भारत

भाजपा के पूर्व सांसद और अभिनेता परेश रावल राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय के अध्यक्ष नियुक्त

राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय (एनएसडी) का अध्यक्ष पद साल 2017 से ख़ाली था. इस पद पर परेश रावल की नियुक्ति चार वर्षों के लिए की गई है.

परेश रावल. (फोटो साभार: एएनआई)

परेश रावल. (फोटो साभार: एएनआई)

नई दिल्ली: दिग्गज अभिनेता और पूर्व भाजपा सांसद परेश रावल को देश के प्रमुख रंगमंच संस्थान राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय (एनएसडी) का अध्यक्ष नियुक्त किया गया है. यह पद 2017 से खाली था.

बृहस्पतिवार को केंद्रीय संस्कृति मंत्री प्रह्लाद पटेल ने ट्विटर पर कहा, ‘प्रख्यात कलाकार परेश रावल को राष्ट्रपति भवन द्वारा राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय का अध्यक्ष नियुक्त किया गया है. उनकी प्रतिभा का लाभ देश के कलाकारों एवं छात्रों को मिलेगा. हार्दिक शुभकामनाएं.’

सिनेमा और रंगमंच दोनों में कई वर्षों का अनुभव रखने वाले रावल (65) ने बताया कि वह इस कार्य को करने के लिए उत्सुक हैं.

उन्होंने कहा, ‘यह चुनौतीपूर्ण लेकिन मजेदार होगा. मैं अपना सर्वश्रेष्ठ काम करूंगा, क्योंकि यह एक ऐसा क्षेत्र है जिसे मैं अच्छी तरह से जानता हूं.’

संस्कृति मंत्रालय के मीडिया सलाहकार नितिन त्रिपाठी ने बताया कि भाजपा के पूर्व सांसद रावल को चार वर्ष के लिए इस पद पर नियुक्त किया गया है.

वहीं, राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय ने अपने नए अध्यक्ष का स्वागत किया. एनएसडी ने ट्वीट कर कहा, ‘हमें यह बताते हुए खुशी हो रही है कि माननीय राष्ट्रपति ने जाने-माने अभिनेता पद्मश्री परेश रावल को एनएसडी का अध्यक्ष नियुक्त किया है. एनएसडी परिवार उनका स्वागत करता है, वह अपने मार्गदर्शन में एनएसडी को नई ऊंचाई पर पहुंचाएंगे.’

अभिनेता परेश रावल को ‘हेराफेरी’, ‘अतिथि तुम कब जाओगे’ और ‘ओएमजी-ओह माई गोड’ जैसी फिल्मों में अपनी भूमिका के लिए जाना जाता है.

परेश रावल उन चुनिंदा अभिनेताओं में से एक हैं जो फिल्मों में प्रमुख नाम बनने के बाद भी थियेटर में सक्रिय हैं.

रावल ने अपने फिल्मी करियर की शुरुआत 1982 में गुजराती फिल्म ‘नसीब नी बलिहारी’ से की थी. बाद में उन्हें ‘भागवान दादा’, ‘नाम’, ‘खतरों के खिलाड़ी’, ‘राम लखन’ और ‘स्वर्ग’ जैसी फिल्मों में देखा गया.

उनकी कुछ और सराहनीय फिल्मों में ‘किंग अंकल’, ‘दामिनी’, ‘सर’, ‘ओ छोकरी’, ‘अंदाज़ अपना-अपना’, ‘मोहरा’, ‘चाची 420’, ‘आंखें’, ‘संजू’ और ‘उरी: द सर्जिकल स्ट्राइक’ शामिल हैं.

‘सर’ और ‘ओ छोकरी’ के लिए उन्हें सर्वेश्रेष्ठ सहायक अभिनेता का राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार भी मिल चुका है.

साल 2014 के लोकसभा चुनाव में परेश रावल ने भाजपा उम्मीदवार के रूप में अहमदाबाद पूर्व सीट 3.25 लाख से अधिक मतों से जीती थी.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)