राजनीति

बिहार के मंत्री विनोद कुमार सिंह का कोविड-19 के बाद हुईं समस्याओं के कारण निधन

विनोद कुमार सिंह बिहार के कटिहार ज़िले के प्राणपुर से भाजपा विधायक और पिछड़ा वर्ग एवं अतिपिछड़ा वर्ग कल्याण मंत्री थे. बीते 28 जून को वे कोरोना वायरस से संक्रमित हुए थे. इससे ठीक होने के बाद उनकी तबियत फिर ख़राब हो गई थी.

 भाजपा विधायक और मंत्री विनोद कुमार सिंह. (फोटो: @BinodGovt ट्विटर)

भाजपा विधायक और मंत्री विनोद कुमार सिंह. (फोटो: @BinodGovt ट्विटर)

पटना: बिहार के पिछड़ा वर्ग एवं अति पिछड़ा वर्ग कल्याण मंत्री विनोद कुमार सिंह का कोविड-19 से उबरने के बाद की समस्याओं की वजह से सोमवार को नई दिल्ली स्थित एक अस्पताल में निधन हो गया.

बिहार के कटिहार जिला के प्राणपुर से भाजपा विधायक रहे 55 वर्षीय सिंह के परिवार में दो पुत्री और पत्नी है.

कटिहार जिले के प्राणपुर से भाजपा विधायक सिंह के 28 जून को कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई थी. बाद में वह इससे उबर गए थे. हालांकि उनकी तबियत फिर खराब हो गई थी और उन्हें दिल्ली में एक अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां उन्होंने अंतिम सांस ली.

राज्यपाल फागू चौहान ने विनोद कुमार सिंह के असामयिक निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है.

राज्यपाल ने अपने शोक संदेश में कहा कि दिवंगत विनोद एक कुशल प्रशासक, संवेदनशील राजनेता एवं समर्पित समाजसेवी थे. उन्होंने अपनी कर्तव्यपरायणता, ईमानदारी और जनसेवा के बल पर आम जनता में काफी लोकप्रियता अर्जित की. उनके निधन से सामाजिक-राजनीतिक जगत को अपूरणीय क्षति हुई है.

चौहान ने दिवंगत मंत्री की आत्मा की शांति तथा उनके शोक-संतप्त परिजनों-प्रशंसकों को धैर्य-धारण की क्षमता प्रदान करने के लिए ईश्वर से प्रार्थना की है.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने विनोद कुमार सिंह के असामयिक निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है.

उन्होंने अपने शोक संदेश में कहा कि विनोद जमीन से जुडे़ राजनेता थे. वे मंत्रिमंडल में मेरे सहयोगी थे. वे एक कुशल प्रशासक एवं लोकप्रिय राजनेता थे. उनके असामयिक निधन से मुझे व्यक्तिगत रूप से दुख पहुंचा है. उनके निधन से राजनीतिक एवं सामाजिक क्षेत्र में अपूरणीय क्षति हुई है.

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड काल के लिए वर्तमान में लागू दिशा-निर्देश के तहत राजकीय सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा.

बिहार के राष्ट्रपति कोविंद ने एक ट्वीट में कहा, ‘बिहार सरकार में कैबिनेट मंत्री विनोद कुमार सिंह के निधन से अत्यंत दुख हुआ. वह एक लोकप्रिय जनप्रतिनिधि थे और बिहार के विकास तथा लोगों की भलाई के लिए संघर्ष करते रहे. उनके परिवार व सहयोगियों के प्रति मेरी शोक-संवेदना.’

उप-मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने मंत्री विनोद सिंह के असामयिक निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है.

उन्होंने दिवंगत विनोद के परिजनों के प्रति आत्मिक संवेदना व्यक्त करते हुए उनके तमाम शुभचिंतकों एवं समर्थकों को दुख की इस घड़ी में धैर्य व दिवंगत आत्मा को शांति प्रदान करने की ईश्वर से प्रार्थना की है.

बिहार विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी ने विनोद कुमार सिंह के निधन पर गहरी संवेदना प्रकट करते हुए कहा कि उनके निधन से प्रदेश के राजनीतिक जगत को अपूरणीय क्षति हुई है .

बिहार विधान परिषद् के कार्यकारी सभापति अवधेश नारायण सिंह ने दिवंगत मंत्री के निधन पर दुख व्यक्त करते हुए कहा कि विनोद बाबू के निधन से प्रदेश को अपूरणीय क्षति हुई है. उनकी गिनती बिहार भाजपा के कद्दावर नेताओं के रूप में होती थी. उनकी कमी को निकट भविष्य में पूरी नहीं की जा सकती.

उन्होंने कहा कि ईश्वर उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें तथा शोकग्रस्त परिवार को धैर्य एवं दुख सहने की शक्ति प्रदान करें.

बिहार में सत्ताधारी राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) में शामिल हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने राज्य के मंत्री विनोद कुमार सिंह के आकस्मिक निधन पर गहरी संवेदना व्यक्त की है.

मांझी ने कहा वह सरल स्वभाव के एक अच्छे इंसान, सामाजिक कार्यकर्ता के साथ-साथ अच्छे राजनेता थे.