दुनिया

कोरोना वायरस: देश में 86 हज़ार से अधिक की मौत, अमेरिका में क़रीब दो लाख लोगों ने जान गंवाई

भारत में कोरोना वायरस संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 5,400,619 हो गई और इस महामारी से जान गंवाने वालों की संख्या 86,752 है. देश में लगातार दूसरे दिन इस बीमारी से उबर चुके लोगों की संख्या संक्रमण के नए मामलों की संख्या से अधिक रही. विश्व में संक्रमण के अब तक 3.07 करोड़ से ज़्यादा मामले आए हैं और 9.57 लाख से अधिक की मौत हो चुकी है.

Sameer, 22, a medical attendant, wears a pair of sunglasses as part of his personal protective equipment (PPE) as he gets ready to transfer COVID-19 patient Parsada Sah, 67, from the emergency ward to the ICU on Thursday, August 13, 2020. When a patient is moved, Sameer hurriedly changes into his plastic overalls. Instead of protective goggles, he uses a pair of cheap sunglasses. He gestures to his overalls. "We only get these once we are moving positive patients from the general ward to a COVID ward." Otherwise, he says, "we are the first people to receive a patient as they enter the gate, but we don't have any protection." REUTERS/Danish Siddiqui

(फोटो: रॉयटर्स)

नई दिल्ली: भारत में रविवार को लगातार दूसरे दिन कोरोना वायरस से उबर चुके लोगों की संख्या संक्रमित पाए गए लोगों की संख्या से अधिक रही.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, बीते 24 घंटे के दौरान 94,612 लोग कोरोना वायरस संक्रमण से उबरे हैं, जिसके बाद रोगियों के ठीक होने की दर 79.68 हो गई है. देश में कोविड-19 से उबर चुके लोगों की कुल संख्या बढ़कर 4,303,043 हो गई है और कोविड-19 संबंधी मृत्यु दर अब 1.61 प्रतिशत है.

आंकड़ों के अनुसार, पिछले 24 घंटे के दौरान 92,605 नए लोग वायरस से संक्रमित पाए गए हैं, जिसके बाद संक्रमण के कुल मामलों की लोगों की कुल संख्या 5,400,619 हो गई.

सुबह आठ बजे तक अपडेट किए गए आंकड़ों के अनुसार, बीते 24 घंटे के दौरान कोविड-19 से 1,133 रोगियों की मौत हुई है, जिसके बाद महामारी से जान गंवाने वालों की संख्या 86,752 हो गई है.

आंकड़ों के विश्लेषण से पता चलता है कि दो सितंबर से यह लगातार 19वां दिन है, जब 24 घंटे में मरने वालों की संख्या एक हजार से अधिक रही है.

देश में अब भी 1,010,824 लोग वायरस से संक्रमित हैं. यह संख्या संक्रमण के कुल मामलों का 18.72 प्रतिशत है.

एक दिन या 24 घंटे के दौरान मरने वालों संख्या की बात करें तो बीते 19 सितंबर को 1,247, 18 सितंबर को 1,174, 17 सितंबर को 1,132, 16 सितंबर को 1,290 लोगों की मौत हुई, जो अब तक की सर्वाधिक संख्या है. 15 सितंबर को 1,054, 14 सितंबर को 1,136, 13 सितंबर को 1,114, 12 सितंबर को 1,201, 11 सितंबर को 1,209, 10 सितंबर को 1,172, नौ सितंबर को 1,115 और आठ सितंबर को 1,133, सात सितंबर को 1,016, छह सितंबर को 1,065, पांच अगस्त को 1,089, चार सितंबर को 1,096 लोगों की मौत हुई.

तीन सितंबर को 1,043, दो सितंबर को 1,045, एक सितंबर को 819, 31 अगस्त को 971, 30 अगस्त को 948, 29 अगस्त को 1,021, 28 अगस्त को 1,057, 27 अगस्त को 1,023, 26 अगस्त को 1,059, 25 अगस्त को 848, 24 अगस्त को 836, 23 अगस्त को 912, 22 अगस्त को 945, 21 अगस्त को 983, 20 अगस्त को 977 और 19 अगस्त को 1,092 मामले सामने आए थे.

18 अगस्त को 876, 17 अगस्त को 941, 16 अगस्त को 944, 15 अगस्त को 996, 14 अगस्त को 1,007, 13 अगस्त को 942, 12 अगस्त को 834, 11 अगस्त को 871, 10 अगस्त को 1,007 लोगों की मौत हुई थी.

24 जुलाई से नौ अगस्त के बीच एक दिन या 24 घंटे में मौत का आंकड़ा 700 से लेकर 933 (आठ अगस्त का आंकड़ा) के बीच रहा है. एक जुलाई से 23 जुलाई के बीच यह आंकड़ा 507 से 1,129 के बीच रहा.

11 जून से 30 जून के बीच मरने वालों की संख्या 300 से 500 के अंदर रही है. 22 जून को एक दिन में मरने वालों की संख्या पहली बार 400 से अधिक रही थी. और 11 जून को पहली बार मरने वालों की संख्या 300 के आंकड़े को पार कर गई थी.

बीते 24 घंटे या एक दिन में संक्रमण के नए मामलों की बात करें तो बीते 19 सितंबर को 93,337, 18 सितंबर को 96,424, 17 सितंबर को 97,894 मामले दर्ज किए गए थे, जो अब तक का सर्वाधिक आंकड़ा है. 16 सितंबर को 90,123, 15 सितंबर को 83,809, 14 सितंबर को 92,071, 13 सितंबर को 94,372, 12 सितंबर को 97,570, 11 सितंबर को 96,551, 10 सितंबर को 95,735, नौ सितंबर को 89,706, आठ सितंबर को 75,809 और सात सितंबर को 90,802 नए मामले दर्ज किए गए थे.

छह सितंबर को संक्रमण के नए मामले पहली बार 90 हजार (90,632) के पार हो गए थे. 28 अगस्त को पहली बार 70 हजार (75,760) के पार, सात अगस्त को पहली बार 60 हजार (62,538) के पार, 30 जुलाई को पहली बार 50 हजार के पार, 20 जुलाई को यह पहली बार 40 हजार के पार, 16 जुलाई को पहली बार 30 हजार के पार, 10 जुलाई को पहली बार 25 हजार (26,506) के पार, तीन जुलाई को पहली बार 20 हजार के पार, 21 जून को पहली बार 15 हजार के पार और 20 जून को संक्रमण के नए मामलों की संख्या पहली बार 14 हजार के पार हुई थी.

भारत में कोविड-19 मरीजों की संख्या सात अगस्त को 20 लाख को पार कर गई थी, जबकि 23 अगस्त को 30 लाख के पार और पांच सितंबर को 40 लाख के पार पहुंच गई थी. 16 सितंबर को यह आंकड़ा 50 लाख के पार चला गया.

आंकड़ों के मुताबिक, भारत में कोविड-19 संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 10 लाख से 20 लाख तक पहुंचने में 21 दिनों का समय लगा था, जबकि 20 से 30 लाख की संख्या होने में 16 और दिन लगे. हालांकि 30 लाख से 40 लाख तक पहुंचने में मात्र 13 दिनों का समय लगा है. वहीं, 40 लाख के बाद 50 लाख की संख्या को पार करने में केवल 11 दिन लगे.

देश में 110 दिन में कोविड-19 के मामले एक लाख हुए थे और 59 दिनों में वह 10 लाख के पार चले गए थे.

भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के अनुसार 19 सितंबर तक 63,661,060 नमूनों की जांच की जा चुकी है. शनिवार को 1,206,806 नमूनों की जांच की गई.

महाराष्ट्र में सर्वाधिक मौतें

स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, बीते 24 घंटे में 1,133 रोगियों की मौत हुई है. इनमें महाराष्ट्र में 425, कर्नाटक में 114, उत्तर प्रदेश में 84, तमिलनाडु में 66, आंध्र प्रदेश में 58, पश्चिम बंगाल में 56, पंजाब में 49, मध्य प्रदेश में 42 और दिल्ली में 38 लोगों की जान चली गई.

देशभर में कोविड-19 से अब तक 86,752 लोगों की मौत हो चुकी है. सबसे अधिक 32,216 मौत महाराष्ट्र में हुई हैं.

इसके अलावा तमिलनाडु में 8,751, कर्नाटक में 7,922, आंध्र प्रदेश में 5,302, उत्तर प्रदेश में 4,953, दिल्ली में 4,945, पश्चिम बंगाल में 4,298, गुजरात में 3,302, पंजाब में 2,757 और मध्य प्रदेश में 1,943 रोगियों की मौत हुई है.

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि 70 प्रतिशत से अधिक लोगों की मौत पहले से मौजूद अन्य बीमारियों के चलते हुई है.

दुनियाभर में मामले 3.07 करोड़ से ज़्यादा, 9.57 लाख से अधिक की मौत

अमेरिका की जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार, पूरी दुनिया में कोरोना वायरस संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 30,784,671 हो गए हैं और अब तक 957,059 लोगों की जान जा चुकी है.

दुनियाभर में कोरोना से अमेरिका सबसे अधिक प्रभावित देश है. यहां संक्रमण के अब तक 6,765,435 मामले सामने आए हैं, जबकि मरने वालों की संख्या 199,265 हो चुकी है.

भारत संक्रमण से सर्वाधिक प्रभावित दूसरा देश है. भारत के बाद तीसरे सर्वाधिक प्रभावित देश ब्राजील में संक्रमण के अब तक 4,528,240 मामले मिले हैं और 136,532 लोग दम तोड़ चुके हैं.

ब्राजील के बाद रूस चौथे स्थान पर है, जहां संक्रमण के 1,092,915 मामले (शनिवार तक) मिले हैं और 19,270 लोगों की जान जा चुकी है.

रूस के बाद पेरू को पीछे करते हुए कोलंबिया संक्रमण से सर्वाधिक प्रभावित पांचवां देश बन गया है. यहां 758,398 मामले आए हैं, जबकि 24,039 मरीजों की मौत दर्ज की जा चुकी है.

कोलंबिया के बाद छठे सर्वाधिक प्रभावित देश पेरू में संक्रमण के 756,412 मामले हैं और 31,283 लोगों ने जान गंवा दी है. पेरू के बाद सातवें प्रभावित देश मैक्सिको में 694,121 मामले सामने आए हैं और 73,258 मौतें हुई हैं.

संक्रमण से आठवें प्रभावित देश दक्षिण अफ्रीका में 657,627 मामले दर्ज हुए हैं, जबकि 15,857 मौतें हुई हैं. दक्षिण अफ्रीका के बाद संक्रमण से नौवें सर्वाधिक प्रभावित देश स्पेन में 640,040 मामले (शनिवार तक) सामने आए हैं और 30,495 मौतें हुई हैं.

स्पेन के बाद 10वें सर्वाधिक प्रभावित देश अर्जेंटीना में संक्रमण के 622,934 मामले सामने आ चुके हैं, जबकि 12,799 लोगों की यह महामारी जान ले चुकी है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)