भारत

उत्तर प्रदेश: हत्या के आरोपी को भीड़ ने पुलिस के सामने पीट-पीट कर मार डाला

मामला उत्तर प्रदेश के कुशीनगर ज़िले का है. एक शिक्षक की उनके घर में घुसकर हत्या कर दी गई. हत्या के कारणों का अभी पता नहीं चल सका है.

Kushinagar

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश के कुशीनगर जिले में एक शिक्षक की हत्या के आरोपी को भीड़ ने पुलिस के सामने पीट-पीटकर मार डाला.

एनडीटीवी की रिपोर्ट के अनुसार, मामला तरयासुजान थाना क्षेत्र के रामपुर बंगरा गांव का है. एक शिक्षक सुधीर सिंह की उनके घर में हत्या कर दी गई. हत्या का आरोपी भीड़ जमा होने पर आत्मसमर्पण करना चाहता था, लेकिन वहां मौजूद ग्रामीण गुस्से में बेकाबू हो गए और पुलिस के सामने ही आरोपी युवक को पीटने लगे.

पुलिस ने लोगों को समझाने की कोशिश की लेकिन वह आरोपी को बचाने में नाकामयाब रहे.

इस घटना का वीडियो भी सामने आया है, जहां मौके पर कई पुलिसकर्मी मौजूद नजर आ रहे हैं और भीड़ को समझाने की कोशिश भी कर रहे हैं. पुलिस की मौजूदगी में लोग शख्स को पीट रहे हैं.

पुलिस के अनुसार, हत्या का आरोपी गोरखपुर का था और खुद को शिक्षक का भाई बताते हुए उनकी तलाश में एक बाइक से गांव आया था.

पुलिस ने बताया कि उस दौरान सुधीर सिंह नहा रहे थे, तब आरोपी ने घर में उनका इंतजार करते हुए चाय पी थी. जैसे ही उसने सुधीर सिंह को देखा उन पर गोली चला दी.

रिपोर्ट के अनुसार, हत्या के बाद आरोपी भागने की कोशिश कर रहा था, लेकिन शिक्षक के घर के बाहर भीड़ देखकर वह छत पर चढ़ गया और ग्रामीणों को दूर रखने के लिए बंदूक लहराकर हवाई फायरिंग की.

एक अधिकारी ने बताया कि पुलिस का एक दल घर की छत पर पहुंचा था, लेकिन तब तक आरोपी वहां से भाग निकला और ग्रामीणों की पकड़ में आ गया था.

एनडीटीवी से बताचीत में कुशीनगर एसपी विनोद कुमार मिश्र ने कहा, ‘पुलिस के दल ने छत पर चढ़कर उससे आत्मसमर्पण करने को कहा था. इस दौरान दोनों ओर से गोलियां भी चलाई गईं.’

उन्होंने बताया, ‘उसके बाद आरोपी छत से उतर गया और एक कमरे में घुसने की कोशिश की तब तक भीड़ ने उसे पकड़ लिया और पुलिस के छत से नीचे आने तक इतना मारा कि उसकी मौत हो गई.’

अमर उजाला की रिपोर्ट के अनुसार, तरयासुजान एसएचओ हरेंद्र मिश्रा ने बताया कि मृत हमलावर की पहचान आर्यमन यादव (25) के रूप में हुई है. वह गोरखपुर जिले के नंदा नगर दरगाही इलाके का निवासी है. घटना की जानकारी उसके भाई को दे दी गई है. उसके पास से पिस्तौल बरामद किया गया है. फिलहाल हत्या का मकसद अभी तक पता नहीं चला है.