पलानीस्वामी, कांग्रेस पार्टी के नेताओं राहुल गांधी, अहमद पटेल, पी. चिदंबरम, केसी वेणुगोपाल, रणदीप सुरजेवाला और द्रमुक अध्यक्ष एमके स्टालिन आदि ने वसंतकुमार के निधन पर शोक जताया.

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने वसंतकुमार के निधन पर शोक जताते हुए ट्वीट कर कहा, ‘कन्याकुमारी से सांसद वसंतकुमार के निधन के बारे में जानकार दुख हुआ. एक उद्यमी और सामाजिक कार्यकर्ता, जिन्होंने राजनीति और व्यवसाय की दुनिया में अपना नाम कमाया. तमिलनाडु में लोगों के प्रति उनका समर्पण प्रेरणादायक है. उनके परिवार, मित्रों और प्रशंसकों के प्रति संवेदना.’

प्रधानमंत्री मोदी ने वसंतकुमार के निधन पर ट्वीट कर कहा, ‘लोकसभा सांसद वसंतकुमार के निधन से दुखी हूं. व्यापार और समाज सेवा के प्रयासों में उनकी प्रगति उल्लेखनीय थी. मैंने उनके साथ बातचीत में हमेशा तमिलनाडु की प्रगति के प्रति उनका जुनून देखा. उनके परिवार और समर्थकों के प्रति संवेदनाएं.’

तमिलनाडु के मुख्यमंत्री पलानीस्वामी ने निधन पर शोक जताते हुए कहा, ‘वसंतकुमार ने सेल्समैन के रूप में काम शुरू किया था और अपनी मेहनत से यहां तक पहुंचे थे. उन्होंने गरीबों के शैक्षणिक और आर्थिक विकास के लिए उत्कृष्ट सेवा की और सार्वजनिक जीवन में जनता का स्नेह पाया.’

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने निधन पर ट्वीट कर कहा, ‘कोविड-19 के कारण कन्याकुमारी से सांसद वसंतकुमार के निधन की खबर सुनकर स्तब्ध रह गया. लोगों की सेवा करने की कांग्रेस की विचारधारा के प्रति उनकी प्रतिबद्धता हमेशा हमारे दिलों में रहेगी. उनके परिजन और मित्रों के प्रति मेरी गहरी संवेदना है.’

तमिलनाडु कांग्रेस समिति के अध्यक्ष केएस अलागिरी ने वसंतकुमार के निधन पर शोक प्रकट करते हुए दिवंगत सांसद के सम्मान में सात दिन के शोक की घोषणा करते हुए कहा कि पार्टी का झंडा आधा झुका रहेगा और पार्टी के सभी कार्यक्रम निरस्त किए जा रहे हैं.

मक्कल निधी मैयम के अध्यक्ष और अभिनेता कमल हासन, अभिनेता रजनीकांत, पीएमके और एमडीएमके के नेता एस रामदॉस और वाइको ने भी वसंतकुमार के निधन पर शोक जताया.

मालूम हो कि कोरोना वायरस के कारण कारण अब तक कई राजनेताओं की मौत हो चुकी है.

बीते 16 अगस्त को उत्तर प्रदेश सरकार में मंत्री और पूर्व भारतीय सलामी बल्लेबाज चेतन चौहान का कोविड-19 संबंधित दिक्कतों के कारण निधन हो गया था. वह 73 वर्ष के थे.

वह उत्तर प्रदेश के दूसरे मंत्री हैं जिनका कोरोना वायरस से निधन हो गया. दो अगस्त को राज्य की तकनीकी शिक्षा मंत्री कमल रानी वरुण का भी कोविड-19 पॉजिटिव आने के कुछ दिन बाद निधन हो गया था. 62 वर्षीय कानपुर नगर के घाटमपुर से विधायक कमल रानी इससे पूर्व 11वीं एवं 12वीं लोकसभा की सदस्य रही थीं.

बीते 12 अगस्त को पुदुचेरी के पूर्व स्थानीय प्रशासन मंत्री ए. एलुमलाई की कोविड-19 संक्रमण से मौत हो गई थी.

बीते छह अगस्त को माकपा के वरिष्ठ नेता श्यामल चक्रवर्ती का कोविड-19 के चलते कोलकाता के एक अस्पताल में निधन हो गया था. वह 1982 से 1996 तक तीन बार पश्चिम बंगाल के परिवहन मंत्री रह चुके थे. साथ ही वह दो बार राज्यसभा सदस्य और ट्रेड यूनियन के नेता भी रहे थे.

वहीं, बिहार में भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (सीपीआई) के सचिव सत्यनारायण सिंह का बीते दिनों कोरोना के चलते निधन हो गया था.

बीते जून महीने में कोरोना वायरस संक्रमण की चपेट में आए पश्चिम बंगाल के दक्षिण 24 परगना में फाल्टा विधानसभा क्षेत्र से तीन बार के विधायक 60 वर्षीय तमोनाश घोष का निधन हो गया था.

जून में ही चेन्नई के चेपॉक से डीएमके विधायक जे. अनबझगन का निधन उनके 62वें जन्मदिन पर हुआ. वह भी कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए थे.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)