दुनिया

कोरोना वायरस: एक दिन में रिकॉर्ड 96,551 नए मामले दर्ज, पहली बार 1,200 से अधिक लोगों की मौत

भारत में कोरोना वायरस संक्रमण के कुल मामले 45 लाख के पार हो गए हैं और मरने वालों की संख्या बढ़कर 76,271 हो गई है. वहीं विश्व में संक्रमण 2.82 करोड़ से ज़्यादा मामले सामने आ चुके हैं और 9.1 लाख से अधिक लोगों की मौत हुई है.

A health worker in personal protective equipment (PPE) collects a sample using a swab from a person at a school which was turned into a centre to conduct tests for the coronavirus disease (COVID-19), amidst the spread of the disease, in New Delhi, India, August 6, 2020. REUTERS/Adnan Abidi

(फोटो: रॉयटर्स)

नई दिल्ली: भारत में लगातार दूसरे दिन कोरोना वायरस संक्रमण के नए मामलों और मरने वालों की संख्या में रिकॉर्ड बढ़ोतरी दर्ज की गई है.

एक दिन में कोविड-19 के रिकॉर्ड 96,551 नए मामले सामने आने के बाद देश में संक्रमण के मामले बढ़कर शुक्रवार को 45 लाख का आंकड़ा पार कर 4,562,414 हो गए हैं. दूसरी ओर पहली बार एक दिन में 1,209 लोगों की मौत इस महामारी हुई है, जिसके बाद मृतक संख्या बढ़कर 76,271 हो गई.

एक दिन पहले बृहस्पतिवार को बीते 24 घंटे में सर्वाधिक 95,735 नए मामले सामने आए थे और रिकॉर्ड 1,172 लोगों की मौत हुई थी.

आंकड़ों के विश्लेषण से पता चलता है कि दो सितंबर से यह लगातार नौवां दिन है, जब 24 घंटे में मरने वालों की संख्या एक हजार से अधिक रही है. और आठ सितंबर से लगातार चौथा दिन है, जब 1,100 से अधिक लोगों की मौत हुई है.

अब एक दिन या 24 घंटे के दौरान मरने वालों संख्या की बात करें तो बीते 10 सितंबर को 1,172 लोगों की मौत हुई थी, जो अब तक का सर्वाधिक आंकड़ा था. नौ सितंबर को 1,115 और आठ सितंबर को 1,133, सात सितंबर को 1,016, छह सितंबर को 1,065, पांच अगस्त को 1,089, चार सितंबर को 1,096 लोगों की मौत हुई.

तीन सितंबर को 1,043, दो सितंबर को 1,045, एक सितंबर को 819, 31 अगस्त को 971, 30 अगस्त को 948, 29 अगस्त को 1,021, 28 अगस्त को 1,057, 27 अगस्त को 1,023, 26 अगस्त को 1,059, 25 अगस्त को 848, 24 अगस्त को 836, 23 अगस्त को 912, 22 अगस्त को 945, 21 अगस्त को 983, 20 अगस्त को 977 और 19 अगस्त को 1,092 मामले सामने आए थे.

18 अगस्त को 876, 17 अगस्त को 941, 16 अगस्त को 944, 15 अगस्त को 996, 14 अगस्त को 1,007, 13 अगस्त को 942, 12 अगस्त को 834, 11 अगस्त को 871, 10 अगस्त को 1,007 लोगों की मौत हुई थी.

24 जुलाई से नौ अगस्त के बीच एक दिन या 24 घंटे में मौत का आंकड़ा 700 से लेकर 933 (आठ अगस्त का आंकड़ा) के बीच रहा है. एक जुलाई से 23 जुलाई के बीच यह आंकड़ा 507 से 1,129 के बीच रहा.

11 जून से 30 जून के बीच मरने वालों की संख्या 300 से 500 के अंदर रही है. 22 जून को एक दिन में मरने वालों की संख्या पहली बार 400 से अधिक रही थी. और 11 जून को पहली बार मरने वालों की संख्या 300 के आंकड़े को पार कर गई थी.

बीते 24 घंटे या एक दिन में संक्रमण के नए मामलों की बात करें तो बीते 10 सितंबर को 95,735 नए मामले सामने आए थे, जो अब तक का सर्वाधिक आंकड़ा था. नौ सितंबर को 89,706, आठ सितंबर को 75,809 और सात सितंबर को 90,802 नए मामले दर्ज किए गए थे.

इसके अलावा छह सितंबर को 90,632, पांच सितंबर को 86,432, चार सितंबर को 83,341, तीन सितंबर को 83,883, दो सितंबर को 78,357, एक सितंबर को 69,921, 31 अगस्त को 78,512 और 30 अगस्त को 78,761, 29 अगस्त को 76,472 नए मामले सामने आए थे.

28 अगस्त को पहली बार संक्रमण के नए मामलों की संख्या 70 हजार (75,760) के पार हुई थी. सात अगस्त को पहली बार नए मामलों की संख्या 60 हजार (62,538) के पार हुई थी. 30 जुलाई को पहली बार 50 हजार के पार, 20 जुलाई को यह पहली बार 40 हजार के पार, 16 जुलाई को पहली बार 30 हजार के पार, 10 जुलाई को पहली बार 25 हजार (26,506) के पार, तीन जुलाई को पहली बार 20 हजार के पार, 21 जून को पहली बार 15 हजार के पार और 20 जून को संक्रमण के नए मामलों की संख्या पहली बार 14 हजार के पार हुई थी.

इतना ही नहीं सात अगस्त से यह लगातार 36वां दिन है, जब 60 हजार से अधिक और 30 जुलाई से यह लगातार 44वां दिन है, जब 50,000 से ज्यादा नए मामले सामने आए हैं.

भारत में कोविड-19 मरीजों की संख्या सात अगस्त को 20 लाख को पार कर गई थी, जबकि 23 अगस्त को 30 लाख के पार और पांच सितंबर को 40 लाख के पार पहुंच गई थी.

आंकड़ों के मुताबिक, भारत में कोविड-19 संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 10 लाख से 20 लाख तक पहुंचने में 21 दिनों का समय लगा था, जबकि 20 से 30 लाख की संख्या होने में 16 और दिन लगे. हालांकि 30 लाख से 40 लाख तक पहुंचने में मात्र 13 दिनों का समय लगा है.

देश में ठीक होने की दर 77.65 प्रतिशत, मृत्यु दर 1.67 प्रतिशत

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि शुक्रवार तक 3,542,663 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं. मृत्यु दर गिरकर 1.67 प्रतिशत हो गई और मरीजों के ठीक होने की दर 77.65 प्रतिशत है.

एक दिन पहले 10 सितंबर को ठीक होने की दर 77.74 प्रतिशत और मृत्यु दर 1.68 प्रतिशत थी.

आंकड़ों के अनुसार, देश में अभी 943,480 लोगों का कोरोना वायरस संक्रमण का इलाज चल रहा है, जो कुल मामलों का 20.68 प्रतिशत है.

भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के अनुसार देश में 10 सितम्बर तक कोविड-19 के लिए 54,097,975 नमूनों की जांच की गई है, जिनमें से 1,163,542 नमूनों की जांच बृहस्पतिवार को ही की गई.

दुनियाभर में मामले 2.82 करोड़ से ज्यादा, 9.1 लाख से अधिक की मौत

अमेरिका की जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार, पूरी दुनिया में कोरोना वायरस संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 28,202,363 हो गए हैं और अब तक 910,140 लोगों की जान जा चुकी है.

दुनियाभर में कोरोना से अमेरिका सबसे अधिक प्रभावित देश है. यहां संक्रमण के अब तक 6,397,547 मामले सामने आए हैं, जबकि मरने वालों की संख्या 191,802 हो चुकी है.

भारत संक्रमण से सर्वाधिक प्रभावित दूसरा देश है. भारत के बाद तीसरे सर्वाधिक प्रभावित देश ब्राजील में संक्रमण के अब तक 4,238,446 मामले मिले हैं और 129,522 लोग दम तोड़ चुके हैं.

ब्राजील के बाद रूस चौथे स्थान पर है, जहां संक्रमण के 1,048,257 मामले मिले हैं और 18,309 लोगों की जान जा चुकी है.

रूस के बाद संक्रमण से पांचवें सर्वाधिक प्रभावित देश पेरू में 710,067 मामले आए हैं, जबकि 30,344 मरीजों की मौत दर्ज की जा चुकी है.

पेरू के बाद छठे सर्वाधिक प्रभावित देश कोलंबिया में संक्रमण के 694,664 मामले हैं और 22,275 लोगों ने जान गंवा दी है. कोलंबिया के बाद सातवें प्रभावित देश मैक्सिको में 652,364 मामले सामने आए हैं और 69,649 मौतें हुई हैं.

संक्रमण से आठवें प्रभावित देश दक्षिण अफ्रीका में 644,438 मामले दर्ज हुए हैं, जबकि 15,265 मौतें हुई हैं. दक्षिण अफ्रीका के बाद संक्रमण से नौवें सर्वाधिक प्रभावित देश स्पेन में 554,143 मामले सामने आए हैं और 29,699 मौतें हुई हैं.

स्पेन के बाद 10वें सर्वाधिक प्रभावित देश अर्जेंटीना में संक्रमण के 524,198 मामले सामने आ चुके हैं, जबकि 10,907 लोगों की यह महामारी जान ले चुकी है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)