भारत

ज़मानत याचिका में रिया ने कहा, एनसीबी ने क़बूलनामे के लिए मजबूर किया

सत्र अदालत में दायर ज़मानत याचिका में रिया ने कहा है कि उन्होंने कोई अपराध नहीं किया और उन्हें इस मामले में फंसाया जा रहा है. याचिका में यह भी कहा गया कि रिया से एनसीबी पूछताछ के दौरान वहां कोई महिला अधिकारी मौजूद नहीं थी.

रिया चक्रवर्ती. (फोटो: पीटीआई)

रिया चक्रवर्ती. (फोटो: पीटीआई)

मुंबई:  सुशांत सिंह राजपूत की मौत से जुड़े ड्रग्स मामले में गिरफ्तार रिया चक्रवर्ती ने मुंबई की अदालत में दायर अपनी जमानत याचिका में आरोप लगाया है कि नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) द्वारा पूछताछ के दौरान उन्हें ‘दोष स्वीकारोक्ति वाले बयान’ देने को मजबूर किया गया.

बुधवार को सत्र अदालत में दायर याचिका में रिया ने यह दावा भी किया कि उन्होंने कोई अपराध नहीं किया है और उन्हें इस मामले में फंसाया जा रहा है.

रिया की जमानत याचिका पर गुरुवार को सुनवाई हुई थी, अदालत शुक्रवार को फैसला दे सकती है.

एनसीबी ने तीन दिन तक पूछताछ करने के बाद रिया को मंगलवार को गिरफ्तार किया था. मजिस्ट्रेट अदालत उनकी जमानत याचिका पहले ही खारिज कर चुकी है.

रिया की ओर से वकील सतीश मानशिंदे ने जो जमानत याचिका दी है, उसमें कहा गया है, ‘हिरासत (एनसीबी की) के दौरान याचिकाकर्ता (रिया) को दोष स्वीकारोक्ति वाले बयान देने पर मजबूर किया गया. अभिनेत्री ऐसे सभी कबूलनामे औपचारिक तौर पर वापस लेती हैं.’

याचिका में रिया ने यह भी कहा कि उनकी गिरफ्तारी ‘गैरजरूरी है तथा बिना किसी कारण के की गई है. अभिनेत्री की आजादी पर मनमाने ढंग से रोक लगाई गई.’

याचिका में यह भी कहा गया कि रिया से पूछताछ के दौरान वहां कोई महिला अधिकारी मौजूद नहीं थी.

रिया को एनसीबी द्वारा तीन दिन तक पूछताछ करने के बाद गिरफ्तार किया गया था. वे फिलहाल न्यायिक हिरासत में हैं और उन्हें भायखला जेल में रखा गया है.

एनसीबी अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत की जांच में सामने आए ड्रग्स ख़रीद मामले में रिया के छोटे भाई शौविक चक्रवर्ती, सुशांत के हाउस मैनेजर सैमुअल मिरांडा और निजी स्टाफ सदस्य दीपेश सावंत को भी गिरफ़्तार कर चुका है.

एनसीबी ने इससे पहले दावा किया था कि रिया ने अपने बयानों में ड्रग्स लाने और वित्तीय लेनदेन में अपनी भागीदारी स्वीकारी है, साथ ही अन्य आरोपियों शौविक, सैमुअल और दीपेश को निर्देश देने की बात भी कही है.

एजेंसी ने कहा, ‘इसलिए उनके बयानों से यह साफ है कि वे ड्रग सुप्पी से जुड़े सिंडिकेट की सक्रिय सदस्य हैं.’

एजेंसी ने यह भी कहा था कि अभिनेत्री ने बताया कि वे सुशांत के सेवन करने के लिए ड्रग्स लाती थीं, साथ ही सुशांत के साथ ड्रग्स लाने के लिए वित्तीय इंतजाम करती थीं.

एनसीबी ईडी द्वारा रिया के दो मोबाइल फोन से मिली जानकारी की रिपोर्ट के आधार पर अभिनेता की मौत के मामले में एनडीपीएस अधिनियम के तहत ड्रग्स खरीद के मामले की जांच कर रही है.

सुशांत सिंह राजपूत बीते 14 जून को बांद्रा स्थित अपने आवास में मृत पाए गए थे. इस मामले में तीन केंद्रीय एजेंसियां एनसीबी, ईडी और सीबीआई विभिन्न दृष्टिकोणों से जांच कर रही है.

रिया, शौविक की जमानत याचिकाओं पर शुक्रवार को आदेश पारित कर सकती है अदालत

रिया के अलावा उनके भाई शौविक तथा मामले में अन्य आरोपी जिन्हें एनसीबी ने पिछले हफ्ते गिरफ्तार किया था, उनकी जमानत याचिका पर भी शुक्रवार को सुनवाई होगी.

यहां की एक विशेष अदालत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत से संबंधित मादक पदार्थों के एक मामले के सिलसिले में गिरफ्तार रिया चक्रवर्ती और उनके भाई शौविक चक्रवर्ती की जमानत याचिकाओं पर शुक्रवार को आदेश पारित कर सकती है.

विशेष न्यायाधीश जीबी गुराव ने बृहस्पतिवार को चक्रवर्ती भाई-बहन के वकील और मामले में विशेष सरकारी अभियोजक की दलीलों को सुना.

मामले में चार अन्य आरोपियों की जमानत याचिकाओं की भी न्यायाधीश ने सुनवाई की. इसके बाद अदालत ने मामले की सुनवाई को शुक्रवार तक के लिए स्थगित कर दिया.

सभी जमानत याचिकाओं पर शुक्रवार को आदेश पारित किए जाने की उम्मीद है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)