राजनीति

यूपीः कुलदीप सेंगर और चिन्मयानंद के पोस्टर लगाने पर सपा नेता के ख़िलाफ़ मामला दर्ज

इलाहाबाद में समाजवादी युवजन सभा के नेता ने कई जगहों पर भाजपा के पूर्व और मौजूदा नेताओं चिन्मयानंद, कुलदीप सिंह सेंगर और श्याम कृष्ण द्विवेदी के पोस्टर्स लगाए हैं. सपा नेता का कहना है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बलात्कारियों के पोस्टर्स शहरों में लगाने की बात कही थी, इसलिए उन्होंने ऐसा किया.

इलाहाबाद के सुभाष चौराहे पर लगा भाजपा नेताओं की तस्वीर वाला एक पोस्टर (फोटो साभार: ट्विटर/@sandeep_A2Y)

इलाहाबाद के सुभाष चौराहे पर लगा भाजपा नेताओं की तस्वीर वाला एक पोस्टर (फोटो साभार: ट्विटर/@sandeep_A2Y)

उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद में कई स्थानों पर भाजपा के कुछ पूर्व और मौजूदा नेताओं की तस्वीर वाले पोस्टर लगाने के पर इलाहाबाद पुलिस ने समाजवादी पार्टी के एक युवा नेता और पार्टी के दो-तीन अज्ञात कार्यकर्ताओं के खिलाफ मामला दर्ज किया है.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, ये पोस्टर्स भाजपा के चिन्मयानंद, कुलदीप सिंह सेंगर और श्याम कृष्ण द्विवेदी के हैं, जिनमें इनकी तस्वीर भी लगी हैं.

गौरतलब है कि भाजपा से निष्कासित किए गए सेंगर को उन्नाव बलात्कार मामले में आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई है और पूर्व केंद्रीय मंत्री चिन्मयानंद यौन उत्पीड़न के मामले में आरोपी हैं.

वहीं, स्थानीय भाजपा नेता द्विवेदी भी इलाहाबाद में एक बलात्कार मामले में आरोपी हैं. शहर में लगे इन पोस्टरों में कहा गया है, ‘सत्ता संरक्षण प्राप्त इन दुराचारियों के पोस्टर आख़िर कब लगवायेगी सरकार?’

इस संबंध में समाजवादी युवजन सभा के नेता संदीप यादव और दो-तीन अज्ञात लोगों के खिलाफ एक मामला जॉर्ज टाउन और दूसरा सिविल लाइंस थाने में दर्ज किया गया है.

ज्ञात हो कि समाजवादी युवजन सभा समाजवादी पार्टी का आनुषंगिक संगठन है.

एक अधिकारी ने बताया, ‘पुलिस की शिकायत के आधार पर मामला दर्ज किया गया है. उन पर आईपीसी की 501, 503 और 505 धाराएं लगाई गई हैं. उन पर प्रेस और पंजीकरण अधिनियम के तहत भी मामला दर्ज किया गया है क्योंकि पोस्टर्स और बैनर्स पर प्रिंटर्स का नाम नहीं था. इन्हीं आरोपियों के खिलाफ सिविल लाइंस पुलिस थाने में भी समान धाराओं में मामला दर्ज किया गया है.’

पुलिस अधिकारी ने कहा, ‘दो पुलिस थानों के अधिकार क्षेत्र के तहत विभिन्न स्थानों पर पोस्टर्स लगाए हैं इसलिए उनके खिलाफ दो मामले दर्ज किए गए हैं.’

समाजवादी पार्टी के जिला प्रमुख कृष्णमूर्ति यादव ने बताया कि संदीप यादव समाजवादी युवजन सभा की जिला इकाई के प्रमुख हैं.

संदीप का कहना है कि उन्होंने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आदेश के बाद पोस्टर्स लगाए हैं. संदीप ने कहा, ‘मुख्यमंत्री ने कहा था कि बलात्कारियों के पोस्टर्स पूरे शहरों में लगाए जाने चाहिए इसलिए मैंने सोचा कि भाजपा के बलात्कार आरोपियों के पोस्टर लगाने चाहिए.’

बता दें कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बीते गुरुवार को राज्य के गृह मंत्रालय और पुलिस विभाग के अधिकारियों को महिला अपराधों को देखते हुए आरोपियों की तस्वीरें चौक-चौराहों पर सार्वजनिक करने के निर्देश दिए थे.

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता राजेंद्र चौधरी ने कहा कि उन्हें पोस्टर्स के बारे में नहीं पता था.

उन्होंने कहा, ‘उन्होंने हमारे कई कार्यकर्ताओं को फंसाया है. वे हमेशा हमारे नेताओं और कार्यकर्ताओं को झूठे मामलों में फंसाने के लिए बहाना ढूंढते हैं.’